होम /न्यूज /राष्ट्र /अमरावती हत्याकांड में PFI की एंट्री! एनआईए को शक- हत्या के आरोपी को मिले थे इस्लामी संस्था से पैसे

अमरावती हत्याकांड में PFI की एंट्री! एनआईए को शक- हत्या के आरोपी को मिले थे इस्लामी संस्था से पैसे

उमेश कोल्हे की हत्या के आरोप में पुलिस 7 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. (फोटो ANI, सोशल मीडिया)

उमेश कोल्हे की हत्या के आरोप में पुलिस 7 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. (फोटो ANI, सोशल मीडिया)

PFI entry in Amravati murder case: अमरावती केस में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की एंट्री हो गई है. रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट् ...अधिक पढ़ें

मुंबई. अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या में नया मोड़ आ गया है. राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी को शक है कि उमेश कोल्हे की हत्या के आरोपी इरफान को पैसे कट्टर इस्लामी संस्था पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने दिए हैं. मामले की तह तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है. इसके लिए अमरावती के पीएफआई के चीफ सोहैल से पूछताछ की जा रही है. एनआईए की टीम फिलहाल सोहेल से अभी लगातार पूछताछ कर रही है. एनआईए सोहेल से पैसे के लेनदेन के बारे पूछताछ कर रही है.

इरफान लगातार सोहेल के साथ संपर्क में था
जांच में पता चला है कि आरोपी इरफान लगातार सोहेल के साथ संपर्क में था. एनआईए को शक है इरफान को पैसे शायद पीएएफआई के लोगों ने दिए थे. ये पैसे हत्या में शामिल लोगों को दिए गए होंगे. जांच एजेंसी की टीम अमरावती पीएफआई के प्रमुख सोहेल से लगातार पूछताछ कर रही है.

क्या है मामला
अमरावती में 21 जून की रात को दुकान से घर लौटते वक्त उमेश कोल्हे की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. उमेश कोल्हे 21 जून की रात को अपनी दवा की दूकान बंद कर घर लौट रहे थे. उनके साथ उनकी पत्नी भी साथ थीं. तभी बाइक सवार दो व्यक्ति पीछे से आए और उनकी गला रेत कर हत्या कर दी. इरफान इस हत्याकांड में मुख्य आरोपी है. इसके अलावा 6 अन्य लोग आरोपी है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उमेश कोल्हे ने नूपुर शर्मा के समर्थन में कुछ पोस्ट किया था. माना जा रहा है कि इसी पोस्ट के कारण उनकी हत्या कर दी गई. उदयपुर में हुई हत्या की घटना से समानता को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस हत्याकांड की जांच एनआईए को सौंप दी है.

Tags: Amravati Violence, Maharashtra, NIA, Nupur Sharma

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें