• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • नॉर्थ पोल पारकर भारत आने वाली एअर इंडिया की महिला पायलटों ने कहा- वो उड़ान किसी अजूबे से कम नहीं

नॉर्थ पोल पारकर भारत आने वाली एअर इंडिया की महिला पायलटों ने कहा- वो उड़ान किसी अजूबे से कम नहीं

ज़ोया अग्रवाल, फ्लाइट की पायलट

अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को से दक्षिण भारतीय शहर बेंगलुरु (San Francisco to Bengaluru Direct Flight) आई एअर इंडिया की पहली डायरेक्ट फ्लाइट की पायलट ने बताया कि विमान में सवार पैसेंजर इतने उत्साहित थे कि एयर होस्टेस से बार-बार एक ही सवाल कर रहे थे कि कितनी देर बाद हम नॉर्थ पोल पहुंचेंगे.

  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को से दक्षिण भारतीय शहर बेंगलुरु (San Francisco to Bengaluru Direct Flight) आई एअर इंडिया की पहली डायरेक्ट फ्लाइट की महिला पायलटों ने नॉर्थ पोल (North Pole) के रास्ते भारत पहुंचने के बाद रोंगटे खड़े कर देने वाले अपने अनुभव साझा किए हैं. उन्होंने बताया कि नार्थ पोल पर जेट ब्लैक अंधेरा था, लेकिन तारों की चमक बहुत तेज थी, जिससे आंखें तक चौंधियां गईं. ऐसे तारे यहां कभी नही दिखते हैं. इसके साथ ही सबसे आश्चर्यजनक वहां की पोलर लाइट थी, जो चटक हरे रंग की एक रेखा थी, वो लाइट किसी अजूबे से कम नहीं दिख रही थी.

पायलट टीम की लीडर जोया अग्रवाल और पापागिरी थानमेई ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में अनुभव शेयर किए. उन्होंने बताया कि जैसे ही नॉर्थ पोल को पार किया, तभी 30 हज़ार फीट पर उड़ रही फ्लाइट 5 मिनट तक तालियों की गड़गड़ाहट से गूंजती रही. सभी पैसेंजर्स और क्रू मेंबर ने एक दूसरे को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने बताया कि यह अब तक की पहली ऐसी फ्लाइट थी, जिसमें 7 बार नॉर्थ पोल को लेकर अनाउंसमेंट किया गया. विमान उड़ने से पहले सभी पैसेंजर्स को बताया गया कि उनका यह सफर क्यों खास है, इसके बाद नॉर्थपोल में इंटर करते, नॉर्थ पोल के अंदर, जहां-जहां से नॉर्थ से साउथ होते हैं, इस तरह 7 बार अनाउंसमेंट किया गया.

फ्लाइट में जश्न का माहौल
उन्होंने बताया कि सबसे उत्साहजनक क्षण वो था, जब नॉर्थ पोल से साउथ की ओर फ्लाइट जा रही थी, उस समय पूरी फ्लाइट में जश्न का माहौल बन गया. सभी पैसेंजर इस क्षण को अपने मोबाइल से कैद करना चाह रहे थे. क्रू मेंबर भी इसे लेकर बहुत उत्साहित थे, वो भी अपनी निगाह उपकरणों पर लगाए थे. उन्होंने बताया कि फ्लाइट में सवार पैसेंजर्स इतने उत्साहित थे कि एयर होस्टेस से बार-बार एक ही सवाल कर रहे थे कि कितनी देर बाद हम नॉर्थ पोल पहुंचेंगे.



डेढ़ साल से कर रहे थे तैयारी
पायलट ने बताया कि इसके लिए वो पिछले डेढ़ साल से तैयारी कर रहे थे. अगर मौसम साथ ना देता तो यह सफर ना हो पाता. जब सुबह फ्लाइट के लिए तैयार हो रहे थे, जब यह जानकर बहुत खुशी हुई कि मौसम बिल्कुल अनुकूल है और हम नॉर्थ पोल पार कर सकते हैं. यह सुनकर हम सभी महिला पायलटों ने एक-दूसरे को शुभकामनाएं दी. उन्होंने बताया कि पैसेंजर्स इतने खुश थे कि फ्लाइट में पैसेंजरों को दिए जाने वाले फीडबैक फॉर्म कम पड़ गए. उन्होंने एयर होस्टेस से टिश्यू पेपर मांगकर क्रू मेंबर्स को बधाइयां दी और उनकी तारीफ कीं. फ्लाइट लैंड करने के बाद सभी पैसेंजर क्रू मेंबर साथ सेल्फी लेना चाह रहे थे.

ये भी पढ़ें:- Twitter ने 70 हज़ार ट्रंप समर्थकों के अकाउंट बंद किए, सभी थे QAnon समर्थक

कई चुनौतियों का किया सामना
उन्होंने बताया कि इस फ्लाइट में चैलेंज कम नहीं थे, क्योंकि नॉर्थ पोल में बीच में कई बार ऐसा क्षेत्र आता है, जहां खराब मौसम से कम्युनिकेशन खत्म होने की आशंका भी रहती है. इसके अलावा हम लोग इसके लिए भी तैयार थे कि अगर इमरजेंसी में फ्लाइट डायवर्ट करना पड़े तो कहां करेंगे, क्योंकि नार्थ में एयरपोर्ट कम हैं, चूंकि ईयर इंडिया का विमान बड़ा था, सभी एयरपोर्ट में लैंड नही कर सकते थे. लेकिन इस फ्लाइट के दौरान मौसम ने साथ दिया और ऐतिहासिक सफर पूरा किया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज