ईरान में बंधक भारतीयों को छुड़ाने के लिए पिनरई विजयन ने शाह को लिखा खत

ब्रिटिश टैंकर पर मौजूद भारतीय क्रू मेंबरों की सुरक्षा और रिहाई के लिए विदेश मंत्रालय ईरान के संपर्क में है.

News18Hindi
Updated: July 21, 2019, 11:10 PM IST
ईरान में बंधक भारतीयों को छुड़ाने के लिए पिनरई विजयन ने शाह को लिखा खत
केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को खत लिखा है.
News18Hindi
Updated: July 21, 2019, 11:10 PM IST
ईरान के रेवॉल्यूशनरी गार्ड्स ने होरमुज की खाड़ी में ब्रिटिश तेल टैंकर 'स्टेनो इमपीरो' को जब्त किया है. इससे कई क्रू मेंबर्स को भी गिरफ्तार किया है. उसमें कुल 23 में से 18 क्रू मेंबर भारतीय हैं इनमें से 4 केरल के नागरिक हैं. इसको लेकर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को खत लिखा है.

पत्र में उन्होंने विदेश मंत्री से आग्रह किया कि उन्हें वापस लाने और उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए हर तरह की कोशिश की जाए. उन्होंने टैंकर पर तैनात क्रू मेंबरों की पूरी जानकारी देने की मांग करते हुए कहा है इससे उनके परिजनों से संपर्क किया जा सकेगा.

ईरान ने होरमुज की खाड़ी में दो तेल टैंकरों को अपने कब्जे में ले लिया था. इन टैंकरों में एक ब्रिटिश और दूसरा लाइबेरिया का बताया गया है. ब्रिटिश टैंकर पर मौजूद भारतीय क्रू मेंबरों की सुरक्षा और रिहाई के लिए विदेश मंत्रालय ईरान के संपर्क में है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि भारतीय उच्चायोग ईरान की सरकार के संपर्क में है. उन्होंने कहा कि सभी भारतीयों की जल्द स्वदेश वापस लाने के प्रयास किए जा रहे हैं.

इस संदर्भ में ब्रिटेन के विदेश मंत्रालय ने आपात बैठक की थी. ब्रिटेन ने फिलहाल के लिए होरमुज की खाड़ी क्षेत्र में अपने टैंकर और पोत के जाने पर रोक लगा दी थी. इस मुद्दे पर अमेरिका ने खाड़ी में सुरक्षा के लिए फौज़ तैनात करने की घोषणा की थी. पिछले कुछ दिनों से अमेरिका और ईरान के बीच तनातनी की स्थिति चल रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 21, 2019, 10:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...