• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • PINARAYI VIJAYAN WRITES TO PM MODI ASKS FOR MORE OXYGEN VACCINES AMID COVID 19 SPIKE

बढ़ते कोरोना मामलों के बीच CM विजयन का PM मोदी को पत्र, की ऑक्सीजन और वैक्सीन भेजने की मांग

मुख्‍यमंत्री पिनारई विजयन ने पीएम मोदी को पत्र लिखा है. (Pic- ANI)

Pinarayi Vijayan Letter to PM Narendra Modi: केरल में बुधवार को ही कोरोना वायरस के अब तक के सबसे अधिक केस सामने आए हैं. राज्य में बुधवार को 41,935 मामले सामने आए हैं. वहीं राज्य में 58 लोगों की मौत हुई है.

  • Share this:
    तिरुवनंतपुरम. लगातार तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों (Coronavirus Cases) के मद्देनजर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (CM Pinarayi Vijayan) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखकर ऑक्सीजन सिलेंडर और वैक्सीन की मांग की है. मुख्यमंत्री विजयन ने बुधवार को लिखे अपने इस पत्र में पीएम मोदी से कहा कि राज्य में मेडिकल ऑक्सीजन भंडारण को तत्काल बढ़ाया जाना चाहिए क्योंकि जीवनरक्षक गैस की मांग बढ़ रही है. विजयन ने कहा, “भंडारण बढ़ाने के लिए हमें 1000 टन आयातित तरल मेडिकल ऑक्सीजन की आवश्यकता है. विदेश मंत्रालय को सलाह दी जा सकती है कि आयात की वर्तमान किश्त से आंशिक रूप से आवश्यक मात्रा आवंटित करें और भविष्य के आयात से संतुलन प्राप्त करें."

    विजयन ने इसके साथ ही बढ़ते मामलों को देखते हुए प्राथमिकता के आधार पर प्रधानमंत्री से ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर्स, वेंटिलेटर्स और अन्य उपकरण मुहैया कराने की भी मांग की है. बता दें केरल में बुधवार को ही कोरोना वायरस के अब तक के सबसे अधिक केस सामने आए हैं. राज्य में बुधवार को 41,935 मामले सामने आए हैं. वहीं राज्य में 58 लोगों की मौत हुई है. वर्तमान में केरल में 3 लाख 75 हजार 658 एक्टिव मामले हैं. वहीं अब तक कोविड से जान गंवाने वालों की संख्या 5,565 तक पहुंच गई है. राज्य में पॉजिटिविटी रेट 25.69 प्रतिशत पहुंच गया है.



    ये भी पढ़ें- कर्नाटक में भी दिल्‍ली जैसे हालात, बढ़ रहे कोरोना मामलों के बीच गहराया ऑक्‍सीजन संकट

    बता दें कोरोना वायरस के मामलों के हिसाब से केरल महाराष्ट्र और कर्नाटक के बाद तीसरे स्थान पर है.

    केरल में नहीं हुई वैक्सीन की बर्बादी
    केरल में अब तक 74 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. जो कि राज्य की 3.25 करोड़ जनसंख्या का 20 प्रतिशत है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने हाल ही में राज्य में वैक्सीन की जीरो वेस्टेज को लेकर तारीफ भी की थी वहीं कुछ राज्यों में वैक्सीन वेस्टेज 5-18 प्रतिशत है. विजयन ने प्रधानमंत्री ने और टीके भेजने का भी अनुरोध किया है. केरल के मुख्यमंत्री ने कोविशील्ड की 50 लाख खुराकें और कोवैक्सीन की 25 लाख खुराकें भेजने का अनुरोध किया है.

    ये भी पढ़ें- COVID-19: एस जयशंकर ने माना, भारत की स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है

    वर्तमान में केरल में 272.2 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन और 8.97 मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन का स्टॉक उपलब्ध है. वर्तमान में केरल को प्रतिदिन के हिसाब के 108 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है.