• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पीयूष गोयल ने की किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील, कहा-बातचीत के लिए तैयार हैं

पीयूष गोयल ने की किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील, कहा-बातचीत के लिए तैयार हैं

पीयूष गोयल का कहना है कि किसानों को गुमराह नहीं होना चाहिए बल्कि यह समझना चाहिए कि जो तीनों कानून आए हैं वह उनके हित में है.

Farmer Protest: केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि हमने किसानों को यह भी विकल्प दिया है कि अगर वे चाहे तो कानून को डेढ़ वर्ष के लिए स्थगित किया जा सकता है. पीयूष गोयल ने किसानों को भ्रमित और किसी बहकावे में आकर गुमराह ना होने की भी सलाह दी.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे किसानों से अपना आंदोलन खत्म करने की अपील की. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का कहना है कि किसानों के साथ सरकार की 11 दौर की वार्ता हो चुकी है और अगले दौर की वार्ता के लिए सरकार का दरवाजा हमेशा खुला हुआ है. पीयूष गोयल का कहना है कि किसानों को गुमराह नहीं होना चाहिए बल्कि यह समझना चाहिए कि जो तीनों कानून आए हैं वह उनके हित में हैं. पीयूष गोयल ने न्यूज18 इंडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि अगर उन्हें लगता है कि किसानों के लिए बने कानूनों में कोई संशोधन की जरूरत है तो वह उसके लिए सरकार से चर्चा करें और सरकार इस पर खुले मन से चर्चा करने के लिए तैयार है.

केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि हमने किसानों को यह भी विकल्प दिया है कि अगर वे चाहे तो कानून को डेढ़ वर्ष के लिए स्थगित किया जा सकता है. पीयूष गोयल ने किसानों को भ्रमित और किसी बहकावे में आकर के गुमराह ना होने की भी सलाह दी. केंद्रीय मंत्री मौजूदा वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में अब तक का सबसे अधिक एक्सपोर्ट करने की सरकार की उपलब्धि को गिनाते हुए कहा कि इसमें कृषि उत्पाद मसाले खाद्य तेल और चावल का बड़ा योगदान है.

इसके साथ ही सरकार किसानों की आय दोगुनी करने की बात लगातार करती रही है. साथ ही विभिन्न मौकों पर केंद्र सरकार यह दावा करती रहती है कि किसानों के खेत में काफी काम किया है. केंद्र सरकार ने कहा था कि अप्रैल में शुरू हुए मौजूदा में अब तक रिकॉर्ड 418.47 लाख टन गेहूं खरीदा है, जिस पर 82 हजार 648 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. इसके साथ ही साथ उर्वरक सब्सिडी बढ़ाने का भी दावा केंद्र सरकार ने किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज