लाइव टीवी

इलेक्टोरल बॉन्ड विवाद: BJP का जवाब- कुछ हारे हुए नेता राजनीति में साफ़ पैसा नहीं चाहते

News18Hindi
Updated: November 21, 2019, 9:57 PM IST
इलेक्टोरल बॉन्ड विवाद: BJP का जवाब- कुछ हारे हुए नेता राजनीति में साफ़ पैसा नहीं चाहते
पीयूष गोयल ने दावा किया कि बीजेपी अकेली पार्टी है जो चुनावी राजनीति में काले धन के इस्तेमाल के खिलाफ लड़ रही है.

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कहा, हम इलेक्टोरल बॉन्ड (Electoral Bond) इसलिए लाए ताकि चुनावी राजनीति में ईमानदार पैसे का इस्तेमाल हो. जो लोग इलेक्टोरल बॉन्ड के खिलाफ विरोध कर रहे हैं, वे काले धन को बढ़ाना चाहते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2019, 9:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बीजेपी (BJP) ने इलेक्टोरल बॉन्ड (Electoral Bond) पर कांग्रेस (Congress) के आरोपों का करारा जवाब दिया है. गुरुवार को बीजेपी ने कहा, हारे हुए और खारिज कर दिए गए नेताओं का एक समूह नहीं चाहता कि देश की चुनावी राजनीति में साफ सुथरा पैसा आए. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कहा, हम इलेक्टोरल बॉन्ड इसलिए लाए ताकि चुनावी राजनीति में ईमानदार पैसे का इस्तेमाल हो. जो लोग इलेक्टोरल बॉन्ड के खिलाफ विरोध कर रहे हैं, वे काले धन को बढ़ाना चाहते हैं. और चुनाव के दौरान इसका उपयोग करना चाहते हैं. जब हम विपक्ष में थे, उस समय जो हमें चैक से चंदा देता कांग्रेस उसे तंग करती थी.

पीयूष गोयल (Piyush Goyal)  ने कहा, विपक्ष द्वारा जो आरोप लगाए जा रहे हैं, वह आधारहीन हैं. मोदी सरकार पहली सरकार है, जिसने भ्रष्टाचार के खिलाफ कई कदम उठाए हैं. मोदी सरकार ने चुनाव आयोग की सिफारिश पर 2000 से ज्यादा कैश डोनेशन पर रोक लगा दी. गोयल ने कहा, चुनाव आयोग ने करोड़ों रुपए कांग्रेस के नेताओं से जब्त किए हैं. वह भ्रष्ट हैं और कालेधन का उपयोग चुनाव में करना चाहते हैं.


Loading...

पीयूष गोयल ने दावा किया कि बीजेपी अकेली पार्टी है, जो कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है. बता दें कि गुरुवार को कांग्रेस ने लोकसभा और राज्यसभा में सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. कांग्रेस ने मांग की कि सरकार इलेक्टोरल बॉन्ड के बारे में सारी जानकारियों का खुलासा करे. कांग्रेस का आरोप है कि ये मनी लॉन्ड्रिंग का स्कैम है. इसने राजनीतिक पार्टियों को होने वाली फंडिंग में सारी पारदर्शिता खत्म कर दी है.

पीयूष गोयल ने दिए गिन गिनकर जवाब
पीयूष गोयल ने कहा, 'आज विश्व की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा है और हमारी पार्टी ने शुरुआत से ये उसूल रखा कि हम पैसा या तो चेक से लेंगे या पहले 20 हजार और अब 2 हजार वो कैश में लेंगे. भाजपा एकमात्र पार्टी है जिसमें पैसा पार्टी में आता है और ईमानदार पैसा आता है. हमने इलेक्टोरल बांड्स के माध्यम से सुनिश्चित किया है कि जो भी पैसा राजनीति में आये, वो पैसा बैंक के माध्यम से आये, उसका KYC हो.'

पीयूष गोयल ने कहा, वर्षों तक जिन पार्टियों में व्यक्ति अमीर हुए, व्यक्तियों ने भ्रष्टाचार का पैसा लिया और राजनीति को भ्रष्टाचार में लिप्त कर दिया. आज उन्हें जब चोट लगी और ईमानदार पैसा राजनीति में आया तो अब ये आरोप लगाकर जनता को गुमराह कर रहे हैं. मैं जब विपक्ष में था तो ये विषय उठता था कि कोई तरीका निकाला जाए, जिससे विपक्ष को भी लोग बिना डर के पैसे दे सकें. उस समय अगर कोई हमें चेक से पैसा देता था, तो उस समय की कांग्रेस सरकार उनके ऊपर अनाप-शनाप कार्रवाई करती थी, उन्हें तंग करती थी.

इलेक्टोरल बॉन्ड से चुनावों में ईमानदार पैसा आता है
पीयूष गोयल ने कहा, आज विश्व की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा है और हमारी पार्टी ने शुरुआत से ये उसूल रखा कि हम पैसा या तो चेक से लेंगे या पहले 20 हजार और अब 2 हजार वो कैश में लेंगे. भाजपा एकमात्र पार्टी है जिसमें पैसा पार्टी में आता है और ईमानदार पैसा आता है. मैं समझता हूं कि NDA की सरकार ने इलेक्टोरल बांड्स का जो महत्वपूर्ण कदम उठाया, उससे पहली बार भ्रष्टाचार और बदनामी से जुड़ा पैसा जो कई पार्टियों की राजनीति को वर्षों से चलाये जा रहा था, उस पर हम रोक लगाने में सफल हुए. पीएम मोदी जी की सरकार में भारतीय राजनीति में पारदर्शिता लाने के लिए जो एक बहुत अहम कदम उठाया इलेक्ट्रोरल बांड्स का इससे पहली बार भ्रष्टाचार और बदनामी से जुड़ा हुआ पैसा जो कई पार्टियों को चलाए जा रहा था उसके ऊपर रोक लगाने में सफल हुए.

ये भी पढ़ें: नितिन गडकरी का ऐलान- 1 दिसंबर से टोल पर रुकना ज़रूरी नहीं, इस दिन तक Free में मिलेगा फास्टैग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2019, 9:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...