Home /News /nation /

सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर मांग, कंगना रनौत की सोशल मीडिया पोस्ट्स की जाएं सेंसर

सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर मांग, कंगना रनौत की सोशल मीडिया पोस्ट्स की जाएं सेंसर

कंगना रनौत

कंगना रनौत

Kangana Ranaut News: शिकायतों में दावा किया गया है कि कंगना ने अपने कथित पोस्ट में सिख समुदाय को ‘खालिस्तानी आतंकवादी’ बताया था. शिकायत में कहा गया कि कंगना ने 20 नवंबर को पोस्ट किया, ‘खालिस्तानी आज सरकार पर दबाव बना रहे होंगे ...लेकिन भूलें नहीं कि एक महिला...एकमात्र महिला प्रधानमंत्री ने इनको अपनी जूती के नीचे मसल दिया था.'

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में एक याचिका दायर कर देश में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उनके सभी सोशल मीडिया पोस्ट को भविष्य में सेंसर करने की मांग की गई है. किसान आंदोलन को खालिस्तान से जोड़ने वाले कंगना रनौत के बयान के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में वकील सरदार चरणजीत सिंह ने याचिका दाखिल की है. उन्होंने मांग की है कि कंगना के सभी सोशल मीडिया पोस्ट केंद्र और राज्य सरकारों की अनुमति मिलने पर ही प्रकाशित हों. सिंह ने कहा कि सभी FIR मुंबई के खार थाने में ट्रांसफर हों और 6  महीने के भीतर जांच पूरी हो. दरअसल, कृषि कानूनों के वापस होने के बाद रनौत ने सिख समुदाय पर विवादित टिप्पणी की थी. इसके बाद से ही उनके खिलाफ कई मामले दर्ज किए गए. वहीं दिल्ली विधानसभा की एक समिति ने उन्हें समन भेजा था.

    बीते दिनों अकाली नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के नेतृत्व में सिख समुदाय के एक डेलीगेशन ने कंगना रनौत के खिलाफ मामला दर्ज करने को लेकर सोमवार को पहले खार पुलिस स्टेशन में सीनियर इंस्पेक्टर से मुलाकात की थी. उन्होंने महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल से भी मुलाकात की थी. मामले की गंभीरता को देखते हुए गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने मुंबई पुलिस से इस मामले में केस दर्ज करने का आदेश दिया था.

    यह भी पढ़ें: पराग अग्रवाल हुए Twitter सीईओ तो कंगना रनौत ने कसा जैक डोर्सी पर तंज, बोलीं- ‘Bye Chacha Jack’

    कंगना रनौत ने FIR दर्ज कराई, किसानों के प्रदर्शन पर पोस्ट को लेकर धमकी का आरोप
    उधर, अभिनेत्री कंगना रनौत ने भी मंगलवार को कहा कि किसानों के विरोध प्रदर्शन पर उनकी पोस्ट को लेकर धमकी मिलने के बाद उन्होंने प्राथमिकी दर्ज कराई है. रनौत ने इंस्टाग्राम पर हिंदी में एक लंबा बयान पोस्ट किया और आरोप लगाया कि उन्हें अपने हालिया पोस्ट को लेकर ‘विघटनकारी ताकतों’ से ‘लगातार धमकियां’ मिल रही हैं.

    उन्होंने कहा, ‘मुझे मेरी इस पोस्ट पर विघटनकारी ताकतों से लगातार धमकियां मिल रही हैं. बठिंडा के एक व्यक्ति ने मुझे खुलेआम जान से मारने की धमकी दी. मैं इस तरह की धमकियों से नहीं डरती.’ रनौत ने कहा, ‘मैं देश के खिलाफ साजिश करने वालों और आतंकी ताकतों के खिलाफ बोलना जारी रखूंगी, चाहे ये निर्दोष जवानों की हत्या करने वाले नक्सली हों, टुकड़े-टुकड़े गैंग हो या फिर खालिस्तान बनाने का सपना देख रहे विदेश में बैठे आतंकवादी हों.’

    दिल्ली विधानसभा की शांति एवं सद्भाव समिति ने कंगना रनौत को तलब किया
    दिल्ली विधानसभा की शांति एवं सद्भाव समिति ने सोशल मीडिया पर अभिनेत्री कंगना रनौत के कथित तौर पर घृणा फैलाने वाले पोस्ट को लेकर उन्हें छह दिसंबर को तलब किया है. समिति के अध्यक्ष राघव चड्ढा ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी.

    समिति की ओर से जारी एक बयान में बताया गया है कि कंगना द्वारा ‘इंस्टाग्राम’ पर की गई टिप्पणियों को कथित तौर पर आपत्तिजनक तथा अपमानजनक बताने वाली शिकायतों के आधार पर अभिनेत्री को तलब करते हुए नोटिस जारी किया गया है. शिकायतों में दावा किया गया है कि कंगना ने अपने कथित पोस्ट में सिख समुदाय को ‘खालिस्तानी आतंकवादी’ बताया था.

    Tags: India, Kangana Ranaut, Kisan Andolan, Supreme Court

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर