भारत को कुपोषण मुक्त बनाने की शपथ लें: अमित शाह

भारत को कुपोषण मुक्त बनाने की शपथ लें: अमित शाह
गृह मंत्री अमित शाह ने देशवासियों से देश को कुपोषण मुक्त बनाने का संकल्प लेने की बात कही है (फाइल फोटो)

अमित शाह (Amit Shah) ने तृतीय राष्ट्रीय पोषण माह (Third National Nutrition Month) के अवसर पर सभी नागरिकों से एक कुपोषण मुक्त भारत (Malnutrition free India) बनाने का संकल्प लेने और उस दिशा में काम करने की अपील की.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) ने सोमवार को देशवासियों से कुपोषण मुक्त भारत (Malnutrition free India) बनाने का संकल्प लेने और उस दिशा में काम करने की अपील की. शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा शुरू किया गया पोषण अभियान (Nutrition campaign) देश से कुपोषण को मजबूती से खत्म करने में अभूतपूर्व भूमिका निभा रहा है. उन्होंने कहा, “पोषण माह 2020 (Nutrition Month 2020) के दौरान मोदी सरकार देशभर में कुपोषित बच्चों (Undernourished children) के संपूर्ण पोषण के लिए एक सघन अभियान चलाएगी. आइये हम सब मिलकर इस योजना को और सुदृढ़ बनाने में सहयोग कर भारत को कुपोषण मुक्त बनाने की शपथ लें.’’

अमित शाह (Amit Shah) ने तृतीय राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर सभी नागरिकों से एक कुपोषण मुक्त भारत (Malnutrition free India) बनाने का संकल्प लेने और उस दिशा में काम करने की अपील की. उन्होंने कहा, “बच्चों, गर्भवती महिलाओं (Pregnant women) और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए पर्याप्त पोषण हमेशा से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की उच्च प्राथमिकता रही है. साल 2018 में पीएम मोदी (PM Modi) द्वारा शुरू किया गया पोषण अभियान देश से कुपोषण (Malnutrition) को मजबूती से खत्म करने में एक अभूतपूर्व भूमिका निभा रहा है.’’

इस महीने तीसरा पोषण माह मनाया जा रहा है
इस महीने तीसरा पोषण माह मनाया जा रहा है. इसका उद्देश्य युवा बच्चों और महिलाओं में कुपोषण दूर करने के लिए जन भागीदारी को बढ़ावा देने के साथ ही सभी के लिए अच्छा स्वास्थ्य और पोषण आहार सुनिश्चित करना है.
यह भी पढ़ें: SC ने खाली पदों को लेकर केंद्र से जताई नाराजगी, 15 सितंबर को करेगा सुनवाई



सुरक्षा दिये जाने के बाद कंगना ने गृहमंत्री का धन्यवाद किया
अभिनेत्री कंगना रनौत को शिवसेना सांसद संजय राउत से बहस के बाद गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि मंत्रालय ने रनौत को वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा के तहत 10 सशस्त्र कमांडो को तैनात किया जाता है, जो 24 घंटे सुरक्षा में तैनात रहते हैं. कंगना ने वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिलने पर गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज