प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्यों कहा इस दीवाली तोहफे में दें कपड़े का थैला

साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने दुकानदारों और व्यापारियों को सलाह दिया कि वो दिवाली (Diwali) के अवसर पर ग्राहकों को डायरी और कैलेंडर आदि गिफ्ट में देते हैं. इस बार वो थैला गिफ्ट करें.

News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 3:25 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्यों कहा इस दीवाली तोहफे में दें कपड़े का थैला
PM मोदी की बड़ी घोषणा प्लास्टिक मुक्त होगा भारत.
News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 3:25 PM IST
देश आज 73वें स्वतंत्रता दिवस (Independence day) के जश्न में डूबा हुआ है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM narendra Modi) ने लाल किले (Red Fort) से तिरंगे को फहराया और देश के नागरिकों को संबोधित किया. इसी दौरान पीएम मोदी ने प्रतिबंधित प्लास्टिक थैलियों (Plastic Bags) के लिए जागरूकता फैलाने की बात कही. पीएम ने देश को प्लास्टिक कचरे से मुक्त करने की अपील की. इस बार प्रधानमंत्री ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश को प्लास्टिक कचरे से पूरी तरह से मुक्त करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि सरकार देश को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त बनाएगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करते हुए प्लास्टिक से मुक्ति की आवश्‍यकता पर जोर दिया.


प्लास्टिक कचरे से मुक्ति
पीएम मोदी ने लोगों से अनुरोध किया है कि दो अक्टूबर के दिन वो सारे प्लास्टिक कचरे को इकत्रित करें. अपने नगर निगम के नजदीक या स्वच्छता कर्मचारी के पास सारा प्लास्टिक कचरा जमा कराएं. देश को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने में सहयोग दें. साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि आम लोगों से जो प्लास्टिक इकठ्ठा किया जाएगा उसे रिसाइक कर अलग-अलग तरह के इस्तेमाल में लाया जाएगा. कई स्थानों पर प्लास्टिक का प्रयोग रोड के निर्माण में भी हो रहा है. उन्होंने कहा कि प्लास्टिक से देश ही नहीं दुनिया में बहुत तरह की समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं. इसलिए हमें ही इससे मुक्ति के लिए अभियान छेड़ना होगा.



दुकानदारों को दीवाली को लेकर खास सलाह
पीएम मोदी ने व्यापारियों और दुकानदारों से खास अनुरोध किया है कि वो भी देश को प्लास्टिक मुक्त करने में अपना पूरा सहयोग दें. उनके विशेष साथ की जरूरत है और बिना उनके आगे आए देश को इस मुसीबत से निजात नहीं पाया जा सकता. उन्होंने दुकानदारों से कहा कि वो अपने बोर्ड पर कई तरह के बोर्ड लगाते हैं. अब वो एक बोर्ड और लगाएं कि हमसे प्लास्टिक बैग की मांग न करें. साथ ही उन्होंने दुकानदारों और व्यापारियों को सुझाव दिया कि वह दीपावली के मौके पर ग्राहकों को डायरी और कैलेंडर आदि गिफ्ट में देते हैं. इस बार वो थैला गिफ्ट करें.
Loading...

प्लास्टिक बैग्स के क्या हैं नुकसान?
>>प्लास्टिक बैग्स जमीन, हवा और पानी सबको दूषित करते हैं. जमीन में प्लास्टिक बैग्स के मिलने से जमीन की उर्वरता नष्ट हो जाती है और पानी में मिलकर प्लास्टिक बैग्स अंडरग्राउंड वाटर को दूषित और जहरीला बना देते हैं. इतना ही नहीं, प्लास्टिक बैग्स को जलाने पर जो जहरीली गैसें निकलती हैं, उन्होंने हवा को भी प्रदूषित और जहरीला बना दिया है.

>>प्लास्टिक के बैग नॉन-बायोडिग्रेडेबल होते हैं यानी ये प्राकृतिक रूप से विघटित नहीं होते. इन्हें विघटित होकर ख़त्म होने में लगभग 1000 साल का लंबा समय लग जाता है. ऐसे में पर्यावरण को कितना नुकसान पहुंच रहा होगा, ये आप भी समझ पा रहे होंगे.

>>प्लास्टिक बैग्स से होने वाले नुकसान से जानवर भी अछूते नहीं हैं. खाने की चीज़ों के साथ प्लास्टिक बैग भी निगल लेने के कारण बहुत से जानवर मर जाते हैं. गाय के अलावा डॉल्फिन्स, व्हेल्स, पेंगुइन्स और कछुए जैसे कई जीवों की मौत प्लास्टिक बैग के कारण होती है.

>>साल 2012 में सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जताते हुए कहा था कि आने वाली पीढ़ियों के लिए, प्लास्टिक बैग्स के दुष्प्रभाव किसी परमाणु बम से भी ज्यादा ख़तरनाक साबित होंगे.

ये भी पढ़ें: देश के वो पीएम, जो लाल किले से नहीं फहरा पाए तिरंगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 15, 2019, 2:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...