नौकरशाहों पर मोदी बोले, सोशल मीडिया पर खुद के काम का प्रचार गलत

News18Hindi
Updated: April 21, 2017, 2:53 PM IST
नौकरशाहों पर मोदी बोले, सोशल मीडिया पर खुद के काम का प्रचार गलत
Getty Images (File)
News18Hindi
Updated: April 21, 2017, 2:53 PM IST
पीएम मोदी ने आज दिल्ली में आयोजित 11वें सिविल सेवा दिवस के एक कार्यक्रम में नौकरशाहों को सम्मानित किया और उन्हें कुछ मंत्र दिए. इस मौके पर मोदी ने कहा, पहले सरकार ही सबकुछ हुआ करती थी. आज अफसरों की जिम्मेदारी बढ़ी है. उन्होंने नौकरशाही के बीच प्रतिस्पर्धा और कार्यशैली को बदलने की अपील की.

उन्होंने कहा, नौकरशाही के सामने कई चुनौतियां हैं. चुनौतियाेें को अवसरों में बदलना होगा. मुझे अफसरों की जिम्मेदारी का पता है. नौकरशाही को सरकार को रहते दबाव महसूस नहीं होना चाहिए. पिछले 20 सालों में काफी बदलाव आया है. पीएम मोदी ने कहा, मैं चाहता हूं कि एक साल में गुणवत्तापूर्ण बदलाव होना चाहिए. अगर एक्सीलेंसी का ठप्पा नौकरशाही के साथ लगा है तो काम भी उम्दा करना होगा.

मोदी बोले, अब चीजों को बदलने का मौका आ गया है, क्या आप इसे अपनाते हैं. मैं समझता हूं कि हायरैरिकी का बोझ अंग्रेजों के जमाने से है लेकिन हम आज भी अनुभव का बोझ नए लोगों पर ट्रांसफर करते जा रहे हैं. सीनियर सोचें कि कहीं अनुभव का बोझ नई चुनौतियों के आगे रुकावट तो नहीं बन रहा है.

मोदी ने कहा, मैं सोशल मीडिया की ताकत को पहचानने वाला इंसान हूं. अगर मैं सोशल मीडिया के द्वारा सरकारी योजना का प्रचार करता हूं तो ये बेहतर प्रयोग होगा लेकिन अगर मैं अपनी फोटो खुद को प्रचारित करने के लिए लगाता हूं तो ये अनामिका का दुरुपयोग है.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर