अपना शहर चुनें

States

राज्‍यसभा में PM मोदी ने ली विपक्ष की चुटकी, नड्डा बोले- भ्रम जाल को तोड़ने वाला था भाषण

बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने राज्‍यसभा में प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए भाषण की तारीफ की. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-PTI)
बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने राज्‍यसभा में प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए भाषण की तारीफ की. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-PTI)

Parliament: जेपी नड्डा ने कहा, 'मोदी जी ने बहुत स्पष्ट रूप से कहा कि हमारी सरकार किसानों के हित के लिए हर जरूरी कदम उठा रही है और हमारे लिए सिर्फ और सिर्फ किसान कल्याण ही प्राथमिकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 8, 2021, 5:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को राज्‍यसभा में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब दिया. इस दौरान प्रधानमंत्री ने विपक्षी संसदों पर पलटवार किया, तो वहीं कुछ पर तंज कसते हुए चुटकी भी ली. इस पर बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, 'प्रधानमंत्री जी ने आज राज्यसभा में अपने धन्यवाद भाषण में वर्षों से लम्बित विषयों, छोटे एवं सीमांत किसानों, गरीब कल्याण से लेकर आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए सरकार की नीतियों और प्रयासों को बहुत व्यापक रूप से उल्लेखित किया.'

जेपी नड्डा ने कहा, 'मोदी जी ने बहुत स्पष्ट रूप से कहा कि हमारी सरकार किसानों के हित के लिए हर जरूरी कदम उठा रही है और हमारे लिए सिर्फ और सिर्फ किसान कल्याण ही प्राथमिकता है. मोदी जी, वर्षों से नजरअंदाज किए जा रहे छोटे किसानों के विकास के लिए मूलभूत परिवर्तन कर रहे हैं. उनका वक्तव्य बहुत से विषयों के प्रति फैलाए जा रहे भ्रम जाल को तोड़ने वाला और देश को स्पष्ट दिशा देने वाला है. पूरे देश को मोदी जी पर भरोसा है. देश जानता है, मोदी जी का प्रत्येक क्षण सिर्फ़ और सिर्फ़ देश के लिए समर्पित है.'

ये भी पढ़ें: PM मोदी ने गुलाब नबी आजाद की तारीफ कर ली कांग्रेस की चुटकी, कहा- G-23 की बातें माने पार्टी



ये भी पढ़ें: पीएम मोदी पर कांग्रेस ने लगाया कृषि कानूनों पर राजनीतिक तकरीर करने का आरोप
मैथिलीशरण गुप्त की कविता से PM मोदी ने विपक्ष को दिया संदेश
बता दें कि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देते हुए पीएम मोदी राज्यसभा में विपक्षी सांसदों पर अपने अंदाज में जमकर निशाना साधा. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि देश अब आजादी के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है, ऐसे में हर किसी का ध्यान देश के लिए कुछ करने पर होना चाहिए. पीएम मोदी ने इस मौके पर मैथिलीशरण गुप्त की कविता भी पढ़ी. साथ ही उन्होंने विपक्षी दलों से देश का मनोबल न गिराने की अपील की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'मैं जब अवसरों की चर्चा करता हूं तो मुझे मैथिलीशरण गुप्त की कविता याद आती है, जिसमें उन्होंने कहा है, 'अवसर तेरे लिए खड़ा है, फिर भी तू चुपचाप पड़ा है, तेरा कर्म क्षेत्र बड़ा है, पल-पल है अनमोल, अरे भारत उठ, आंखें खोल... ' ये मैथिलीशरण गुप्त ने कहा था. लेकिन मैं सोच रहा था कि इस कालखंड में, 21वीं सदी के आरंभ में अगर उन्हें लिखना होता तो क्या लिखते?" इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैथिलीशरण गुप्त की कविता की तर्ज पर पर कहा, 'अवसर तेरे लिए खड़ा है, तू आत्मविश्वास से भरा पड़ा है, हर बाधा, हर बंदिश को तोड़, अरे भारत आत्मनिर्भरता के पथ पर दौड़..'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज