होम /न्यूज /राष्ट्र /

बिना टेलीप्रॉम्पटर पीएम मोदी ने दिया लगातार 83 मिनट तक भाषण, दिल को छू लिया

बिना टेलीप्रॉम्पटर पीएम मोदी ने दिया लगातार 83 मिनट तक भाषण, दिल को छू लिया

इस बार स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिरंगे की धारियों वाला साफा पहना.(twitter.com/BJP4India)

इस बार स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिरंगे की धारियों वाला साफा पहना.(twitter.com/BJP4India)

PM Modi speech at Red fort: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बार लाल किले की प्राचीर से बिना रुके और बिना टेलीप्रॉम्पटर के 83 मिनट तक लगातार भाषण दिया. उन्होंने सिर्फ नोट्स की मदद से देश के विकास के लिए 75 साल से 100 साल तक के रोड मैप को देशवासियों के सामने रखा.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

पीएम मोदी ने लगभग 83 मिनट तक दिल को छू लेने वाला भाषण दिया
पीएम मोदी ने लाल किले से लगातार नौंवी बार देश को संबोधित किया
लाल किले पर भाषण के समय टेलीप्रॉम्पट नहीं था

नई दिल्ली. इस बार देश आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है. इस खास मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से देशवासियों को दिल छू लेने वाला भाषण दिया. दिलचस्प बात यह है कि इस बार उन्होंने टेलीप्रॉम्पटर का सहारा नहीं लिया और नोट्स की मदद से लगातार करीब 83 मिनट तक भाषण दिया. टेलीप्रॉम्पटर में भाषण लिखा रहता है जिसे पढ़ना होता है. लेकिन पीएम मोदी ने इस बार टेलीप्रॉम्पटर का सहारा नहीं लिया. हालांकि वे आमतौर पर बिना किसी मदद के धाराप्रवाह भाषण देते हैं.

लाल किले से लगातार नौवीं बार संबोधित किया
पीएम मोदी ने लाल किले से देश को लगातार नौवीं बार संबोधित किया है. लाल किले की प्राचीर से उन्होंने आजादी के अमृत महोत्सव के बैनर तले मनाई जा रही आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर देशवासियों को बधाई देते हुए अपना संबोधन शुरू करते ही टेलीप्रॉम्प्टर को दरकिनार कर दिया. लगभग 83 मिनट तक चले दिल को छू लेने वाले अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने भारत की क्षमताओं, एकता की ताकत की आवश्यकता, महिलाओं का सम्मान करने और देश की स्वतंत्रता में योगदान देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों की सराहना की.

स्वतंत्रता की 100वीं वर्षगांठ तक देश को विकसित बनाने संकल्प
पीएम मोदी ने देश को स्वतंत्रता की 100वीं वर्षगांठ तक विकसित बनाने के लिए 5 प्रण लेने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि यदि हम इन पांच प्रणों को अपने जीवन में उतारते हैं तो हम महान स्वतंत्रता सेनानियों के सपने को साकार करने में सक्षम हो पाएंगे. उन्होंने देशवासियों से अगले 25 वर्ष तक देश के विकास के लिए समर्पित होने का आह्वान किया. पीएम मोदी ने मन से गुलामी की मानसिकता को खत्म करने का भी आह्वान किया. पीएम ने देश की एकता और राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्यों के प्रति देशवासियों का ध्यान आकृष्ट किया.

अब ज्यादा इंतजार नहीं
पीएम मोदी ने कहा, “चाहे वह केंद्र सरकार हो या राज्य सरकारें, देश के लोगों की आकांक्षाओं को साकार करने के लिए काम करना होगा क्योंकि वे अपने सपनों को पूरा होते देखने के लिए और इंतजार नहीं कर सकते.” पीएम मोदी ने अपने भाषण में न केवल महिला शक्ति की ताकत का एहसास कराया बल्कि भारत के स्वतंत्रता संग्राम में महान महिला नेताओं के योगदान की भी सराहना की. उन्होंने कहा कि आज महिलाओं के प्रति हमारी “मानसिकता में बदलाव” की जरूरत है.

Tags: Narendra modi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर