PM मोदी ने केवडिया में 17 परियोजनाओं का उद्घाटन किया, केशुभाई पटेल को दी श्रद्धांजलि

केवडिया: PM मोदी ने 17 परियोजनाओं का उद्घाटन किया. (फोटो साभार-एएनआई)
केवडिया: PM मोदी ने 17 परियोजनाओं का उद्घाटन किया. (फोटो साभार-एएनआई)

PM Narendra Modi inaugurates 17 projects in Kevadia: प्रधानमंत्री ने सबसे पहले 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के निकट बने आरोग्य वन का लोकार्पण किया. आरोग्य वन में 15 एकड़ क्षेत्र में औषधीय गुणों से युक्त पौधे लगाए गए हैं. इसमें 380 प्रजाति के पांच लाख पेड़ हैं. योग व आयुर्वेद को ध्यान में रखते हुए इसका विकास किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 10:54 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने दो दिवसीय गुजरात दौरे के पहले दिन शुक्रवार को नर्मदा जिले के केवड़िया (Kevadia) में 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity) के निकट पर्यटन के विकास के मद्देनजर 17 परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं और चार नई परियोजनाओं की आधारशिला रखी. उन्होंने गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के साथ इन परियोजनाओं का अवलोकन भी किया. अहमदाबाद पहुंचने के बाद मोदी सबसे पहले गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के गांधीनगर स्थित निवास पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. उन्होंने गुजराती सिनेमा के सुपरस्टार नरेश कनोडिया व उनके संगीतकार भाई महेश कनोडिया को भी श्रद्धांजलि अर्पित की.

पटेल (92) का गुरुवार की सुबह यहां निधन हो गया था. वह लंबे समय से बीमार थे. कनोडिया बंधुओं का हाल ही में निधन हो गया था. प्रधानमंत्री ने केशुभाई और कनोडिया बंधुओं के परिवार के सदस्यों के साथ कुछ समय बिताया और उन्हें सांत्वना दी. इसके बाद प्रधानमंत्री नर्मदा जिले के केवड़िया पहुंचे और वहां एकीकृत विकास योजनाओं के अंतर्गत 17 परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं और चार नई परियोजनाओं की आधारशिला रखी. इन योजनाओं में नेविगेशन चैनल, नया गोरा सेतु, गरुड़ेश्वर बांध सरकारी कर्मियों के लिए आवास, बस बे टर्मिनस, एकता पौधशाला, खलवानी पर्यावरण अनुकूल पर्यटन और जनजातीय गृह आवास शामिल हैं. उन्होंने इस अवसर पर 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के लिए एकता क्रूज सेवा को भी झंडी दिखाकर रवाना किया.

आरोग्य वन में 380 प्रजाति के पांच लाख पेड़ हैं
प्रधानमंत्री ने सबसे पहले 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के निकट बने आरोग्य वन का लोकार्पण किया. आरोग्य वन में 15 एकड़ क्षेत्र में औषधीय गुणों से युक्त पौधे लगाए गए हैं. इसमें 380 प्रजाति के पांच लाख पेड़ हैं. योग व आयुर्वेद को ध्यान में रखते हुए इसका विकास किया गया. मोदी इस वन क्षेत्र में बने आरोग्य कुटीर भी गए. मार्च में कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद से मोदी का अपने गृह राज्य गुजरात का यह पहला दौरा है. प्रधानमंत्री ने इसके अलावा एकता मॉल, बच्चों के लिए पोषक पार्क, सरदार पटेल प्राणी उद्यान में 'जंगल सफारी' और एकता क्रूज का भी उद्घाटन किया. 'स्टेच्यू ऑफ यूनिटी' के पास स्थित एक खास स्टोर 'एकता मॉल' का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री ने जम्मू कश्मीर और पूर्वोत्तर के पारंपरिक हस्तशिल्प उत्पादों को बेचने के लिए बने स्टॉल के पास कुछ समय गुजारा.
यहां पर पर्यटक एक छत के नीचे अलग-अलग राज्यों से संबंधित हथकरघा और हस्तशिल्प उत्पादों की खरीदारी कर सकते हैं. ‘हथकरघा और हस्तशिल्प में विविधता में एकता’ की थीम पर विकसित यह स्टोर 35,000 वर्ग फुट क्षेत्र में फैला है. सरदार पटेल को समर्पित ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ स्थल गुजरात में लोकप्रिय पर्यटन स्थल के तौर पर उभरा है. रूपाणी के साथ मोदी बाद में मॉल में स्थित विभिन्न एंपोरियम में गए.प्रौद्योगिकी आधारित पार्क में न्‍यूट्री ट्रेन की व्‍यवस्‍थाजम्मू कश्मीर के स्टॉल पर मोदी ने विभिन्न उत्पादों के बारे में जानकारी ली और इसे बनाने की प्रक्रिया को जानने में दिलचस्पी दिखायी. वातानुकूलित दो मंजिला स्टोर में विभिन्न राज्यों के पारंपरिक हथकरघा और हस्तशिल्प उत्पादों के लिए 20 अलग-अलग एंपोरियम हैं. इसके बाद प्रधानमंत्री का अगला पड़ाव बच्चों के लिए खास तौर पर बनाया गया पोषक पार्क था. इसका उद्घाटन करने के बाद उन्होंने पार्क का भ्रमण किया और बच्चों को आकर्षित करने वाली विभिन्न सुविधाओं का अवलोकन किया.




यह दुनिया का पहला प्रौद्योगिकी आधारित पार्क है जो 35 हजार वर्गफुट में फैला हुआ है. पार्क में एक न्यूट्री ट्रेन की भी व्यवस्था है, जिसके स्टेशन के नाम भी काफी रोचक रखे गए हैं. ये नाम फलशाखा गृहम, पायोनागिरी, अन्नपूर्णा, पोषण पुराण, स्वस्थ भारत हैं. प्रधानमंत्री ने न्यूट्री ट्रेन की सवारी करते हुए विभिन्न स्टेशनों का मुआयना किया. इस पार्क का उद्देश्य विभिन्न गतिविधियों के जरिए पोषक भोजन के प्रति जागरूकता फैलाना है. पार्क में इसके लिए मिरर मेज, 5डी वर्चुअल रियल्टी थिएटर और ऑगमेंटेंड रियल्टी गेम की भी व्यवस्था की गई है.

इसके बाद प्रधानमंत्री ने केवड़िया में ही सरदार पटेल प्राणी उद्यान में 'जंगल सफारी' का उद्घाटन किया. यह 'जंगल सफारी' भारत के 'लौह पुरुष' सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर लंबी प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के पास स्थित है और पर्यटकों को लुभाने के लिए कई आकर्षक चीजें हैं. यह 375 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है. इसमें 1100 से अधिक पशु-पक्षी हैं और तकरीबन 5 लाख पौधे हैं. प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि जंगल सफारी के अंदर स्थित प्राणी उद्यान में दो अलग-अलग पक्षी अभयारण्य हैं, जिसमें एक घरेलू पक्षियों के लिए है तो दूसरा विदेश से आने वाले पक्षियों के लिए. यह दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी उद्यान है.

प्रधानमंत्री ने एकता क्रूज सेवा का उद्घाटन किया
मोदी ने एक ट्वीट में कहा, 'फ्लाई हाई इंडियन एवियरी उन लोगों के लिए एक बेहतरीन नजारा होगा जो विभिन्न प्रकार के पक्षियों को देखने में रोमांच का अनुभव करते हैं. केवड़िया तैयार है और इस एवेरी का दीदार कीजिए, जो जंगल सफारी कांप्लेक्स का हिस्सा है. यह एक बेहतरीन अनुभव होगा.' प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को ही बाद में एकता क्रूज सेवा का उद्घाटन किया. उन्होंने राज्यपाल देवव्रत और मुख्यमंत्री रूपाणी के साथ इसकी सवारी की और ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ तक का सफर तय कर खूबसूरत नजारे का अवलोकन किया.

ये भी पढ़ें: PM मोदी ने गुजरात को दी जंगल सफारी की सौगात, न्यूट्री ट्रेन में किया सफर

ये भी पढ़ें: केवडिया में तैनात 23 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव, 2 दिन की यात्रा पर यहां पहुंचे हैं PM मोदी

एकता क्रूज सेवा के माध्यम से पर्यटक फेरी बोट सर्विस के जरिए नर्मदा नदी में श्रेष्ठ भारत भवन से लेकर ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ की छह किलोमीटर की दूरी तय कर सकते हैं. साथ ही वे ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के खूबसूरत नजारे का भी लुत्फ उठा सकेंगे. मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि बोट से ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का शानदार नजारा यहां का बड़ा आकर्षण है. इस यात्रा को 40 मिनट में तय किया जा सकेगा, जिसमें एक नाव पर अधिकतम 200 यात्री सफर कर सकेंगे. फेरी सेवाओं के लिए नया गोरा पुल खास तौर से बनाया गया है. नाव सेवा को शुरू करने का उद्देश्य ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ आने वाले पर्यटकों को बोटिंग सेवाओं का अनुभव देना है.

मोदी अपनी दो दिवसीय यात्रा के दूसरे दिन स्वतंत्र भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को उनकी जयंती के दिन ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ जाकर श्रद्धांजलि भी अर्पित करेंगे. इससे पहले प्रधानमंत्री जब अहमदाबाद पहुंचे तो रूपाणी और आचार्य देवव्रत के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सी आर पाटिल सहित कई नेताओं ने हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया. उम्मीद की जा रही है कि प्रधानमंत्री अपने इस दौरे पर अपनी मां हीरा बा से भी मुलाकात करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज