पीएम मोदी ने युवाओं के लिए लॉन्च किया क्रैश कोर्स, 2 माह में तैयार होंगे एक लाख फ्रंटलाइन वर्कर

पीएम नरेंद्र मोदी ने जानकारी दी है कि यह क्रैश कोर्स महज दो से तीन महीनों में पूरा हो जाएगा. (फोटो: Twitter/ANI)

PM Modi launches crash course: इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत मुफ्त ट्रेनिंग दी जाएगी. इसके अलावा स्टाइपेंड और प्रमाणित उम्मीदवारों को 2 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा मिलेगा. सरकार ने इसके लिए 273 करोड़ रुपये की राशि इस कोर्स के लिए आवंटित की है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस से जंग के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक क्रैश कोर्स की शुरुआत की है. इसके तहत एक लाख युवाओं को फ्रंटलाइन वर्कर्स के तौर पर तैयार किए जाने का लक्ष्य रखा है. पीएम मोदी ने कहा है कि इस कोर्स को टॉप एक्सपर्ट्स ने मिलकर तैयार किया है. इस दौरान उन्होंने कोरोना वायरस को लेकर चेतावनी भी जारी की है. उन्होंने कहा है कि कोरोना अभी भी हमारे बीच ही है और इसके म्यूटेट होने की आशंका भी बनी हुई है.

    पीएम मोदी ने जानकारी दी है कि यह क्रैश कोर्स महज दो से तीन महीनों में पूरा हो जाएगा. जिसके चलते युवा काम के लिए तत्काल तैयार भी हो सकेंगे. यह प्रोग्राम देशभर के 26 राज्यों में स्थित 111 सेंटर्स पर लॉन्च किया गया. उन्होंने कहा, 'हर सावधानी के साथ, आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए हमें देश की तैयारियों को और बढ़ाना होगा. इसी लक्ष्य के साथ आज देश में करीब 1 लाख फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स तैयार करने का महाअभियान शुरू हो रहा है.'

    उन्होंने कहा, 'इस महामारी ने दुनिया के हर देश, हर संस्था, हर समाज, हर परिवार, हर इंसान के सामर्थ्य को बार-बार परखा है. वहीं इस महामारी ने साइंस, सरकार, समाज, संस्था और व्यक्ति के रूप में हमें अपनी क्षमताओं का विस्तार करने के लिए सतर्क भी किया है.' बार-बार रूप बदल रहे वायरस को लेकर पीएम ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में हम लोगों ने देखा कि इस वायरस का बार बार बदलता स्वरूप किस तरह की चुनौतियां हमारे सामने ला सकता है.

    मिलेगा दो लाख रुपये का बीमा
    खबर है कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत मुफ्त ट्रेनिंग दी जाएगी. इसके अलावा स्टाइपेंड और प्रमाणित उम्मीदवारों को 2 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा मिलेगा. इसके लिए 273 करोड़ रुपये की राशि इस कोर्स के लिए आवंटित की है. कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और अस्पतालों में काम कर सकेंगे.

    देश में कोरोना वायरस के हाल
    भारत में कोरोना वायरस के एक दिन में 62 हजार 480 मरीज मिले हैं. वहीं, इस दौरान 1 हजार 587 मरीजों की मौत हुई है. देश में लगातार 11वें रोज मिलने वाले मरीजों की संख्या 1 लाख से कम रही. अच्छी खबर है कि देश में मौत के आंकड़ों में भी गिरावट जारी है. बीते 60 दिनों में देश में एक दिन में सबसे कम मौतें हुईं.

    नए आंकड़ों को मिलाकर देश में अब तक कोरोना वायरस के 2 करोड़ 97 लाख 62 हजार 793 मरीज मिल चुके हैं. वहीं, अब तक 3 लाख 83 हजार 490 मरीजों की मौत हो चुकी है. विश्व स्तर पर देखें, तो रॉयटर्स की टैली के मुताबिक, दुनिया में कोरोना से अब तक 40 लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

    देश में 73 दिनों बाद एक्टिव केस की संख्या आठ लाख के नीचे आई है. फिलहाल 7 लाख 98 हजार 656 मरीज अपना इलाज करा रहे हैं. इस दौरान डेली पॉजिटिविटी रेट 3.24 फीसदी रहा. लगातार 11 दिनों से पॉजिटिविटी रेट 5 प्रतिशत के नीचे है. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के आंकड़े बताते हैं कि 17 जून तक कुल 38 करोड़ 71 लाख 67 हजार 696 सैंपल की जांच हुई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.