लाइव टीवी

जब डोनाल्ड ट्रंप की गलतफहमी दूर करने के लिए PM मोदी ने इस्तेमाल किया iPad

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 9:22 AM IST
जब डोनाल्ड ट्रंप की गलतफहमी दूर करने के लिए PM मोदी ने इस्तेमाल किया iPad
(AP Photo/Alex Brandon)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बताया कि कैसे उनके सभी प्रयासों के बावजूद, पाकिस्तान आतंकवाद के जरिए भारत को निशाना बना रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 9:22 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार पर सभी गलतफहमियों को दूर करने के प्रयास में मंगलवार को हैदराबाद हाउस (Hyderabad House) में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को प्रजेंटेशन देने के लिए अपने पसंदीदा गैजेट iPad का इस्तेमाल किया. प्रधानमंत्री ने अमेरिकी राष्ट्रपति को नागरिकता संशोधन अधिनियम और संविधान के अनुच्छेद 370 (Article 370) को रद्द करने से जुड़ी जानकारी हैदराबाद हाउस में लंच से पहले दिए.

व्यापार दोनों देशों के बीच बड़े मुद्दों में से एक है, हालांकि इस यात्रा के दौरान कोई खास समझौता नहीं हुआ. दोनों नेताओं का कहना है कि वे एक बड़े सौदे पर काम कर रहे हैं. हैदराबाद हाउस में मौजूद लोगों के अनुसार, पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की गलतफहमी दूर करने के लिए खुद आगे आए. बता दें भारत दौरे पर आने से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था कि भारत व्यापार घाटे को दूर करने के लिए किए जा रहे थोड़े प्रयास के बीच अमेरिका के साथ गलत व्यवहार कर रहा था.

'हिन्दुस्तान टाइम्स' की एक रिपोर्ट के अनुसार 'पीएम मोदी ने iPad निकाल कर राष्ट्रपति ट्रंप को दिखाया कि भारत ने अपने कार्यकाल के दौरान 2014 में 31 अरब डॉलर से व्यापार घाटे को कम कर 2018 में 24.2 बिलियन डॉलर कर दिया था. चार वर्षों में 22% की गिरावट हुई. पीएम मोदी ने यह भी दिखाया कि अमेरिका से भारत का हाइड्रोकार्बन आयात 2013 में शून्य से बढ़कर 9 बिलियन डॉलर हो गया और संभवत: साल के अंत तक 12 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच जाएगा, जिससे अमेरिका भारत को तेल, कोयला और प्राकृतिक गैस का निर्यात करेगा.'

CAA और 370 पर मोदी ने ट्रंप को क्या बताया?



पीएम मोदी ने ट्रंप को बताया कि अमेरिका में भारतीय छात्र शिक्षा में डॉलर खर्च करके अमेरिकी खजाने में लगभग 6 बिलियन डॉलर का योगदान कर रहे हैं. इस दौरान पीएम मोदी अरब डॉलर के रक्षा सौदों के साथ राष्ट्रपति ट्रंप के कार्यकाल के दौरान भारत में बढ़ते सैन्य हार्डवेयर आयात की ओर इशारा किया. मिसाल के तौर पर भारत इस साल 3 बिलियन डॉलर का हेलीकॉप्टर खरीद रहा है.

पीएम मोदी ने नागरिकता कानून पर अमेरिकी राष्ट्रपति को समझाया कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों से संबंधित और भारत के पड़ोस में मुस्लिम राष्ट्रों में ईसाई सहित अन्य का अनुपात गिर गया है, और यह कानून केवल उन लोगों को सुरक्षा और गरिमा प्रदान करने के उद्देश्य से है, जिनके साथ गलत व्यवहार किया गया है. उन्होंने बताया कि सीएए का उद्देश्य किसी भी नागरिकता के अधिकार से वंचित करना नहीं है. जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर, मोदी ने बताया कि कैसे उनके सभी प्रयासों के बावजूद, पाकिस्तान आतंकवाद के जरिए भारत को निशाना बना रहा है.

यह भी पढ़ें: CAA पर बोले जेपी नड्डा- गांधी और नेहरू ने जो कहा, PM मोदी ने वो वादा पूरा किया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 8:47 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर