लॉकडाउन में 17 मई के बाद मिल सकती है ढील, पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत में रखी राय- सूत्र

लॉकडाउन में 17 मई के बाद मिल सकती है ढील, पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत में रखी राय- सूत्र
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ पांचवी बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि इस पूरी लड़ाई में पूरे विश्व ने ये माना है कि हम कोविड-19 (Covid-19) के साथ लड़ाई में सफल रहे हैं. राज्य सरकारों ने इसमें अहम भूमिका निभाई है.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को सभी मुख्यमंत्रियों से कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर पांचवीं बार वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये बात की. प्रधानमंत्री ने इस बैठक में कहा कि सरकार को आगे बढ़ने के बारे में सोचना होगा और समग्र दृष्टिकोण के बारे में बात करनी होगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस पूरी लड़ाई में पूरे विश्व ने ये माना है कि हम कोविड-19 (Covid-19) के साथ लड़ाई में सफल रहे हैं. राज्य सरकारों ने इस लड़ाई में अहम भूमिका निभाई है. उन्होंने अपनी जिम्मेदारी समझी और इस खतरे से लड़ने के लिए अहम भूमिका निभाई.

'घर जाना इंसानी स्वभाव'
प्रवासी श्रमिकों (Migrant Labours) को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "हम परेशान हैं कि लोग जहां हैं उन्हें वहीं रहना चाहिए. लेकिन ये सामान्य मानव का व्यवहार है कि वो अपने घर जाना चाहता है और इसलिए हमने अपने फैसले में बदलाव किया. इसके बावजूद हमने ये सुनिश्चित किया कि ये बीमारी फैले नहीं और गांवों तक नहीं पहुंचे, यही हमारे लिए बड़ी चुनौती भी है."
राज्यों ने अच्छी तरह से निभाई भूमिका


पीएम ने कहा कि राज्यों ने अब तक अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभाई है, लेकिन निवारक उपायों और सोशल डिस्टेंसिंग को कम नहीं किया जा सकता है वरना ये संकट गहरा सकता है. उन्होंने राज्यों से आर्थिक गतिविधियों को दोबारा शुरू करने के लिए सुझाव देने को कहा और कहा कि सभी निर्देश राज्यों के इन सुझावों के आधार पर तैयार किए जाएंगे.

सूत्रों की ओर से बताया गया है कि हालांकि सरकार 17 मई को मौजूदा लॉकडाउन (Lockdown) समाप्त होने के बाद प्रतिबंधों में ढील देने के पक्ष में है, लेकिन अभी भी एक ही बार में प्रतिबंध हटाए जाने की संभावना नहीं है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ पांचवीं बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की.

गृह मंत्री ने आरोग्य सेतु के महत्व को किया रेखांकित
इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) भी मौजूद थे, जिन्होंने  आरोग्य सेतु मोबाइल एप्लीकेशन (Aarogya Setu Mobile App) के महत्व को रेखांकित किया और मुख्यमंत्रियों से इसे लोगों के बीच लोकप्रिय कर डाउनलोड कराने के लिए कहा क्योंकि यह वायरस के प्रसार को ट्रैक करने में मदद करेगा.

मुख्यमंत्रियों से संवाद के दौरान प्रधानमंत्री के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी मौजूद रहे.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू समेत कई मुख्यमंत्री इस बैठक में शामिल हुए.

गौरतलब है कि रविवार को कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के साथ बैठक के दौरान राज्यों के मुख्य सचिवों ने उन्हें बताया था कि कोविड-19 से सुरक्षा जरूरी है, लेकिन साथ ही आर्थिक गतिविधियों को भी चरणबद्ध तरीके से बहाल करने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें :-

खुलते ही हैंग हुई IRCTC की वेबसाइट, शाम छह बजे से फिर होगी बुकिंग

PM मोदी के साथ बैठक में बोलीं ममता- कोरोना प्रसार के बीच राजनीति न करे केंद्र
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज