Home /News /nation /

Exclusive Interview With News18: एयर स्ट्राइक पर बोले मोदी- पाकिस्तान का सुबह 5 बजे ट्वीट करना ही सबूत है

Exclusive Interview With News18: एयर स्ट्राइक पर बोले मोदी- पाकिस्तान का सुबह 5 बजे ट्वीट करना ही सबूत है

नेटवर्क 18 के एडिटर इन चीफ़ और सीईओ राहुल जोशी के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में प्रधानमंत्री से पूछा गया, बालाकोट में आतंकी शिविर नष्ट हुआ, क्या सरकार के पास इसके पुख्ता सबूत हैं? क्या सही वक्त आने पर आप इसे देश की जनता के सामने लाएंगे? पीएम ने इस सवाल का सीधा जवाब देते हुए पाकिस्तान के साथ-साथ कांग्रेस पार्टी को भी अपने निशाने पर लिया.

अधिक पढ़ें ...
    भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविर पर हमले के पुख्ता सबूत मांगने वाले को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीधा जवाब  दिया है. पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान की तरफ सुबह 5 बजे आनन फ़ानन में ट्वीट करना ही अपने आप में हमारी सेना के पराक्रम का सबूत है. पीएम मोदी ने नेटवर्क 18 के प्रधान संपादक (एडिटर-इन-चीफ़) राहुल जोशी से एक्सक्लूसिव बातचीत में ये बातें कही.

    बालाकोट में आतंकी शिविर नष्ट हुआ, क्या सरकार के पास इसके पुख्ता सबूत हैं? क्या सही वक्त आने पर आप इसे देश की जनता के सामने लाएंगे? ये दावा किया गया कि वहां 250 आतंकवादी मारे गए, खुद बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने यह बात कही थी. इस सवाल का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा -

    जहां तक सबूत का सवाल है, पाकिस्तान अपने आप में बहुत बड़ा सबूत है. पाकिस्तान ने क्या कारण है कि सुबह पांच बजे ट्वीट किया कि हमारे साथ ऐसा किया है. हम तो चुप थे और पाकिस्तान को ये क्यों कहना पड़ा. वो अपने आप में सबूत है. ऐसा तो नहीं है कि भारत सरकार पहले जाकर बोली या हमारी सेना के लोग जाकर बोले.




    पीएम मोदी ने विपक्षी दलों और कांग्रेस पर सीधा निशाना साधते हुए कहा कि इसके पहले कई युद्ध हुए. क्या कभी किसी ने इस प्रकार की भाषा प्रयोग की है. कभी नहीं की. कई एक्शन हुए, कभी किसी ने ऐसी भाषा का प्रयोग नहीं किया. लेकिन सत्ता के लिए छटपटाने वाली कांग्रेस ने सारी मर्यादा खो दी है और इसी कारण वो इस प्रकार की भाषा बोलते हैं.



    पीएम मोदी ने देश की सेना के पराक्रम पर भरोसा जताते हुए कहा, "जब आप एक दुश्मन से लड़ाई लड़ रहे हो, तब इस प्रकार की भाषा दुश्मन को बल देती है. देश को कन्फ्यूज करती है. देश के जवानों को डीमॉरेलाइज करती है. और इसलिए ऐसे समय देश को एक स्वर से एक ही बात कहनी चाहिए कि हमारे वीर जवानों पर गौरव करना चाहिए. उनके पराक्रम का गौरव करना चाहिए."

    कैसे किया था 'एयर स्ट्राइक' का फैसला?

    पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले के बाद पीएम मोदी ने इस निंदनीय हमले का जवाब देने का पूरा मन बना लिया था. प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने पहले ही दिन घोषणा की थी कि आतंकवादियों ने और पाकिस्तान ने बहुत बड़ी गलती कर दी है. मेरी बॉडी लैंग्वेज और मेरी भाषा से समझ आ सकता है कि मेरे भीतर क्या चल रहा था.



    पीएम ने बताया कि वो किसी तरह का हड़बड़ी वाला या शॉर्टकट रास्ता नहीं ढूंढ रहे थे. इसलिए इस मसले पर उन्होंने सेना, सुरक्षाबलों और विभिन्न अफसरों से चर्चा करने के बाद धीरे-धीरे इसे आगे बढ़ाया.

    हमारी सेना ने पुलवामा हमला करने वालों को तो यहीं पर मार गिराया, ये अपने आप में बड़ा काम था. लेकिन मैं इतने से संतुष्ट नहीं था. आतंकवादियों का लालन-पालन जहां होता है, जहां उनकी खातिरदारी होती है. वहां अगर हम कुछ नहीं करेंगे तो ये सुधरने वाले नहीं हैं. और 26/11 का अनुभव कहो, पार्लियामेंट अटैक का अनुभव कहो. बाकी घटनाएं देखो, पाकिस्तान तो मानकर बैठा था कि भारत कुछ करने वाला नहीं है. इसलिए उनकी हिम्मत भी बढ़ती चली जा रही थी. हमें इस बार लगा ही नहीं भाई, जब उरी हुआ तो हमने सर्जिकल स्ट्राइक करके दिखा दिया. इस बार हुआ तो हमें लगा कि सर्जिकल स्ट्राइक का रास्ता ठीक नहीं होगा, एयर स्ट्राइक का रास्ता ठीक होगा. तो हमने एयर स्ट्राइक बहुत सफलतापूर्वक की. मैं मानता हूं कि सबको हमने जोड़कर ये काम किया है. सबको विश्वास में लेकर किया.


    प्रधानमंत्री ने ये सभी बातें नेटवर्क 18 के प्रधान संपादक राहुल जोशी के साथ हुए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू के दौरान साझा की.

    (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह पूरा इंटरव्यू न्यूज़ 18 इंडिया सहित नेटवर्क 18 के सभी चैनलों पर मंगलवार शाम 7 बजे और रात 10 बजे प्रसारित किया जाएगा)

    Tags: Airstrike, Balakot, Lok Sabha Election 2019, Narendra modi, PM Modi, Pm narendra modi, Pulwama attack, The Interview

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर