होम /न्यूज /राष्ट्र /गांधी@150: जब पीएम मोदी के कहने पर सिक्योरिटी की परवाह किए बगैर उनका हाथ पकड़ चल दिए ट्रंप

गांधी@150: जब पीएम मोदी के कहने पर सिक्योरिटी की परवाह किए बगैर उनका हाथ पकड़ चल दिए ट्रंप

पीएम मोदी गुजरात के साबरमती आश्रम गए (फाइल फोटो)

पीएम मोदी गुजरात के साबरमती आश्रम गए (फाइल फोटो)

महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती (150th Anniversary) के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra M ...अधिक पढ़ें

    अहमदाबाद: महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती (150th Anniversary) के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) बुधवार को गुजरात के साबरमती आश्रम पहुंचे. इससे पहले अमेरिका यात्रा के बाद पहली बार गुजरात पहुंचने पर उनका स्वागत भी हुआ. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि गुजरात (Gujarat) लौटना मेरे लिए हमेशा गर्व की बात है.

    इस दौरान पीएम मोदी ने अपने राज्य गुजरात (Gujarat) के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आप लोगों से न मिल पाने की कमी मुझे हमेशा खलती है. आज आप लोगों से मिलकर मुझे खुशी हो रही है. अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने हाउडी मोदी कार्यक्रम के दौरान के अपने अनुभव भी साझा किए.

    पीएम मोदी के प्रस्ताव पर ट्रंप ने नहीं की सुरक्षा की चिंता और हाथ पकड़ चल दिए
    हाउडी मोदी कार्यक्रम के अपने अनुभवों को साझा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें इस कार्यक्रम के दौरान दुनिया में भारत के बढ़ते प्रभाव को देखकर गर्व का अनुभव हुआ.

    उन्होंने एक और खुलासा करते हुए अपने कार्यक्रम के बाद राष्ट्रपति ट्रंप के साथ विक्ट्री लैप वॉक का भेद भी खोला. दरअसल ट्रंप कार्यक्रम के बाद पीएम मोदी का हाथ पकड़कर मंच से स्टेडियम के बाहर तक लोगों का अभिवादन करते आए थे. पीएम मोदी ने ही उन्हें ऐसा करने का प्रस्ताव दिया था. पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान इस बात का खुलासा किया.

    पीएम बोले, दुनिया में बढ़ी है भारतीय पासपोर्ट की इज्जत
    पीएम मोदी ने यह भी कहा कि भारतीयों का दुनिया भर में सम्मान बढ़ा है और दुनिया उत्सुकता से भारत की ओर देख रही है. उन्होंने कहा कि अभी जब मैं UN गया तो महसूस किया कि दुनिया का हर देश अब भारत को स्वीकार कर चुका है.

    पीएम मोदी ने कहा, "आज भारतीय दुनिया के किसी भी शख्स की आंख से आंख मिलाकर बात कर सकते हैं. पीएम मोदी ने कहा है कि भारतीय पासपोर्ट (Indian Passport) की इज्जत दुनिया भर में बढ़ी है."

    वैष्णव जन भजन के जरिए बताया महात्मा गांधी का महत्व
    पीएम मोदी (PM Modi) ने इस अवसर पर महात्मा गांधी के प्रिय भजन 'वैष्णव जन तो तेने रे कहिए...' का भी जिक्र किया. उन्होंने बताया कि अनेक देशों के 150 गायकों ने इस भजन को गाया है. पीएम ने कहा, 'मैं उनमें से कुछ कलाकारों से अपनी यात्रा के दौरान मिला. इस दौरान उन्होंने बिना किसी पर्चे के उस भजन को गाया. जिससे मैं प्रभावित हुआ. जब मैंने उनसे पूछा कि क्या इस भजन का मतलब उन्हें पता है तो उन्होंने उसका मतलब भी बताया. मैंने यह पहली बार देखा कि महात्मा गांधी की पहुंच किस हद तक है."

    पीएम बोले, गांधी हमेशा रहेंगे प्रासंगिक
    पीएम ने कहा, "गांधी आज भी हैं, गांधी कल भी होंगे. गांधी आने वाली पीढ़ियों के लिए भी हैं." पीएम मोदी ने कहा कि गुजरात (Gujarat) की मिट्टी की ताकत देखनी चाहिए. इसके लिए उन्होंने गुजरात को श्याम जी कृष्ण वर्मा, मैडम कामा, सरदार पटेल (Sardar Patel) और महात्मा गांधी की धरती बताया. संबोधन के अंत में पीएम मोदी ने बापू की जयंती पर उन्हें गुजरात से नमन करने का मौका मिलने के अवसर को अपना सौभाग्य बताया.

    यह भी पढ़ें: देश के लोगों को काफी देर बाद मिली थी महात्मा गांधी की हत्या की खबर

    Tags: America, Donald Trump, Gujrat news, Howdy modi, Passport, PM Modi, Sardar patel, United nations

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें