Home /News /nation /

pm modi says amidst war pandemic and global unrest the world has hope from india

वैश्विक संकट के मुद्दे पर बोले पीएम मोदी- 'युद्ध, महामारी और अशांति के बीच दुनिया को भारत से उम्मीद

वैश्विक अशांति के बीच भारत की भूमिका अहम, दुनिया को भारत से उम्मीदें- पीएम मोदी

वैश्विक अशांति के बीच भारत की भूमिका अहम, दुनिया को भारत से उम्मीदें- पीएम मोदी

PM Modi on Global Crisis:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैश्विक संकट के मुद्दे पर गुजरात में आयोजित एक शिविर को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि, महामारी, वैश्विक अशांति और संघर्षों के बीच शांति के लिए सक्षम राष्ट्र के तौर हमारी भूमिका अहम है और आज पूरी दुनिया को भारत से उम्मीद है. उन्होंने भारत के शांतिपूर्ण राष्ट्र की भूमिका पर जोर दिया.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि रूस-यूक्रेन में युद्ध और वैश्विक संकट के बीच भारत दुनिया के लिए एक नई आशा है. गुजरात में आयोजित युवा शिविर को वर्चुअल माध्यम से संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने भारत के शांतिपूर्ण राष्ट्र की भूमिका पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि, महामारी, वैश्विक अशांति और संघर्षों के बीच शांति के लिए सक्षम राष्ट्र के तौर हमारी भूमिका अहम है और आज पूरी दुनिया को भारत से उम्मीद है.

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, पीएम मोदी ने अंतरराष्ट्रीय अशांति के बीच विश्व में शांति स्थापित करने में सक्षम राष्ट्र के निर्माण की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि, “आज हम एक नए भारत की स्थापना की शपथ लेना चाहते हैं, इसके के लिए हम प्रयास कर रहे हैं. हमें सदियों पुरानी परंपराओं को बनाए रखते हुए नई पहचान बनाना है.”

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध को लेकर भारत ने अब तक तटस्थ रवैया अपनाते हुए दोनों देशों से तनाव खत्म करने और शांति बहाल करने की अपील की है. हालांकि संयुक्त राष्ट्र सभा में रूस के खिलाफ मतदान से भारत ने दूरी बना ली थी. लेकिन संयुक्त चार्टर, अंतरराष्ट्रीय कानून और क्षेत्रीय अखंडता व संप्रभुता के महत्व पर जोर दिया था.

Opinion: पीएम नरेंद्र मोदी के प्रयास से खादी ग्रामोद्योग ने हासिल की यह उपलब्धि

नई दिल्ली ने कई मौकों पर दोनों देशों के बीच वार्ता और कूटनीतिक माध्यम से हल निकाले जाने की अपील की थी. ताकि युद्ध में निर्दोष नागरिकों की हत्याओं व बर्बाद को रोका जा सके. वहीं अमेरिका समेत तमाम पश्चिमी देश भारत पर दबाव बनान रहे हैं कि, वह हर मंच पर रूस का बहिष्कार करें.

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एर्रिया-फॉर्मूला मीटिंग के दौरान भारतीय दूत ने कहा था कि, हमारा मानना है कि खून बहाकर और निर्दोष नागरिकों की मौत से किसी भी समाधान तक नहीं पहुंचा जा सकता है. भारत इस संघर्ष के शुरू होने के बाद ही यह कहता आया है कि कूटनीति और संवाद ही समाधान का एकमात्र विकल्प है.

Tags: PM Modi, Russia ukraine war, Sri lanka

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर