Assembly Banner 2021

क्वाड बैठक पर पीएम मोदी का ट्वीट, जानें वैक्सीन से लेकर हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर क्या कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापानी पीएम जावेद के साथ पहले क्वाड लीडर्स वर्चुअल समिट में हिस्सा लिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापानी पीएम जावेद के साथ पहले क्वाड लीडर्स वर्चुअल समिट में हिस्सा लिया.

Corona vaccine: क्वाड सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कई ट्विटस किए. पीएम मोदी ने कहा, COVID-19 के खिलाफ हमारी लड़ाई में यूनाइटेड, हमने सुरक्षित COVID-19 टीकों की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए एक लैंडमार्क क्वाड साझेदारी शुरू की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2021, 11:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने क्वाड समूह के पहले शिखर सम्मेलन को संबोधित किया. अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गठबंधन विकसित हो चुका है और टीका, जलवायु परिवर्तन, उभरती प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्रों के इसके अजेंडे में शामिल होने से यह वैश्विक भलाई की ताकत बनेगा. 4 देशों के क्वाड समूह के डिजिटल शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोदी ने लोकतांत्रिक मूल्यों और मुक्त व समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र के बारे में चर्चा की.

पीएम ने कहा कि अमेरिकी के राष्ट्रपति जो बाइडेन, ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापान के पीएम से पहले क्वाड वर्चुअल सम्मेलन में अच्छी बातचीत हुई. हमने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में मुक्त विचरण की प्रतिबद्धता पर बात की. पीएम ने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में हम एकजुट हैं और सभी सुरक्षित कोरोना वैक्सीन मिलने के लिए साझेदारी की है. भारत की वैक्सीन उत्पादन की क्षमता जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के सहयोग से और बढ़ेगा.'

क्वाड नेताओं के साथ बैठक के बाद पीएम ने अपने ट्वीट में कहा, 'आज के बैठक में हमने कोरोना वैक्सीन, जलवायु परिवर्तन और इमर्जिंक टेक्नॉलजी पर बात की. हमने क्वाड को इंडो-पसिफिक क्षेत्र में में शांति और स्थायित्व का चेहरा बनाने पर चर्चा की.'



तालमेल से करेंगे काम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि साझा मूल्यों को आगे बढ़ाने और सुरक्षित, स्थिर, समृद्ध हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लिए पहले से कहीं अधिक साथ मिलकर करीबी तालमेल से काम करेंगे. उन्होंने अपनी टिप्पणी में कहा, 'आज का सम्मेलन दिखाता है कि ‘क्वाड’ विकसित हो चुका है और यह अब क्षेत्र में स्थिरता का एक महत्वपूर्ण स्तंभ बना रहेगा.'

दुनिया की भलाई के लिए एक पार्टनरशिप
क्वाड समिट के बाद विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया, 'पीएम मोदी ने जोर दिया कि क्वॉड दुनिया की भलाई के लिए एक पार्टनरशिप है. आज के समिट में क्वॉड के नेताओं का पॉजिटिव एजेंडा और विजन देखा गया है. वैक्सीन, क्लाइमेट चेंज और उभरती तकनीक जैसे मुद्दों पर चर्चा का फोकस रहा. विदेश सचिव ने कहा, 'क्वॉड का वैक्सीन इनिशिएटिव सबसे वैल्युएबल है. चारों देश अपने फाइनैंशल रिसोर्स, मैन्युफैक्चरिंग योग्यता और क्षमता और लॉजिस्टिक्स जुटाकर हिंद-प्रशांत क्षेत्र में कोरोना वैक्सीन का उत्पादन और डिस्ट्रिब्यूशन तेज करने पर सहमत हुए हैं.'

वर्चुअल समिट में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग के लिए ‘क्वाड’ महत्वपूर्ण मंच बनने जा रहा है. उन्होंने कहा, ‘हम अपनी प्रतिबद्धताओं को जानते हैं ... हमारा क्षेत्र अंतरराष्ट्रीय कानून से संचालित है, हम सभी सार्वभौमिक मूल्यों के लिए प्रतिबद्ध हैं और किसी दबाव से मुक्त हैं लेकिन मैं हमारी संभावना के बारे में आशावादी हूं.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज