पीएम मोदी के संबोधन में आया खुबानी, केसर और कहवे का जिक्र, जानें क्या है इनकी खासियत

राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कश्मीर (Kashmir) की उन चीजों का जिक्र भी किया, जिसके लिए वह मशहूर है.

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 10:33 PM IST
पीएम मोदी के संबोधन में आया खुबानी, केसर और कहवे का जिक्र, जानें क्या है इनकी खासियत
राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कश्मीर (Kashmir) की उन चीजों का जिक्र भी किया, जिसके लिए वह मशहूर है.
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 10:33 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार को राष्ट्र को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir)  से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाए (Article 370 and 35 A) जाने के साथ-साथ राज्य के पुनर्गठन पर लोगों के समक्ष अपनी बात रखी. इस दौरान पीएम मोदी ने कश्मीर की उन चीजों का जिक्र भी किया, जिसके लिए वह मशहूर है.

पीएम ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर के केसर का रंग हो या कहवा का स्वाद, सेब का मीठापन हो या खुबानी का रसीलापन, कश्मीरी शॉल हो या फिर कलाकृतियां, लद्दाख के ऑर्गेनिक प्रॉडक्ट्स हों या हर्बल मेडिसिन, इसका प्रसार दुनियाभर में किए जाने की जरूरत है.'

यह भी पढ़ें: Zजानें कश्मीर मामले पर कैसे अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान

क्या है केसर?

कश्मीर की खूबसूरत वादियों में पैदा होने वाला केसर एक महंगा मसाला है. इसका इस्तेमाल ब्यूटी प्रोडक्ट्स में सुंदरता बढ़ाने के लिए और खाने में स्वाद और सुगंध लाने के लिए होता है. भारत में केसर की बिक्री से लाखों की कमाई होती है. इसकी खेती केवल संपन्न लोग ही कर पाते हैं क्योंकि ये काफी महंगा होता है.



क्या है खुबानी?
Loading...

खुबानी एक गुठलीदार फल होता है जो उत्तर भारत में काफी खाया जाता है. इसमें कई तरह के विटामिन और फाइबर्स होते हैं. कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि बीते 5000 सालों से इसे भारत में उगाया जा रहा है.

कहवा
कहवा एक पेय पदार्थ है जिसे ठंड में पिया जा सकता है. लौंग, दालचीनी, इलायची पाउडर केसर और चीनी डालकर इसे बनाया जाता है और सर्दियों में यह काफी कारगर होता है.

प्रधानमंत्री मोदी ने भरोसा जताया कि जम्मू-कश्मीर की जनता अलगाववाद को हराकर नई आशाओं के साथ आगे बढ़ेगी. मैं राज्य के गवर्नर से आग्रह करूंगा कि पिछले दो-तीन दशकों से लंबित ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल का गठन करने का काम जल्द करें. मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हमारे भाई-बहन अनेक अधिकारों से वंचित थे, जो उनके विकास में बड़ी बाधा थी, वो हम सबके प्रयासों से अब दूर हो गई है. जल्द ही केंद्रीय और राज्य के पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. इसके साथ ही युवाओं को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे.

यह भी पढ़ें:  राष्ट्र के नाम संदेश में बोले PM-कश्मीर में जल्द होंगे चुनाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 8:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...