• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 'देश ऐसी राजनीति का बंधक नहीं हो सकता'- संसद में गतिरोध के लिए विपक्ष पर बरसे PM

'देश ऐसी राजनीति का बंधक नहीं हो सकता'- संसद में गतिरोध के लिए विपक्ष पर बरसे PM

संसद का मानसून सत्र न चलने देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष को आड़े हाथों लिया है. (फाइल फोटो)

संसद का मानसून सत्र न चलने देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष को आड़े हाथों लिया है. (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा है कि विपक्ष जितना चाहे गतिरोध पैदा कर ले लेकिन 'देश ऐसे स्वार्थ और राजनीति का बंधक नहीं बनाया जा सकता.' उन्होंने कहा कि गतिरोध पैदाकर विपक्ष देश का विकास रोकने की कोशिश कर रहा है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. मानसून सत्र (Monsoon Session) में गतिरोध पैदा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने विपक्ष को स्वार्थपूर्ण राजनीति करने का जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा है कि विपक्ष जितना चाहे गतिरोध पैदा कर ले लेकिन ‘देश ऐसे स्वार्थ और राजनीति का बंधक नहीं बनाया जा सकता’. उन्होंने कहा कि गतिरोध पैदाकर विपक्ष देश का विकास रोकने की कोशिश कर रहा है.

    यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ से संबंधित एक वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करने के दौरान कही है. इससे पहले बीजेपी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी संसद सत्र में गतिरोध पैदा करने के लिए कांग्रेस को आड़े हाथों लिया था.

    रविशंकर प्रसाद ने भी जाहिर की नाराजगी
    उन्होंने कहा कि हमें भी कांग्रेस पार्टी से कई तीखे सवाल पूछने हैं. भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली स्थित मुख्यालय पर हुई प्रेस वार्ता में उन्होंने अनुच्छेद 370 के समाप्त होने के दो साल पूरे होने का जिक्र किया. इस दौरान उन्होंने टोक्यो ओलंपिक्स में 41 साल बाद मेडल हासिल करने वाली भारतीय हॉकी टीम को जीत पर बधाई दी.

    ‘कांग्रेस का एक सीधा मंत्र है कि परिवार का हित जब तक तब तक संसद चलने दी जाएगी ‘
    मानसून सत्र के दौरान संसद में हुए विपक्ष के हंगामे को लेकर प्रसाद ने कहा, ‘कांग्रेस ने 1947 के बाद से करीब 50 साल राज किया. लेकिन आज उनका व्यवहार कितना उचित है ये देश को जानना जरूरी है.’ उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस का एक सीधा मंत्र है कि परिवार का हित जब तक संसद साधेगी, तब तक संसद चलने दी जाएगी. जहां परिवार का हित नहीं होगा, वहां संसद नहीं चलने दी जाएगी.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज