PDPU के दीक्षांत समोराह में बोले PM मोदी- कार्बन फूटप्रिंट को 30-35% तक कम करना हमारा लक्ष्य

पंडित दीनदयाल उपाध्याय पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को संबोधित करते पीएम मोदी-
पंडित दीनदयाल उपाध्याय पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को संबोधित करते पीएम मोदी-

पंडित दीनदयाल उपाध्याय पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि संस्थान से पास होने वाले विद्यार्थी देश की नई ताकत बनेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2020, 1:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को गांधीनगर स्थित पंडित दीनदयाल पेट्रोलियम विश्वविद्यालय के 8वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा, आज देश अपने कार्बन फूटप्रिंट को 30-35% तक कम करने का लक्ष्य लेकर आगे बढ़ रहा है. प्रयास है कि इस दशक में अपनी ऊर्जा जरूरतों में नेचुरल गैस की हिस्सेदारी को हम चार गुणा तक बढ़ाएं.

पंडित दीनदयाल उपाध्याय पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि संस्थान से पास होने वाले छात्र देश की नई ताकत बनेंगे. पीएम मोदी ने कहा, 'एक समय ऐसा भी था जब लोग सवाल पूछते थे कि इस तरह की यूनिवर्सिटी का क्या भविष्य है. लेकिन यहां से निकलने वाले छात्रों और यूनिवर्सिटी में पढ़ाने वाले प्रोफेसर्स ने उन सभी सवालों का जवाब दे दिया है.' पीएम मोदी ने कहा, 'आज आप ऐसे समय में इंडस्ट्री में कदम रख रहे हैं, जब महामारी के चलते पूरी दुनिया के ऊर्जा के क्षेत्र में भी बड़े बदलाव हो रहे हैं. ऐसे में आज भारत में ऊर्जा के क्षेत्र में ग्रोथ की, एंटरप्रयोनशिप की, एम्पलॉएमेंट की, असीम संभावनाएं हैं.'


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'एक ऐसे समय में ग्रेजुएट होना जब दुनिया इतने बड़े संकट से जूझ रही है, ये कोई आसान बात नहीं है. लेकिन आपकी क्षमताएं इन चुनौतियों से कहीं ज्यादा बड़ी हैं. परेशानी क्या हैं, इससे ज्यादा महत्वपूर्ण ये है कि आपकी जरूरत क्या है, आपकी पसंद क्या है और आपका प्लान क्या है? ऐसा नहीं है कि सफल व्यक्तियों के पास समस्याएं नहीं होतीं, लेकिन जो चुनौतियों को स्वीकार करता है उनका मुकाबला करता है, उन्हें हराता है, समस्याओं का समाधान करता है, वो सफल होता है.



इसे भी पढ़ें :- देश भर में कैसे बटेगी कोरोना वैक्सीन? पीएम मोदी ने रणनीति को लेकर की अहम बैठक

प्रधानमंत्री मोदी ने दिया सफलता का मंत्र
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जीवन में वही लोग सफल होते है, वही लोग कुछ कर दिखाते है, जिनके जीवन में जिम्मेदारी की भावना होती है. विफल वो होते हैं जो जिम्मेदारी को बोझ समझते हैं. जिम्मेदारी का भाव व्यक्ति के जीवन में अवसर को भी जन्म देता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज