Home /News /nation /

pm modi speech in germany biggest community programme in munich after covid pandemic

कोरोना महामारी के बाद म्यूनिख में सबसे बड़ा कार्यक्रम, जानें PM मोदी ने अपने संबोधन में क्या-क्या कहा

पीएम मोदी का म्यूनिख में कोरोना के बाद सबसे बड़ा सामुदायिक कार्यक्रम था. ANI

पीएम मोदी का म्यूनिख में कोरोना के बाद सबसे बड़ा सामुदायिक कार्यक्रम था. ANI

PM Modi programme in Munich: पीएम नरेंद्र मोदी ने जर्मनी के म्यूनिख में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने अपनी 90 प्रतिशत की आबादी को वैक्सीन की दोनों खुराक दे दी है. म्यूनिख में कोरोना महामारी के बाद पहली बार इतना बड़ा सामुदायिक कार्यक्रम हुआ है जिसमें 7 हजार से ज्यादा लोगों ने भाग लिया.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने जर्मनी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को म्यूनिख में एक सामुदायिक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज का भारत अपनी पुरानी मानसिकता से बाहर आ चुका है. उन्होंने कहा कि कोरोना की जब वैक्सीन आई तो लोगों ने कहा कि भारत को अपनी पूरी आबादी तक वैक्सीन पहुंचाने में 10-15 साल का समय लगेगा लेकिन भारत ने साल,डेढ़ साल में ही कर दिखाया है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने 90 प्रतिशत आबादी को वैक्सीन की दोनों डोज दी है.

गौरतलब है कि जर्मनी सबसे ज्यादा कोरोना पीड़ित देश रहा है. म्यूनिख के ऑडी डोम स्टेडियम में हुआ यह सामुदायिक कार्यक्रम था कोरोना महामारी के बाद जर्मनी का सबसे बड़ा आयोजन था, जिसमें करीब 7 हजार से ज्यादा लोगों ने भाग लिया.

90 प्रतिशत ने वैक्सीन की दोनों डोज लगा ली
पीएम मोदी ने कहा, “आज भारत में 90% वयस्क आबादी को वैक्सीन की दोनों डोज़ लग चुकी हैं. 95% वयस्क ऐसे हैं, जो कम से कम एक डोज़ ले चुके हैं. ये वही भारत है, जिसके बारे में कुछ लोग कह रहे थे कि सवा अरब आबादी को वैक्सीन लगाने में 10-15 साल लग जाएंगे.” पीएम मोदी ने कहा कि भारत अब तत्पर है, तैयार है और प्रगति के लिए अधीर है. उन्होंने कहा कि भारत अब अपने सपनों के लिए और सपनों की सिद्धि के लिए अधीर है.

औसतन हर 10 दिन में एक यूनिकॉर्न बन रहा है
पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, “आज भारत के हर गरीब को 5 लाख रुपए के मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध है. कोरोना के इस समय में भारत पिछले दो साल से 80 करोड़ गरीबों को मुफ्त अनाज सुनिश्चित कर रहा है. इतना ही नहीं, आज भारत में औसतन हर 10 दिन में एक यूनिकॉर्न बन रहा है. भारत ने दिखाया है कि इतने विशाल और इतनी विविधता भरे देश में डेमोक्रेसी कितने बेहतर तरीके से डिलिवर कर रही है. जिस तरह करोड़ों भारतीयों ने मिलकर बड़े-बड़े लक्ष्य हासिल किए हैं, वो अभूतपूर्व है.”

पीएम मोदी ने आगे कहा, “आज भारत के हर गांव तक बिजली पहुंच चुकी है. आज भारत का लगभग हर गांव, सड़क मार्ग से जुड़ चुका है. आज भारत के 99 प्रतिशत से ज्यादा लोगों के पास क्लीन कुकिंग के लिए गैस कनेक्शन है. आज भारत का हर परिवार बैंकिंग व्यवस्था से जुड़ा हुआ है.”

‘लोकतंत्र हर भारतीय के डीएनए में है’
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि 1975 में लगाया गया आपातकाल भारत के जीवंत लोकतंत्र पर एक “काला धब्बा” है. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र हर भारतीय के डीएनए में है और 47 साल पहले, लोकतंत्र को बंधक बनाने और उसे कुचलने का प्रयास किया गया था, लेकिन देश की जनता ने इसे कुचलने की तमाम साजिशों का लोकतांत्रिक तरीके से जवाब दिया. मोदी ने ऑडी डोम स्टेडियम में प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए कहा, “हम भारतीय जहां भी रहते हैं अपने लोकतंत्र पर गर्व करते हैं.”

‘आपातकाल भारत के जीवंत लोकतंत्र पर एक काला धब्बा’
उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, “47 साल पहले, लोकतंत्र को बंधक बनाने और उसे कुचलने का प्रयास किया गया था. आपातकाल भारत के जीवंत लोकतंत्र पर एक काला धब्बा है.” जी7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने जर्मनी आये मोदी ने 30 मिनट से अधिक समय तक लोगों को संबोधित किया. उन्होंने कहा, “हर भारतीय गर्व से कह सकता है कि भारत लोकतंत्र की जननी है. संस्कृति, भोजन, परिधान, संगीत और परंपराओं की विविधता हमारे लोकतंत्र को जीवंत बनाती है.”

प्रवासी भारतीय भारत की सफलता के ‘ब्रांड एंबेसडर’
पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए भारत की सफलता की कहानी को बढ़ावा देने और भारत की सफलता के ‘ब्रांड एंबेसडर’ के रूप में काम करने में प्रवासी भारतीयों के योगदान की सराहना की. उन्होंने भारत की विकास गाथा पर प्रकाश डाला और देश के विकास के एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा की गई विभिन्न पहल का उल्लेख किया. उन्होंने कहा,”दुनियाभर में प्रवासी भारतीय न केवल भारत की सफलता की कहानी हैं, बल्कि राष्ट्र दूत भी हैं, जो भारत को दुनिया में ले जा रहे हैं और राष्ट्र की सफलता के लिए ब्रांड एंबेसडर बन रहे हैं.” पीएम मोदी ने कहा, “पिछली शताब्दी में जर्मनी और अन्य देशों को तीसरी औद्योगिक क्रांति से लाभ हुआ. भारत तब गुलाम था, इसलिए लाभ नहीं उठा सकता था. लेकिन अब भारत चौथी औद्योगिक क्रांति में पीछे नहीं रहेगा, यह अब दुनिया का नेतृत्व कर रहा है.”

‘आज भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल फोन निर्माता है’
उन्होंने कहा कि भारत में हर महीने औसतन 5,000 पेटेंट दाखिल किए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत हर महीने औसतन 500 से अधिक रेलवे कोच बनाता है. पीएम मोदी ने कहा, “एक समय था जब भारत ‘स्टार्टअप’ की दौड़ में कहीं नहीं था. आज हम तीसरे सबसे बड़े ‘स्टार्टअप इकोसिस्टम’ हैं. इसी तरह आज हम दुनिया के दूसरे सबसे बड़े मोबाइल फोन निर्माता हैं.” उन्होंने कहा कि भारत ने ‘स्वामित्व योजना’ शुरू की है, जिसके तहत भारतीय गांवों में भूमि की मैपिंग ड्रोन के माध्यम से ही की जा रही है. उन्होंने कहा, “उपलब्धियों की यह सूची बहुत लंबी है. अगर मैं बोलता रहूं तो आपके रात्रि भोजन का समय खत्म हो जाएगा. जब कोई देश सही नीयत से सही फैसले समय पर लेता है तो उसका विकास होना तय है.”

‘भारत अपने सपनों को पूरा करने के लिए बेताब है’
पीएम मोदी ने कहा, “आईटी, डिजिटल तकनीक में भारत अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है. दुनिया में चालीस प्रतिशत डिजिटल लेनदेन भारत से होता है. भारत डेटा खपत में नए रिकॉर्ड बना रहा है. भारत उन देशों में शामिल है, जहां डेटा सबसे सस्ता है.” उन्होंने कहा कि 21वीं सदी के नए भारत में जिस तेजी से लोग प्रौद्योगिकी को अपना रहे हैं, वह रोमांचकारी है. उन्होंने कहा, “भारत प्रगति और विकास के लिए आतुर है, भारत अपने सपनों को पूरा करने के लिए बेताब है.” प्रधानमंत्री ने कहा, “आज भारत को खुद पर और अपनी क्षमताओं पर विश्वास है. इसलिए हम पुराने रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं और नए लक्ष्य हासिल कर रहे हैं.”

उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन सिर्फ सरकारी नीतियों का मामला नहीं है. उन्होंने कहा, “जलवायु संबंधी सतत आचरण भारत में आम लोगों के जीवन का हिस्सा बन गया है.” उन्होंने कहा, “आज भारत में स्वच्छता एक जीवन शैली बनती जा रही है. भारत के लोग, भारत के युवा देश को स्वच्छ रखना अपना कर्तव्य समझ रहे हैं. आज भारत के लोगों को विश्वास है कि उनके पैसों का देश के लिए ईमानदारी से उपयोग किया जा रहा है, भ्रष्टाचार की भेंट नहीं चढ़ रहा है.”

‘भारत संकल्प से समृद्धि की ओर बढ़ रहा है’
प्रधानमंत्री ने कहा, “हम नए भारत के युवाओं के लिए 21वीं सदी की नीतियां लाए हैं. आज हमारे युवा अपनी मातृभाषा में अपनी शिक्षा पूरी कर सकेंगे.” उन्होंने कहा, “आज अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन के साथ भारत ने दुनिया को ‘वन सन, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड’ का मंत्र दिया है.” उन्होंने कहा, “जब हम आजादी के 75 साल पूरे कर रहे हैं, भारत अब नए सपने देख रहा है, नए लक्ष्य तय कर रहा है और उन्हें साकार करने की दिशा में काम कर रहा है. भारत संकल्प से समृद्धि की ओर बढ़ रहा है.”

पीएम मोदी ने कहा कि जब एक राष्ट्र के लोग एक साथ आते हैं और ‘जनभागीदारी’ के माध्यम से इसे बदलने की दिशा में काम करते हैं, तो राष्ट्र को दुनियाभर से अटूट समर्थन मिलता है. उन्होंने कहा कि भारत अब विकास के एक अजेय पथ पर है.

(इनपुट भाषा से भी)

Tags: Germany, Narendra modi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर