• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • UNGA में पीएम मोदी का बिना नाम लिए चीन पर हमला, पाक को आतंक पर सुनाई खरी-खरी

UNGA में पीएम मोदी का बिना नाम लिए चीन पर हमला, पाक को आतंक पर सुनाई खरी-खरी

पीएम ने पाकिस्तान का बिना नाम लिए कहा कि जो देश आतंकवाद को राजनीतिक टूल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं.

पीएम ने पाकिस्तान का बिना नाम लिए कहा कि जो देश आतंकवाद को राजनीतिक टूल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं.

PM Modi speech in un general assembly: पीएम ने पाकिस्तान का बिना नाम लिए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जो देश आतंकवाद को राजनीतिक टूल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं, उन्हें ये समझना होगा कि आतंकवाद उनके लिए भी उतना ही बड़ा खतरा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    न्यूयॉर्क. पीएम नरेंद्र मोदी ने आज संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए पाकिस्तान और चीन का बिना नाम लिए जमकर निशाना साधा. पीएम ने पाकिस्तान का बिना नाम लिए कहा कि जो देश आतंकवाद को राजनीतिक टूल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं, उन्हें ये समझना होगा कि आतंकवाद उनके लिए भी उतना ही बड़ा खतरा है. यही नहीं, पीएम ने समुद्र सुरक्षा और विस्तारवाद का जिक्र करते हुए कहा कि समुद्र सभी की साझी विरासत है और इसको बचाने की जरूरत है.

    पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76 वें अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा, ‘ये सुनिश्चित किया जाना जरूरी है कि अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद फैलाने के लिए नहीं हो या फिर वहां आतंकवादी घटना नहीं हो. हमें इसे बात के लिए भी सतर्क रहना होगा कि वहां की नाजुक स्थितियों का कोई देश अपने स्वार्थ के टूल की तरह इस्तेमाल न करे.’

    मोदी ने इशारों में पाकिस्तान को खूब खरी-खोटी सुनाई. उन्होंने कहा, ‘जो देश आतंकवाद का राजनीतिक टूल के रूप में इस्तेमाल करत है शायद वो भूल रहे हैं कि आतंकवाद उनके लिए भी उतना ही बड़ा खतरा है. हमें इस वक्त अफगानिस्तान की जनता, महिलाओं, बच्चों और अल्पसंख्यकों की मदद की जरूरत है और इसमें हमें अपना दायित्व निभाना होगा.’

    बिना नाम लिए चीन पर निशाना
    पीएम मोदी ने चीन पर भी इशारों-इशारों में जोरदार हमला बोला. समुद्र के जरिए व्यापार का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, ‘समुद्र हमारी साझी विरासत है. इसलिए हमें ध्यान रखना होगा कि समुद्र के संसाधनों का प्रयोग करें इसका दुष्प्रयोग नहीं करें. समुद्र अंतरराष्ट्रीय व्यापार की लाइफलाइन है और इसे विस्तारवाद की लड़ाई से बचना होगा. इसे बचाने के लिए अंतरराष्ट्रीय नियमों के अनुसार अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आवाज उठानी होगी.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज