PM मोदी कल लॉन्च करेंगे प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना और ई-गोपाल ऐप

PM मोदी कल लॉन्च करेंगे प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना और ई-गोपाल ऐप
PM नरेंद्र मोदी कल प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PMMSY) का शुभारंभ करेंगे (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana- PMMSY) का उद्देश्य मत्स्य पालन क्षेत्र (Fisheries Sector) और इससे संबद्ध गतिविधियों में 55 लाख अन्य लोगों के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लाभकारी रोजगार (Employment) के अवसर पैदा करना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 4:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) कल ई-गोपाल ऐप (e-Gopala App) के साथ, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana- PMMSY) का शुभारंभ करेंगे. PMMSY देश में मत्स्य पालन क्षेत्र (fisheries sector) पर केंद्रित और इसके सतत विकास की एक फ्लैगशिप योजना (flagship scheme) है, जिसके तहत वित्त वर्ष 2020-21 से वित्त वर्ष 2024-2025 के बीच 5 साल की अवधि के दौरान सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आत्मनिर्भर भारत (AtmaNirbhar Bharat) पैकेज के एक भाग के रूप में इसके कार्यान्वयन के लिए 20,050 करोड़ रुपये का निवेश (invest) किया जाना है.

इसमें से लगभग 12,340 करोड़ रुपये का निवेश समुद्री, आंतरिक मत्स्य पालन और अन्य मत्स्य पालन (Marine, Inland fisheries and Aquaculture) में लाभार्थियों के उन्मुख गतिविधियों के लिए प्रस्तावित है और लगभग 7,710 करोड़ रुपये का निवेश मत्स्य पालन के बुनियादी ढांचे (fisheries infrastructure) के निर्माण में किया जाना है.

उद्देश्य 55 लाख अन्य लोगों के लिए प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसर पैदा करना
इसका उद्देश्य 2024-25 तक मछली उत्पादन को अतिरिक्त 70 लाख टन बढ़ाना, 2024-25 तक मत्स्य निर्यात से होने वाली आय को 1,00,000 करोड़ रुपये तक बढ़ाना, मछुआरों और मछली किसानों की आय को दोगुना करना, मछली उत्पादन के बाद होने वाले नुकसान को वर्तमान के 20-25% से 10% पर लाना और मत्स्य पालन क्षेत्र और इससे संबद्ध गतिविधियों में 55 लाख अन्य लोगों के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लाभकारी रोजगार के अवसर पैदा करना है.
इसके अलावा ई-गोपाल ऐप किसानों के सीधे उपयोग के लिए तैयार किया गया एक व्यापक नस्ल सुधार बाज़ार और सूचना पोर्टल है.



डिजिटल लॉन्च में मंत्रियों के साथ बिहार के राज्यपाल और CM भी होंगे मौजूद
प्रधानमंत्री इस अवसर पर बिहार में मत्स्य पालन और पशुपालन क्षेत्रों में कई अन्य कार्यक्रमों की शुरुआत भी करेंगे.

यह भी पढ़ें: EPFO बैठक में हुआ बड़ा फैसला- 6 करोड़ नौकरी करने वालों को मिलेगा फायदा

इस डिजिटल लॉन्च में मत्स्य, पशुपालन और डेयरी के केंद्रीय मंत्री और राज्यमंत्री शामिल होंगे. साथ ही बिहार के राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी मौजूद रहेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज