लॉकडाउन के दौरान लाखों लोगों को खाना देने वाले NGO के प्रतिनिधियों से कल बात करेंगे PM मोदी

पीएम मोदी वाराणसी के लोगों से कल बातचीत करेंगे (फाइल फोटो)
पीएम मोदी वाराणसी के लोगों से कल बातचीत करेंगे (फाइल फोटो)

ये गैर सामाजिक संगठन (NGO) शिक्षा, सामाजिक, धार्मिक, स्वास्थ्य, होटल / सामाजिक क्लब और अन्य पेशेवर सेक्टर (Other Professional Sector) सहित विभिन्न सेक्टर (Different Sector) में काम करते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी (COVID Pandemic) के चलते लगाए गये लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान, वाराणसी (Varanasi) के निवासियों और सामाजिक संगठनों (Social Organisation) के सदस्यों ने अपने प्रयासों के साथ-साथ जिला प्रशासन (District Administration) को सहायता देकर यह सुनिश्चित किया कि भोजन सभी के लिए समय पर उपलब्ध (available timely for everyone in need) हो सके.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conference) के माध्यम से लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान खाद्य वितरण (Food Distribution) और अन्य सहायता उपायों के लिए इन संगठनों के प्रयासों को उजागर (showcase their efforts) करेंगे और उसकी चर्चा करेंगे. ये संगठन शिक्षा, सामाजिक, धार्मिक, स्वास्थ्य, होटल / सामाजिक क्लब और अन्य पेशेवर सेक्टर (Other Professional Sector) सहित विभिन्न सेक्टर में काम करते हैं.

इन लोगों ने वाराणसी में बांटे 20 लाख भोजन के पैकेट और 2 लाख सूखे राशन किट
लॉकडाउन के दौरान, वाराणसी में सौ से अधिक संगठनों ने जिला प्रशासन के फूड सेल के साथ-साथ व्यक्तिगत प्रयासों के माध्यम से लगभग 20 लाख भोजन पैकेट और 2 लाख सूखे राशन किट वितरित किए. खाद्य वितरण के अलावा, ये संगठन फेस मास्क, सैनिटाइज़र आदि के वितरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहे. उन्हें जिला प्रशासन की ओर से 'कोरोना योद्धाओं' के तौर पर भी सम्मानित किया गया था. इससे पहले पीएम मोदी ने वाराणसी के लोगों से बातचीत के दौरान ही पूरे देश में प्रवासियों की सहायता के लिए लोगों का अह्वान किया था.
यह भी पढ़ें: Unlock 2.0- UP में मास्क न लगाने पर लोगों से अब तक 8 करोड़ का जुर्माना वसूल



इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक (Cabinet Decision) में गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY- Garib Kalyan Anna Yojana) के विस्तार को मंजूरी मिल गई है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसकी जनकारी दी है. वित्त मंत्री (Finance Minister of India) ने ट्वीट के जरिए बताया कि गरीब कल्याण अन्न योजना को नवंबर 2020 तक बढ़ा दिया गया है. इससे 81.09 करोड़ गरीबों को फायदा मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज