फेयरवेल डिनर के बीच PM मोदी ने जनरल रावत से कहा-आप होंगे पहले CDS

फेयरवेल डिनर के बीच PM मोदी ने जनरल रावत से कहा-आप होंगे पहले CDS
सेना प्रमुख रहे जनरल बिपिन रावत ने आज से CDS की जिम्मेदारी संभालेंगे.

जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) दिसंबर, 1978 में भारतीय सेना (Indian Army) में कमीशन हुए थे. मंगलवार को वह सेना प्रमुख पद से रिटायर हुए और आज देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) का कार्यभार संभालेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 1, 2020, 8:32 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) आज चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में पदभार संभालने जा रहे हैं. कार्यकाल के आखिरी दिन उन्होंने इंडिया गेट स्थित वॉर मेमोरियल पर जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी. CDS का कार्यभार संभालने से पहले मीडिया से बात करते हुए रावत ने बताया कि उन्हें इस बात का कोई भी अंदाजा नहीं था कि उन्हें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बनाया जाएगा.

सूत्रों की मानें तो पीएम मोदी ने जनरल रावत को दो दिन पहले ही लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास पर फेयरवेल डिनर दिया था. इस मौके पर कैबिनेट के कई वरिष्ठ सदस्य और सशस्त्र बलों के अधिकारी भी मौजूद थे. इसी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने रावत को उन्हें देश के पहले सीडीएस नियुक्त किए जाने की जानकारी दी थी. प्रधानमंत्री मोदी ने जनरल रावत को बताया कि आप देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ होंगे.

बताया जाता है कि मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति द्वारा मंजूरी मिलने के बाद सोमवार रात लगभग 9 बजे रक्षा मंत्रालय ने जनरल रावत की नियुक्ति कर दी थी. केंद्र सरकार की ओर से सोमवार रात ही जनरल रावत को सीडीएस नियुक्त करने की घोषणा कर दी थी.



इसे भी पढ़ें :- सीमा पर किसी भी चुनौती से निपटने के लिए भारतीय सेना है बेहतर तरीके से तैयार: जनरल रावत
क्या होगी जिम्मेदारी?
अधिकारियों ने बताया कि सीडीएस की जिम्मेदारी तीन वर्षों के भीतर तीनों ही सेवाओं के परिचालन, लॉजिस्टिक्‍स, आवाजाही प्रशिक्षण, सहायक सेवाओं, संचार, मरम्‍मत व रखरखाव में संयुक्तता सुनिश्चित करना होगी. जनरल रावत चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ के तौर पर सैनिक मामलों के विभाग के भी प्रमुख होंगे. वो तीनों सैन्य सेवाओं के लिए प्रशासनिक कार्यों की देख-रेख करेंगे. तीनों सेवाओं से जुड़ी एजेंसियों, संगठनों और साइबर और अंतरक्षिण से संबंधित कार्यों की कमान चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ के हाथों में होगी. सीडीएस रक्षा मंत्री की अध्‍यक्षता वाली रक्षा अधिग्रहण परिषद और एनएसए की अध्‍यक्षता वाली रक्षा नियोजन समिति के सदस्‍य होंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीडीएस पद के सृजन की घोषणा इस साल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर की थी.

इसे भी पढ़ें :- जनरल बिपिन रावत के रिटायरमेंट के बाद नए आर्मी चीफ बने मनोज मुकुंद नरवणे

कई देशों के पास CDS सिस्टम
अमेरिका, चीन, यूनाइटेड किंगडम, जापान सहित दुनिया के कई देशों के पास चीफ ऑफ डिफेंस जैसी व्यवस्था है. नाटो देशों की सेनाओं में ये पद हैं. बताया जा रहा है कि विस्तृत भूमि, लंबी सीमाओं, तटरेखाओं और राष्ट्रीय सुरक्षा की चुनौतियों को सीमित संसाधनों से निपटने के लिए भारत के पास एकीकृत रक्षा प्रणाली के लिए चीफ ऑफ डिफेंस पद की बहुत जरूरत थी.


इसे भी पढ़ें :- जनरल बिपिन रावत ने कहा- मालूम न था CDS बनूंगा, बनानी है आगे की रणनीति
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading