धम्म चक्र दिवस पर PM नरेंद्र मोदी बोले- भगवान बुद्ध के बताए आठ मार्ग पर चले दुनिया; यहां पढ़ें संबोधन की 10 खास बातें

धम्म चक्र दिवस पर PM नरेंद्र मोदी बोले- भगवान बुद्ध के बताए आठ मार्ग पर चले दुनिया; यहां पढ़ें संबोधन की 10 खास बातें
'धम्म चक्र' को वीडियो संदेश के जरिए संबोधित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने ‘धम्म चक्र’ (Dhamma Chakra Diwas) दिवस समारोह को संबोधित किया. यहां पढ़ें प्रधानमंत्री के संबोधन की 10 खास बातें-

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)ने शनिवार को कहा कि जब विश्व असाधारण चुनौतियों से निपट रहा है तो इनका स्थायी समाधान भगवान बुद्ध के आदर्शों से मिल सकता है. मोदी ने ‘धम्म चक्र’ (Dhamma Chakra Diwas) दिवस समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि भगवान बुद्ध का अष्टांग मार्ग समाज और राष्ट्रों की कुशलक्षेम की तरफ का रास्ता दिखाता है.

यहां पढ़ें प्रधानमंत्री के संबोधन की 10 खास बातें-

1- मोदी ने कहा, ‘आज विश्व असाधारण चुनौतियों से निपट रहा है. इन चुनौतियों का स्थायी समाधान भगवान बुद्ध के आदर्शों से मिल सकता है. ये पूर्व में भी प्रासंगिक थे. ये वर्तमान में भी प्रासंगिक हैं और ये भविष्य में भी प्रासंगिक रहेंगे.’ बता दें ‘धम्म चक्र’ दिवस आषाढ़ पूर्णिमा को मनाया जाता है.



2- धम्मचक्र कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'भगवान बुद्ध के बताए आठ मार्ग कई समाजों और राष्ट्रों के लिए कल्याण का रास्ता दिखाते हैं. यह करुणा और दया के महत्व पर जोर डालता है. भगवान बुद्ध की शिक्षाएं विचार और क्रिया दोनों में सरलता मनाती हैं.'
3- प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, बौद्ध धर्म लोगों को आदर करना सिखाता है. लोगों के लिए आदर करना, गरीबों के लिए आदर करना और महिलाओं के लिए आदर करना. शांति और अहिंसा का अदर करना. आज के समय में बुद्ध द्वारा दी गई सीख भी प्रासंगिक है.

4- पीएम मोदी ने कहा, गौतम बुद्ध ने सारनाथ में दिए अपने पहले उपदेश में और बाद के दिनों में भी दो चीजों को लेकर बात की, आशा और उद्देश्य. उन्होंनो इन दोनों के बीच मजबूत लिंक देखा. क्योंकि आशा से ही उद्देश्य पैदा होता है.

5- प्रधानमंत्री ने कहा कि आशा और उद्देश्य के बीच काफी मजबूत कड़ी है, क्योंकि आशा से ही उद्देश्य पैदा होता है. जिस समय दुनिया चुनौती का सामना कर रही है उस वक्त तेज तर्जार युवा मन वैश्विक समस्याओं का हाल लेकर सामने आ रहा है.

6- प्रधानमंत्री ने कहा, मैं अपने युवा दोस्तों से अपील करना चाहूंगा कि वह बुद्ध के विचारों को अपनाएं. इस तरह से वह खुद भी मोटिवेट हों और दूसरों को भी आगे का रास्ता दिखाएं.

7- पीएम मोदी ने कहा कि इस समय विश्व मुश्किल हालात से गुजर रहा है. इन सभी चुनौतियों का सामना और समाधान गौतम बुद्ध के विचारों के साथ किया जा सकता है. बुद्ध के विचार जितने पहले प्रासंगिक थे उतने ही आज भी प्रासंगिक हैं और आगे भी रहेंगे.

8- पीएम ने कहा कि यह करुणा और दया की महत्ता को उजागर करता है. भगवान बुद्ध के उपदेश ‘विचार और कार्य’ दोनों में सरलता की सीख देते हैं.

9- पीएम मोदी ने कहा कि इस समय विश्व मुश्किल हालात से गुजर रहा है. इन सभी चुनौतियों का सामना और समाधान गौतम बुद्ध के विचारों के साथ किया जा सकता है.

10- पीएम मोदी ने कहा, 'भगवान बुद्ध के बताए आठ मार्ग कई समाजों और राष्ट्रों के लिए कल्याण का रास्ता दिखाते हैं. यह करुणा और दया के महत्व पर जोर डालता है. भगवान बुद्ध की शिक्षाएं विचार और क्रिया दोनों में सरलता मनाती हैं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading