• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Live: पीएम मोदी बोले- सर्जिकल स्‍ट्राइक की सफलता नहीं जवानों के सुरक्षित लौटने को लेकर चिंतित था

Live: पीएम मोदी बोले- सर्जिकल स्‍ट्राइक की सफलता नहीं जवानों के सुरक्षित लौटने को लेकर चिंतित था

देश, दुनिया, राजनीति, खेल, आर्थिक और मनोरंजन जगत में क्या कुछ हुआ, पढ़ें सभी खबरें एक ही पेज पर...

  • News18Hindi
  • | January 01, 2019, 19:44 IST
    facebookTwitterLinkedin
    LAST UPDATED 3 YEARS AGO
    19:34 (IST)
    चीन के साथ डोकलाम में तनाव वाले मसले पर पीएम ने कहा कि भारत को डोकलाम पर उसके जवाब के लिए जाना जाएगा. भारत ने ऐसा कुछ नहीं किया जिसे धोखा माना जाए लेकिन हमारी शुरू से स्थिति रही है कि वह पड़ोसियों से दोस्‍ताना रिश्‍ते चाहता है. 

    19:32 (IST)

    भारत में चाहे किसी की भी सरकार हो उसने कभी भी पाकिस्‍तान से बातचीत का विरोध नहीं किया. यह देश की लंबे समय से चले आ रही नीति है न कि मोदी सरकार या मनमोहन सरकार की. हमने केवल एक बात कही कि बम और बंदूक के शोर में बातचीत की आवाज सुनाई नहीं देती.

    19:28 (IST)

    पाकिस्‍तान से रिश्‍तों पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि पाकिस्‍तान जल्‍द सुधरने वाला नहीं है. साथ ही पाकिस्‍तान के साथ संबंधों को लेकर सरकार की क्‍या योजना है इस बारे में मीडिया में तो बताया नहीं जा सकता. लेकिन प्रत्‍येक सरकार ने पाकिस्‍तान से संबंध सुधारने के लिए काम किया है. 

    19:22 (IST)

    सर्जिकल स्‍ट्राइक की घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पूरा बयान यहां देखें...

    19:22 (IST)

    सर्जिकल स्‍ट्राइक पर पीएम ने कहा कि उनका मानना है कि इसका राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए. लेकिन न तो सरकार के किसी मंत्री और न सरकार ने इसका जिक्र किया. सेना ने ही इसकी जानकारी दी थी. इससे पहले पाकिस्‍तान को भी बताया गया था. लेकिन कुछ दलों ने सवाल उठाए जिसके बाद इसकी जानकारी देनी पड़ी.

    19:22 (IST)

    सर्जिकल स्‍ट्राइक पर पीएम ने कहा कि उनका मानना है कि इसका राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए. लेकिन न तो सरकार के किसी मंत्री और न सरकार ने इसका जिक्र किया. सेना ने ही इसकी जानकारी दी थी. इससे पहले पाकिस्‍तान को भी बताया गया था. लेकिन कुछ दलों ने सवाल उठाए जिसके बाद इसकी जानकारी देनी पड़ी.

    19:19 (IST)

    सर्जिकल स्‍ट्राइक से जुड़े सवाल पर प्रधानमंत्री ने कहा कि उरी हमले की घटना के बाद वे आहत थे. इसके बाद ही सर्जिकल स्‍ट्राइक की योजना बनी. दो बार सर्जिकल स्‍ट्राइक की योजना को टाला गया. इसके बाद इसे मंजूरी दी गई. इसमें प्राथमिकता जवानों का सुरक्षित लौटना था.

    19:15 (IST)

    संवैधानिक संस्‍थाओं को कमजोर करने के आरोप पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि 10 साल तक पीएम कमजोर रहा और नेशनल एडवायजरी कमीशन बनाया गया. यह संस्‍थाओं का अपमान करना था. किस तंत्र में एक पार्टी नेता को कैबिनेट द्वारा लिए गए फैसले को फाड़ने का अधिकार होता है. हमें संस्‍थाओं का सम्‍मान करना चाहिए. हमारे एक पूर्व प्रधानमंत्री ने योजना आयोग को 'जोकरों का दल' कह दिया था. आपको पता है उस समय योजना आयोग के डिप्‍टी चेयरमैन कौन हैं. मोदी ने इस बयान के जरिए राजीव गांधी के बयान की ओर इशारा किया. उस समय मनमोहन सिंह योजना आयोग के डिप्‍टी चेयरमैन थे.

    19:11 (IST)

    एनडीए के सहयोगियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2014 में हमें पूर्ण बहुमत मिला, लेकिन हमने सहयोगियों को सरकार में शामिल किया. सरकार पर फैसला सबसे पूछकर करते हैं. राज्य की राजनीति अलग होती है. हम चाहते हैं कि साथी दल भी आगे बढ़ें. बीजेपी के बारे में कहा जाता है कि यह उत्तर भारत की पार्टी है और जबकि हम दक्षिण और पश्चिम भारत में भी हैं. हमारे  बारे में कहा जाता है कि हम उच्च वर्ण की पार्टी हैं, जबकि बीजेपी में सबसे अधिक दलित एमपी, किसान एमपी, ग्रामीण जीवन से जुड़े हुए एमपी हैं.

    19:10 (IST)

    पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश की जनता चुनाव की दिशा तय करेगी और एजेंडा तय करेगी. 2019 में जनता बनाम गठबंधन होने जा रहा है. तेलंगाना में गठबंधन का पहला प्रयोग था और बहुत बुरा हाल रहा, लेकिन कोई इस पर चर्चा नहीं करता.

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर, नोटबंदी, सर्जिकल स्‍ट्राइक और पाकिस्‍तान से रिश्‍तों के मुद्दों पर सवालों के जवाब दिए हैं. समाचार एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्‍यू में मोदी ने सीमापार आंतक के सवाल पर कहा कि एक लड़ाई से पाकिस्‍तान सुधर जाएगा ये सोचना बहुत बड़ी गलती होगी. पाकिस्‍तान को सुधरने में अभी और समय लगेगा. 95 मिनट के इस इंटरव्‍यू में उन्‍होंने राम मंदिर के सवाल पर कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए कोई अध्यादेश तभी लाया जा सकता है, जब इस पर न्यायिक कार्यवाही पूरी हो जाए.

    राफेल सौदे पर विपक्ष के आरोपों पर पीएम मोदी ने जवाब दिया कि वह संसद में इस मसले पर बोल चुके हैं. भारत और फ्रांस ने भी इस पर जवाब दे दिया है. मामला सुप्रीम कोर्ट से भी निकल चुका है. ऐसे में विपक्ष के आरोपों पर अटके रहना ठीक नहीं. सर्जिकल स्‍ट्राइक से जुड़े सवाल पर प्रधानमंत्री ने कहा कि उरी हमले के बाद इसकी योजना बनी. सर्जिकल स्‍ट्राइक की सफलता से ज्‍यादा जवानों का सुरक्षित लौटना उनके लिए सबसे बड़ी प्राथमिकता थी.


    इधर, बीजेपी ने सोहराबुद्दीन मुठभेड़ मामले में कोर्ट के फैसले के बाद अब कांग्रेस पर हमला बोला है. केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया कि कांग्रेस ने अमित शाह को फंसाने के लिए राजनीतिक षड़यंत्र रचा. कांग्रेस ने सीबीआई का दुरुपयोग कर शाह को फंसाया. उन्‍होंने कहा कि कोर्ट का जो फैसला आया है उसमें साफ कहा गया है कि अमित शाह के खिलाफ कोई सबूत नहीं है.

    इससे पहले कोरेगांव-भीमा युद्ध की 201वीं वर्षगांठ पर महाराष्ट्र के 'कोरेगांव भीमा' में पुलिस पूरी तरह से अलर्ट है. पिछले साल की तुलना में इस साल 10 गुना से अधिक सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है ताकि इस बार पिछले साल की तरह कोई हिंसक घटना न हो. बता दें कि हर साल 1 जनवरी को पूरे महाराष्ट्र से हजारों की संख्या में अनुसूचित जाति के लोग पुणे से 40 किलोमीटर दूर कोरेगांव भीमा युद्ध स्मारक पर इकट्ठा होते हैं.

     

    देश, दुनिया, राजनीति, खेल, आर्थिक और मनोरंजन जगत में क्या कुछ हुआ, पढ़ें सभी खबरें एक ही पेज पर...

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन