Home /News /nation /

क्या आप 60 वर्ष से ऊपर आयु के कॉ-मॉरबिडिटी से पीड़ित हैं?, तो जानिए पीएम मोदी ने आपके लिए क्या घोषणा की है

क्या आप 60 वर्ष से ऊपर आयु के कॉ-मॉरबिडिटी से पीड़ित हैं?, तो जानिए पीएम मोदी ने आपके लिए क्या घोषणा की है

पीएम ने बताया कि 90 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है.(फाइल फोटो)

पीएम ने बताया कि 90 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है.(फाइल फोटो)

Precaution Dose in India, Booster Dose For Comorbidities: ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि भारत में भी कई लोगों के ओमीक्रॉन से संक्रमित होने का पता चला है. मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि पैनिक न हो बल्कि सावधान और सतर्क रहें. उन्होंने कहा वैश्विक स्तर पर अध्ययन करने से पता चलता है कि महामारी से बचाव में व्यक्तिगत एहतियात जैसे मास्क और हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धुलना, सबसे ज्यादा कारगर हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शनिवार को राष्ट को संबोधित किया. अपने संबोधन में पीएम ने बुजुर्गों और बच्चों के लिए बड़े ऐलान किया. प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि आने वाले नए साल में 10 जनवरी से Precaution Doses देने का काम देश में शुरू किया जाएगा. यह Precaution Doses उन लोगों को दी जाएगी जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक है और जो कॉ-मॉरबिडिटी (Booster Dose For Comorbidities) से पीड़ित हैं. पीएम ने बताया कि यह फैसला डॉक्टर्स और वैज्ञानिकों की सलाह के बाद लिया गया है.

    पीएम मोदी ने कहा कि पूरे कोरोना कॉल और वैक्सीनेशन अभियान के दौरान स्वास्थ्य क्षेत्र और दूसरे क्षेत्र के फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स ने महामारी के खिलाफ जारी जंग में एक अहम योगदान दिया है. इसलिए 10 जनवरी से हेल्थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को Precaution Doses दी जाएगी. मोदी सरकार का यह फैसला ऐसे समय में आया है जब कोविड के नए वेरिएंट का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है.

    पीएम मोदी ने कहा, “कॉमरेडिटी वाले और 60 साल से अधिक उम्र के लोग अपने डॉक्टरों की सिफारिश पर 10 जनवरी, 2022 से Precaution Doses के लिए पात्र होंगे.” अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने 3 जनवरी से 15-18 वर्ष की आयु के बच्चों के टीकाकरण की शुरुआत की भी घोषणा की.

    यह भी पढ़ें- Booster Dose In India: इस तारीख से Precaution Dose की होगी शुरुआत, जानें सबसे पहले किन्हें लगेगा?

    ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि भारत में भी कई लोगों के ओमीक्रॉन से संक्रमित होने का पता चला है. मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि पैनिक न हो बल्कि सावधान और सतर्क रहें. उन्होंने कहा वैश्विक स्तर पर अध्ययन करने से पता चलता है कि महामारी से बचाव में व्यक्तिगत एहतियात जैसे मास्क और हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धुलना, सबसे ज्यादा कारगर हैं.

    देश में स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता के बारे में जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि, भारत में 18 लाख आइसोलेशन बेड, पांच लाख ऑक्सीजन-समर्थित बेड, 1.40 लाख आईसीयू बेड, 90,000 बाल चिकित्सा आईसीयू और गैर-आईसीयू बेड हैं. हमारे पास 3,000 से अधिक काम कर रहे पीएसए ऑक्सीजन प्लांट हैं, पूरे देश में चार लाख ऑक्सीजन सिलेंडर वितरित किए गए हैं.”

    वैक्सीनेशन अभियान को लेकर पीएम ने कहा कि सभी नागरिकों का प्रयास और सामूहिक इच्छाशक्ति का फल है कि आज भारत में 141 करोड़ लोगों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज दी जा चुकी है. आज हर भारतवासी इस बात पर गर्व करेगा की हमने दुनिया का सबसे बड़ा सबसे विस्तारित और कठिन परिस्थितियों के बीच सफल वैक्सीनेशन अभियान चलाया. उन्होंने देश को बताया कि देश में इस समय 61 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है जबकि वहीं 90 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है.

    Tags: Booster Dose, COVID 19, Omicron, PM Narnedra Modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर