मोदी सरकार 2.0: PM ने गिनाईं 75 दिन की 75 उपलब्धियां, किसान से कश्मीर तक किया काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, एनडीए सरकार (NDA Government) ने अपने दूसरे कार्यकाल में अब तक जो हासिल किया है वो स्पष्ट नीति और सही दिशा में चलने की नीति के कारण हो पाया. उन्‍होंने कहा कि सरकार ने चंद्रयान-2, तीन तलाक से निजात और कश्‍मीर से लेकर किसान तक सबके लिए काम किया है.

News18Hindi
Updated: August 14, 2019, 7:25 AM IST
मोदी सरकार 2.0: PM ने गिनाईं 75 दिन की 75 उपलब्धियां,  किसान से कश्मीर तक किया काम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, सरकार ने स्‍पष्‍ट नीति और सही दिशा में काम करते हुए कश्‍मीर से किसानों तक के लिए अच्‍छा काम किया है.
News18Hindi
Updated: August 14, 2019, 7:25 AM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने दूसरे कार्यकाल के 75वें दिन केंद्र सरकार के कामकाज का लेखा-जोखा पेश किया. अमूमन सरकार अपना रिपोर्ट कार्ड 100 दिन में पेश करती है. उन्‍होंने सरकार के अब तक के कामकाज को शानदार बताया. उन्‍होंने कहा कि सरकार ने स्‍पष्‍ट नीति और सही दिशा में काम करते हुए कश्‍मीर से किसानों तक के लिए अच्‍छा काम किया है.

सरकार बनने के कुछ दिन में ही तय कर दी गई थी अभूतपूर्व रफ्तार
पीएम मोदी ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस को दिए इंटरव्यू में कहा कि हमने सरकार बनने के कुछ ही दिनों में अभूतपूर्व रफ्तार तय कर दी. हमने जो हासिल किया है, वह स्पष्ट नीति और सही दिशा में काम करने का परिणाम है. हमारी सरकार ने शुरुआती 75 दिनों में ही बहुत काम कर डाला है. सरकार ने जल आपूर्ति सुधारने और जल संरक्षण को बढ़ावा देने के एकीकृत दृष्टिकोण और एक मिशन मोड के लिए जलशक्ति मंत्रालय के गठन के साथ हमारे समय के सर्वाधिक जरूरी मुद्दे को सुलझाने के साथ शुरुआत की.

जोरदार तरीके से वापसी के कारण बेहतर काम कर पा रही है सरकार

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सरकार जोरदार तरीके से वापसी के कारण शानदार काम कर पा रही है. सरकार के 75 दिनों का काम उसी मजबूत बुनियाद का नतीजा है, जिसे हमने पिछले पांच साल के कार्यकाल में बनाया था. पिछले पांच साल में किए गए सैकड़ों सुधारों के कारण देश आज इस गति से आगे बढ़ने के लिए तैयार है. सरकार के काम में लोगों की भावनाएं और आकांक्षाएं भी जुड़ी हुई हैं. यह सिर्फ सरकार के कारण नहीं, बल्कि संसद में मजबूती की वजह से भी हुआ है.

पीएम मोदी ने 17वीं लोकसभा के बजट सत्र में सबसे ज्यादा काम होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि मेरी नजर में यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है, बल्कि बेहतरी का ऐतिहासिक मोड़ है.


बजट सत्र में सबसे ज्‍यादा काम पर प्रधानमंत्री मोदी ने जताई खुशी
Loading...

पीएम मोदी ने 17वीं लोकसभा के बजट सत्र में सबसे ज्यादा काम होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि मेरी नजर में यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है, बल्कि बेहतरी का ऐतिहासिक मोड़ है, जिसने संसद को जनता की जरूरतों के प्रति अधिक जवाबदेह बनाया है‌. कई ऐतिहासिक पहल की गईं, जिसमें किसानों और व्यापारियों के लिए पेंशन योजना, मेडिकल सेक्टर में सुधार, दिवाला व दिवालियापन संहिता में अहम संशोधन, श्रम सुधार की शुरुआत शामिल हैं. समय की बर्बादी और लंबे सोच-विचार के बजाय कार्यान्वयन व साहसी निर्णय लेना सरकार की पहचान बन गई है.

अनुच्‍छेद-370 और 35ए हटाने से भौचक्‍का रह गया पाकिस्‍तान
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कश्मीर से बड़ा कोई निर्णय नहीं हो सकता है. उन्‍होंने कहा कि सरकार ने अनुच्छेद-370 और अनुच्छेद-35ए को जिस व्यवस्थित और निर्बाध तरीके से सफलतापूर्वक हटाया, उससे न केवल पाकिस्तान की आंखें चौंधिया गईं, बल्कि वह भौचक्क रह गया. सरकार संसद में मजबूती के कारण अपने शुरुआती 75 दिनों में ही एक के बाद एक बेहतरीन फैसले लेने में कामयाब हो पाई है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि सरकार ने बच्चों की सुरक्षा से लेकर चंद्रयान-2, भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई से लेकर मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से निजात दिलाने तक सब कुछ कर के दिखाया‌.


पहले की सरकारें एनएमसी बिल पर सोचा, लेकिन आगे नहीं बढ़ पाईं
पीएम ने एनएमसी बिल को लेकर डॉक्टरों की नाराजगी पर पूछे गए सवाल पर कहा कि जब 2014 में सरकार बनी थी, तब मेडिकल शिक्षा की मौजूदा व्यवस्था को लेकर कई चिंताएं सामने आई थीं. इससे पहले, अदालतों ने भारत में मेडिकल शिक्षा को संभाल रही संस्थाओं के खिलाफ कड़े शब्दों में आपत्ति दर्ज कराई थी. इन्हें भ्रष्टाचार के गढ़ कहा था. एक संसदीय समिति ने गहन अध्ययन के बाद मेडिकल शिक्षा को लेकर निराशाजनक तस्वीर पेश की थी. पहले की सरकारों ने इस क्षेत्र को सुधारने के बारे में सोचा था, लेकिन इस दिशा में आगे नहीं बढ़ सकी थीं.

'स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र में सुधार से लेकर भ्रष्‍टाचार के खिलाफ कार्रवाई तक सब किया'
पीएम मोदी ने कहा कि हमने स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र में सुधार करने की दिशा में आगे बढ़ने का फैसला किया. यह लोगों की सेहत और युवाओं के भविष्य से जुड़ा मामला है. मौजूदा समस्याओं से निपटने के लिए राष्ट्रीय मेडिकल आयोग (एनएमसी) इस क्षेत्र में दूरगामी सुधार है‌. इसमें सुधार के कई आयाम हैं, जो भ्रष्टाचार के मौकों को खत्म करते हैं और पारदर्शिता को बढ़ाते हैं. उन्‍होंने कहा कि सरकार ने बच्चों की सुरक्षा से लेकर चंद्रयान-2, भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई से लेकर मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से निजात दिलाने तक सबकुछ कर के दिखाया‌.

ये भी पढ़ें: 

जम्‍मू-कश्‍मीर का तरक्‍की की राह में पहला कदम, 12-14 अक्‍टूबर को होगा ग्‍लोबल इन्‍वेस्‍टर्स समिट

कश्मीर पर फिर अलग-थलग पड़ा पाक, कुरैशी बोले- किसी ने नहीं दिया हमारा साथ
First published: August 14, 2019, 6:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...