पीएम बोले- TMC के 'गुंडों' ने तोड़ी विद्यासागर की मूर्ति, हम लगाएंगे नई

पीएम मोदी ने कहा, 'मैं तो काफी समय से ममता बनर्जी का रवैया देख रहा हूं, लेकिन अब तो पूरा देश इसे देख रहा है.'

News18Hindi
Updated: May 16, 2019, 3:23 PM IST
News18Hindi
Updated: May 16, 2019, 3:23 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के घोसी में एक चुनावी रैली में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तंज करते हुए गुरुवार को कहा कि वह काफी समय से दीदी का रवैया देख रहे हैं जिसे अब पूरा देश देख रहा है और हमारी सरकार उसी जगह पर ईश्वरचंद्र विद्यासागर की पंचधातु से निर्मित प्रतिमा स्थापित कर तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को जवाब देगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ दी. यह कृत्य जिन्होंने किया है उन्हें कठोरतम सजा दी जानी चाहिए. मोदी ने कहा  प्रख्यात समाज सुधारक और बंगाल के नवजागरण काल की चर्चित हस्ती ईश्वरचंद्र विद्यासागर के दृष्टिकोण के प्रति समर्पित हमारी सरकार उसी जगह पर उनकी पंचधातु से निर्मित प्रतिमा स्थापित करेगी और तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को जवाब देगी.

पीएम ने कहा एक महीने पहले तक ‘मोदी हटाओ’ का राग अलाप रहे महामिलावटी आज बौखलाए हुए हैं, क्योंकि देश ने उनकी पराजय पर मुहर लगा दी है और राज्य ने तो उनका पूरा गणित ही बिगाड़ दिया है. पीएम ने कहा देश इन महामिलावटी लोगों की सच्चाई शुरू से ही जानता है कि मोदी को हटाना तो एक बहाना था, जिसकी आड़ में इन्हें अपने भ्रष्टाचार के पाप को छिपाना था.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के जमीन से कटे नेताओं ने जाति के आधार पर एक अवसरवादी गठबंधन किया, लेकिन अपने कार्यकर्ताओं को भूल गए जिसकी वजह से ये कार्यकर्ता आज भी एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं. पीएम ने कहा वो महामिलावटी जो महीनेभर पहले तक मोदी हटाओ का राग अलाप रहे थे, वो आज बौखलाए हैं. उनकी पराजय पर देश ने मुहर लगा दी है. उत्तर प्रदेश ने इनका सारा गुणा गणित ही बिगाड़ दिया है.

प्रधानमंत्री ने कहा, 'इन लोगों के कुछ जातियों को अपना गुलाम समझ लिया था, 2014 में पहली बार समझने और 2017 में दूसरी बार समझाने के बाद उत्तर प्रदेश के लोग 2019 में अच्छे से समझाने जा रहे हैं कि जातियां किसी की गुलाम नहीं हैं. अब बुआ हो या बबुआ हो, इन लोगों ने खुद को गरीबों से इतना दूर कर लिया है, इन्होने अपने आसपास पैसे की, वैभव की और अपने दरबारियों की इतनी बड़ी दीवार खड़ी कर ली है की अब इन्हें गरीबों का दुख नजर नहीं आता.'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मायावती और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ दिन पहले राजस्थान के अलवर में एक दलित बेटी के साथ गैंगरेप किया गया था. वहां बहन जी के समर्थन से कांग्रेस की सरकार चल रही है. कांग्रेस की सरकार ने चुनाव को देखते हुए उस दलित बेटी के साथ हुए इस राक्षसी अपराध को छिपाने की कोशिश की.

पीएम ने कहा बहन जी सब जानती हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने के बजाय वो मोदी को गालियां देने में जुटी हैं. प्रधानमंत्री ने कहा सपा-बसपा ने यहां से ऐसे उम्मीदवार को टिकट दिया है जो बलात्कार के आरोप में भगौड़ा है. समाजवादी पार्टी का इतिहास तो लोग जानते हैं, लेकिन बहन जी क्या ऐसे उम्मीदवार के लिए वोट मांगेगी?ये भी पढ़ें- पाकिस्तान का रुपया हुआ 'तबाह', अब टूटेगी पाकिस्तानियों की कमर

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बहन जी ने पश्चिम बंगाल को लेकर मुझ पर निशाना साधा है. चुनाव आयोग को भी आड़े हाथों लिया है. जिस तरह ममता बनर्जी यूपी, बिहार और पूर्वांचल के लोगों पर निशाना साध रही हैं उससे लग रहा था कि मायावती कड़ी प्रतिक्रिया देंगी लेकिन उन्हें तो केवल कुर्सी का खेल खेलना है. पीएम ने कहा मैं तो काफी समय से ममता बनर्जी का रवैया देख रहा हूं लेकिन अब तो पूरा देश इसे देख रहा है.

बंगाल में मंगलवार को हुई हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा कि टीएमसी के गुंडों की दादागीरी परसों रात भी देखने को मिली है. परसों कोलकाता में भाई अमित शाह के रोड शो के दौरान टीएमसी के गुंडों ने ईश्वर चंद विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ दिया. ऐसा करने वालों को कठोर से कठोर सज़ा दी जानी चाहिए.

ये भी पढ़ें-

कोर्ट में सीबीआई बोली- खुद से गया है नजीब, आखिरी बार...

तिरंगे का सपना पूरा करने के लिए इस शख्स ने बेच दिया अपना घर

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार