लाइव टीवी

Howdy Modi: शशि थरूर बोले- विदेशों में सम्मान पाने के हकदार हैं PM मोदी

भाषा
Updated: September 22, 2019, 7:54 PM IST
Howdy Modi: शशि थरूर बोले- विदेशों में सम्मान पाने के हकदार हैं PM मोदी
थरूर ने कहा, ‘पीएम मोदी विदेशों में सम्मान पाने के हकदार हैं क्योंकि (वहां) वह हमारे राष्ट्र के प्रतिनिधि होते हैं

शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने कहा, ‘पीएम मोदी (PM Narendra Modi) विदेशों में सम्मान पाने के हकदार हैं क्योंकि (वहां) वह हमारे राष्ट्र के प्रतिनिधि होते हैं. लेकिन जब वह भारत में होते हैं, हमें उनसे सवाल करने का अधिकार है.’

  • भाषा
  • Last Updated: September 22, 2019, 7:54 PM IST
  • Share this:
पुणे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) जब भारत के प्रतिनिधि के तौर पर विदेश यात्रा करते हैं, उस वक्त वह सम्मान पाने के हकदार होते हैं. लेकिन जब वह देश में होते हैं, तब लोगों को उनसे सवाल करने का अधिकार है. कांग्रेस नेता का ये बयान प्रधानमंत्री के हाउडी मोदी (Howdy Modi) प्रोग्राम से पहले आया है. पीएम मोदी आज ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में 50 हजार लोगों की विशाल भीड़ को संबोधित करेंगे.

देश की एक भाषा (हिंदी) (Common Language Hindi) होने संबंधी विवाद पर केरल से शशि थरूर ने कहा कि वह ‘त्रि-भाषा फार्मूला’ (बहुभाषी संचार क्षमताओं को बढ़ावा देने) के पक्ष में हैं. उन्होंने महाराष्ट्र के पुणे जिले में ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस द्वारा आयोजित एक सत्र में यह बात कही.

‘विदेशों में पीएम मोदी सम्मान पाने के हकदार’
थरूर ने कहा, ‘पीएम मोदी विदेशों में सम्मान पाने के हकदार हैं क्योंकि (वहां) वह हमारे राष्ट्र के प्रतिनिधि होते हैं. लेकिन जब वह भारत में होते हैं, हमें उनसे सवाल करने का अधिकार है.’ देश की एक भाषा होने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि ‘हिंदी, हिंदुत्व और हिन्दुस्तान’ को बढ़ावा देने की बीजेपी की विचारधारा देश के लिए ‘खतरनाक’ है. उन्होंने कहा कि हमें त्रि-भाषा फार्मूले को आगे बढ़ाने की जरूरत है.


शाह बोले- हिंदी भाषा थोपे जाने की नहीं कही बात
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देश की एक भाषा होने संबंधी अपनी टिप्प्णी से पैदा हुई बहस के बीच बुधवार को कहा था कि उन्होंने देश में अन्य स्थानीय भाषाओं पर हिंदी थोपे जाने की बात कभी नहीं कही, बल्कि दूसरी भाषा के रूप में इसके (हिंदी के) इस्तेमाल की हिमायत की है.
Loading...

‘हिंदुत्व और भगवान राम का अपमान’
थरूर ने ‘मॉब लिंचिंग’ (भीड़ हत्या) की घटनाओं को लेकर सत्तारूढ़ बीजेपी की आलोचना करते हुए कहा कि यह ‘हिंदुत्व और भगवान राम का अपमान’ है. कांग्रेस नेता ने कहा कि केरल में रह रहे (विभिन्न समुदायों के लोंगों) के बीच कोई मतभेद नहीं है. फिर यह महाराष्ट्र में क्यों हो रहा है.

उन्होंने कहा कि यहां तक कि मराठा शासक शिवाजी महाराज के शासन के तहत विभिन्न समुदायों से लोग थे. लेकिन उन्होंने हर किसी को एक दूसरे का सम्मान करने का निर्देश दिया था. लेकिन हिंदुत्व पर बीजेपी का विचारा एक ‘राजनीतिक विचारधारा’ है और इसका हिंदुत्व से कोई संबंध नहीं है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 22, 2019, 4:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...