Assembly Banner 2021

PM केरल से असम जाते हैं पर किसानों से मिलने 20 किमी नहीं जा सकते: चिदंबरम

पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदंबरम ने दावा किया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर केवल 6 प्रतिशत किसान ही अपनी फसल बेच सकते हैं.
(फाइल फोटो)

पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदंबरम ने दावा किया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर केवल 6 प्रतिशत किसान ही अपनी फसल बेच सकते हैं. (फाइल फोटो)

Farmers Protest: पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने लिखा 'मंदी के साल में 3.9 फीसदी की बढ़त के बाद कृषि क्षेत्र को इनाम में मिला कि प्रदर्शन कर रहे किसानों को ऐसा बर्ताव किया जा रहा है, जैसे वे राज्य के दुश्मन हों.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 5:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली (Delhi) की सरहदों पर जारी किसानों आंदोलन (Farmers Protest) को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार (Central Government) पर निशाना साध रही है. शनिवार को कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने सरकार पर किसानों के साथ दुश्मनों की तरह बर्ताव करने का आरोप लगाया है. साथ ही उन्होंने किसानों से बातचीत ने करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की आलोचना की है. इसके अलावा उन्होंने केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) पर भी सवाल उठाए हैं.

शनिवार को पी चिदंबरम ने लिखा 'मंदी के साल में 3.9 फीसदी की बढ़त के बाद कृषि क्षेत्र को इनाम में प्रदर्शन कर रहे किसानों को ऐसा बर्ताव किया जा रहा है, जैसे वे राज्य के दुश्मन हों.' इसके साथ ही उन्होंने दावा किया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर केवल 6 प्रतिशत किसान ही अपनी फसल बेच सकते हैं. खास बात है कि विरोध कर रहे किसानों और सरकार के बीच एमएसपी चर्चा के लिए बड़ा मुद्दा है.

Youtube Video




यह भी पढ़ें: Kisan Aandolan: जींद के किसानों ने PM मोदी को भेजी खून से लिखी चिट्ठी, कहा- वापस लो काला कानून
चिदंबरम ने कहा 'इसके बावजूद वे दावा करते हैं कि उन्होंने किसानों की आय को दोगुना कर दिया है. वे यह भी दावा करते हैं कि सभी किसानों को एमएसपी मिलेगी, लेकिन सच यह है कि केवल 6 प्रतिशत किसान ही एमएसपी पर फसल बेच सकते हैं.' इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी पर भी किसानों को नजरअंदाज करने के बात कही. उन्होंने आरोप लगाया कि पीएम किसानों से मिलने 20 किमी तक नहीं जा सकते.



कांग्रेस नेता ने लिखा 'पीएम केरल से लेकर असम तक यात्रा कर रहे हैं, लेकिन इतना समय या इच्छा नहीं है कि वे दिल्ली की सीमाओं पर 20 किमी जाकर किसानों से मुलाकात कर सकें.' पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी सरकार पर नए कानूनों को लेकर लगातार हमला कर रहे हैं. सोमवार को गांधी ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार की तरफ से लाए गए तीन नए कृषि कानून कृषि कारोबार को खत्म करने और पीएम मोदी के दोस्तों को देने के लिए तैयार किए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज