Home /News /nation /

भारत में पिछले 6 साल में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में 5 लाख करोड़ रुपये का हुआ निवेश: PM मोदी

भारत में पिछले 6 साल में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में 5 लाख करोड़ रुपये का हुआ निवेश: PM मोदी

पीएम मोदी  (File Photo)

पीएम मोदी (File Photo)

RE Invest 2020: अक्षय ऊर्जा के भविष्य के लक्ष्यों को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि 2022 तक, अक्षय क्षमता का हिस्सा बढ़कर 220 गीगावॉट हो जाएगा.

    नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से तीसरे वैश्विक अक्षय ऊर्जा निवेश बैठक और एक्सपो (पुनः निवेश) ( 3rd Global Renewable Energy Investment Meeting and Expo (Re-Invest) के उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित किया. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि पहले के संस्करणों में, हमने अक्षय ऊर्जा में मेगावाट से गीगावाट तक की यात्रा के लिए अपनी योजनाओं के बारे में बात की. हमने सौर ऊर्जा का लाभ उठाने के लिए "वन सन, वन वर्ल्ड वन ग्रिड" के बारे में भी बात की. कुछ ही समय में, इनमें से कई योजनाएं वास्तविकता बन रही हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में, भारत अद्वितीय यात्रा कर रहा है.

    प्रधानमंत्री ने कहा कि हम अपनी पीढ़ी की क्षमता और नेटवर्क का विस्तार कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि भारत के प्रत्येक नागरिक के पास पूरी क्षमता को अनलॉक करने के लिए बिजली तक पहुंच हो. पीएम मोदी ने कहा कि आज, भारत की अक्षय ऊर्जा की क्षमता दुनिया में चौथी सबसे बड़ी है. यह सभी प्रमुख देशों में सबसे तेज गति से बढ़ रहा है. भारत में अक्षय ऊर्जा क्षमता वर्तमान में 136 गीगा वॉट है, जो हमारी कुल क्षमता का लगभग 36% है. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम अक्षय संसाधनों की मदद से ऊर्जा उत्पादन की दिशा में तेजी से विस्तार कर रहे हैं.

    ये भी पढ़ें- 6 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से सामने आए कोविड-19 के 60.72% नए केस: केंद्र

    अक्षय ऊर्जा के भविष्य के लक्ष्यों को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि 2022 तक, अक्षय क्षमता का हिस्सा बढ़कर 220 गीगावॉट हो जाएगा. हमारी वार्षिक अक्षय ऊर्जा क्षमता परिवर्धन 2017 के बाद से कोयला आधारित थर्मल पावर से अधिक है. पिछले 6 वर्षों में, हमने अपनी स्थापित अक्षय ऊर्जा क्षमता को 2.5 गुना बढ़ाया है.

    आर्थिक रूप से फायदेमंद हो सकती हैं पर्यावरण नीतियां
    प्रधानमंत्री ने कहा कि अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में भारत की प्रगति जलवायु परिवर्तन से लड़ने में हमारी प्रतिबद्धता और दृढ़ विश्वास का परिणाम है. पीएम मोदी ने कहा कि जब यह सस्ती नहीं थी, तब भी हमने अक्षय ऊर्जा में निवेश किया. अब, हमारा निवेश और पैमाना लागत को नीचे ला रहा है. हम दुनिया को दिखा रहे हैं कि पर्यावरणीय नीतियां आर्थिक रूप से भी फायदेमंद हो सकती हैं.

    प्रधानमंत्री ने कहा कि जब मैं ऊर्जा दक्षता के बारे में बात करता हूं, तो हमने इस मिशन को केवल एक मंत्रालय या विभाग तक सीमित नहीं किया है. हमने यह सुनिश्चित किया है कि यह पूरी सरकार के लिए एक लक्ष्य बन जाए. हमारी सभी नीतियों में ऊर्जा दक्षता हासिल करने का विचार है.

    6 साल में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में भारत में 5 लाख करोड़ रुपये का निवेश
    पीएम मोदी ने कहा कि भारत उत्तरोत्तर नवीकरण में निवेश के लिए पसंदीदा स्थान बनता जा रहा है. पिछले छह वर्षों में भारत में इस क्षेत्र में लगभग 5 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया गया है. हम भारत को अक्षय ऊर्जा क्षेत्र में एक वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनाना चाहते हैं.

    पीएम मोदी ने कहा कि ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस को सुनिश्चित करना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है. हमने निवेशकों की सुविधा के लिए समर्पित परियोजना विकास प्रकोष्ठों की स्थापना की है.

    ये भी पढ़ें- PM मोदी 28 नवंबर को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा करेंगे

    पीएम मोदी ने कहा कि विदेशी निवेशक स्वयं के निवेश कर सकते हैं या नवीकरणीय ऊर्जा-आधारित बिजली उत्पादन परियोजनाओं को स्थापित करने के लिए एक भारतीय भागीदार के साथ सहयोग कर सकते हैं. भारत नवीनीकरण से 24 घंटे सातों दिन बिजली की आपूर्ति के लिए अभिनव तरीकों पर ध्यान केंद्रित कर रहा है.

    प्रधानमंत्री ने कहा कि अगले दशक के लिए भारत के पास विशाल नवीकरणीय ऊर्जा परिनियोजन योजनाएं हैं. इनसे प्रति वर्ष लगभग 1.5 लाख करोड़ रुपये के व्यापार की संभावनाएं पैदा होती हैं. यह भारत में निवेश करने का एक बड़ा अवसर है.

    Tags: Investment, Pm narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर