पीएम मोदी ने लॉन्च किया 'BHIM' मोबाइल ऐप, अब अंगूठा ही होगा आपकी पहचान

पीएम ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में डिजीधन मेले की शुरुआत करते हुए डिजीधन मेले में पहला लकी ड्रॉ निकाला। इस दौरान उन्होंने एक नया मोबाइल ऐप लॉन्च किया, जिसका नाम भीम रखा। खास बात ये है कि ये ऐप बिना इंटरनेट के चलेगा।

News18India.com
Updated: December 30, 2016, 5:46 PM IST
News18india.com
News18India.com
Updated: December 30, 2016, 5:46 PM IST
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज लकी ग्राहक योजना और डिजीधन योजना की शुरुआत की। पीएम ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में डिजीधन मेले की शुरुआत करते हुए डिजीधन मेले में पहला लकी ड्रॉ निकाला। इस दौरान उन्होंने एक नया मोबाइल ऐप लॉन्च किया, जिसका नाम भीम रखा। खास बात ये है कि ये ऐप बिना इंटरनेट के चलेगा।

पीएम ने बाबा भीमराव अंबेडकर के नाम पर नया ऐप लॉन्च किया। इस ऐप का नाम भीम (BHIM) रखा गया है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में देश की पूरी अर्थव्यवस्था इसी भीम ऐप के इर्द-गिर्द हो जाएगी। ये  भीम ऐप दुनिया के लिए सबसे बड़ा अजूबा होगा। सारा कारोबार इसी ऐप के जरिए होगा। ये ऐप 2017  में लोगों के लिए बड़ा नजराना है। अब अंगूठा ही लोगों की पहचान हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि लकी ग्राहक योजना के तहत 100 दिन में लाखों परिवारों को इनाम मिलेगा। जिन्हें इस लकी ड्रॉ में इनाम मिला है, उनका मैं अभिनन्दन करता हूं। डिजिटल पेमेंट करने वाले उज्जवल भारत की नींव मजबूत करने का काम कर रहे हैं। 14 अप्रैल को बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के जन्मदिन पर मेगा ड्रॉ होगा, जिसमें करोड़ों रुपये का इनाम दिया जायेगा।



देश में इस समय 100 करोड़ से ज्यादा मोबाइल फोन हैं। दुनिया के लोग गूगल के पास जाएंगे और पूछेंगे कि ये भीम है क्या? शुरुआत में उन्हें महाभारत वाला भीम दिखेगा, पर और गहराई से अंदर जायेंगे तो उन्हें भीम दिखाई देगा। पीएम ने उदाहरण देते हुए कहा कि ये भीम सामान्य नहीं है। ये आपके परिवार की आर्थिक महाशक्ति बनने वाला है।

उन्होंने कहा कि आशावादी लोगों के लिए मेरे पास ढेरों अवसर है। निराशावादी लोगों के लिए कोई दवा नहीं है। पीएम ने तीन साल पहले का जिक्र करते हुए यूपीए सरकार की भी खिंचाई की। उन्होंने कहा कि पहले अखबारों में खबरें छपती थीं कि कोयला में कितना गया, टूजी में कितना गया और आज लोग कहते हैं कितना आया। आज पैसा जाने की नहीं आने की बात हो रही है। ये बदलाव है। हिन्दुस्तान बदलाव के लिए तैयार है।
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर