UAE के बाद पीएम मोदी ने बहरीन में शुरू किया रुपे कार्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अपने दौरे में रुपे कार्ड से जुड़े एमओयू पर हस्ताक्षर किए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा हमारा इरादा है कि RuPay कार्ड के जरिये आपको भारत में अपने घर पैसे भेजने की सुविधा मिले. अब आप बहरीन कह सकेंगे कि - Pay with RuPay."

  • Share this:
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार बहरीन के अपने दौरे में रुपे कार्ड से जुड़े एमओयू पर हस्ताक्षर किए. अब बहरीन में भी रुपे कार्ड से पेमेंट किया जा सकेगा. पीएम मोदी ने बहरीन में रह रहे भारतीयों को संबोधित करते हुए कहा कि कि BHIM App, UPI और जनधन खाते जैसी सुविधाओं ने भारत में बैंकिंग को सामान्य मानवी के लिए सुलभ कर दिया है. हमारा Rupay कार्ड अब पूरी दुनिया में टांज़ैक्शन का एक पसंदीदा माध्यम बन रहा है. अब हमारे Rupay कार्ड को दुनिया भर के बैंक और खरीदार स्वीकार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अब बहरीन में भी Rupay कार्ड का इस्तेमाल किया जा सकेगा.

    प्रधानमंत्री ने कहा, "मुझे खुशी है कि बहरीन में भी शीघ्र ही RuPay कार्ड से आप लेनदेन कर पाएंगे. आज यहां पर RuPay कार्ड के इस्तेमाल के लिए एमओयू साइन किया गया है. हमारा इरादा है कि RuPay कार्ड के जरिये आपको भारत में अपने घर पैसे भेजने की सुविधा मिले. अब आप बहरीन कह सकेंगे कि - Pay with RuPay."

    पीएम मोदी ने रुपे कार्ड से खरीदी मिठाई
    पीएम मोदी ने इससे पहले यूएई में रुपे कार्ड से एक विशेष खरीदारी कर के यहां के बाजार में इस कार्ड के चलन की शुरुआत की. वह इस खरीदी गयी सामग्री को रविवार को बहरीन में श्रीनाथजी मंदिर में प्रसाद के रूप में चढ़ाएंगे.

    यूएई में कारोबार कर रहे लुलु समूह, पेट्रोकेम मिडल ईस्ट, एनएमसी हेल्थकेयर और लैंडमार्क समेत 21 प्रमुख कारोबारी समूहों ने रुपे कार्ड को स्वीकार करने का वादा किया.

    यूएई की कई कंपनियां करेंगी रुपे कार्ड का इस्तेमाल
    इससे पहले पीएम मोदी ने यूएई में रुपे कार्ड की शुरुआत की. बता दें हर साल यूएई में करीब 30 लाख भारतीय पर्यटक घूमने जाते हैं. इस कार्ड की शुरुआत से वह 1,75,000 स्थानों पर रुपे कार्ड से भुगतान कर सकेंगे तथा पांच हजार एटीएम से नकद निकासी भी कर सकेंगे. इससे उनका विनिमय खर्च बचेगा.

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘भारत और यूएई की अर्थव्यवस्थाओं को एक दूसरे के और नजदीक लाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में यूएई में आधिकारिक तौर पर रुपे कार्ड को पेश किया गया. खाड़ी देशों में यूएई पहला देश है जिसने भारतीय रुपे कार्ड को अपनाया है. यूएई की कई कंपनियों ने रुपे भुगतान को स्वीकार करने की बात की है.’’

    सबसे बड़ा और आकर्षक व्यवसायिक केंद्र है UAE
    यूएई में भारतीय राजदूत नवदीप सिंह सुरी ने इससे पहले इस सप्ताह में कहा, ‘‘यूएई इस क्षेत्र का सबसे बड़ा और आकर्षक व्यवसायिक केंद्र है. इस क्षेत्र रहने वाले भारतीय समुदाय के सबसे अधिक लोग यहीं (यूएई में) रहते हैं, सबसे ज्यादा भारतीय पर्यटक यहीं आते हैं और इस सबसे ज्यादा व्यापार भारत के साथ है. इस क्षेत्र में रुपे कार्ड को स्वीकार करने वाला पहला देश बनने के साथ हम उम्मीद करते हैं इससे पर्यटन, व्यापार तथा भारतीय समुदाय, इनमें से सबको लाभ होगा.’’ दोनों देशों का द्विपक्षीय व्यापार 2018 में करीब 60 अरब डॉलर का रहा.

    ये भी पढ़ें-
    हमारा संबंध सरकारों का नहीं संस्कारों का- PM मोदी

    UAE के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाज़े गए PM नरेंद्र मोदी

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.