अपना शहर चुनें

States

पीएम ने कोच्चि को दिया परियोजनाओं का तोहफा, बोले- विकास का उत्सव मनाने आए हैं

पीएम मोदी ने कहा कि इन विकासकार्यों से आत्मनिर्भर भारत बनाने के दृष्टिकोण में और तेज़ी आएगी.
पीएम मोदी ने कहा कि इन विकासकार्यों से आत्मनिर्भर भारत बनाने के दृष्टिकोण में और तेज़ी आएगी.

PM Modi in Kocchi: विकासकार्यों का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, आज हम यहां विकास को सेलिब्रेट करने के लिए इकट्ठा हुए हैं. इसमें केरल और इंडिया का विकास है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2021, 6:49 PM IST
  • Share this:
कोच्चि. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को केरल के कोच्चि (Kochi) में विकासकार्यों का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने कहा कि इन विकासकार्यों से आत्मनिर्भर भारत बनाने के दृष्टिकोण में और तेज़ी आएगी. विकासकार्यों का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'आज हम यहां विकास को सेलिब्रेट करने के लिए इकट्ठा हुए हैं. इसमें केरल और इंडिया का विकास है.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'पर्यटक केरल के अन्य हिस्सों में जाने के लिए न केवल पारगमन स्थल के रूप में कोच्चि आते हैं. यह आध्यात्मिक, बाजार, ऐतिहासिक और अन्य ऐसे स्थानों को व्यापक रूप से जाना जाता है. भारत सरकार यहांं पर्यटन को बेहतर बनाने के लिए कई प्रयास कर रही है. सागरिका का उद्घाटन - कोच्चि में अंतर्राष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल - इसका एक उदाहरण है.

संसाधनों और योजनाओं को समर्पित बजट
पीएम मोदी ने कहा कि तटीय क्षेत्रों, पूर्वोत्तर और पर्वतीय क्षेत्रों पर विशेष तौर पर ध्यान दिया जा रहा है. आज, भारत के हर गांव में ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम को शुरू किया जा रहा है. इस वर्ष के बजट में महत्वपूर्ण संसाधनों और योजनाओं को समर्पित किया गया है जो केरल को लाभान्वित करेंगे. इसमें कोच्चि मेट्रो का अगला चरण भी शामिल है. यह मेट्रो नेटवर्क सफलतापूर्वक आया है और प्रगतिशील कार्य प्रथाओं और व्यावसायिकता का एक अच्छा उदाहरण निर्धारित किया है.
पाइपलाइन परियोजनाओं में 110 लाख करोड़ रुपये का निवेश


पीएम मोदी बोले राष्ट्रीय पाइपलाइन परियोजनाओं में 110 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं से देश के विकास को और बल मिलेगा. वंदे भारत मिशन के तहत 50 लाख से अधिक लोगों को दूसरे देशों से वापस लाया गया, जिनमें से कई लोग केरल के थे. इस संकट के समय में इस तरह की सेवा करना हमारे लिए सौभाग्य की बात है.

ये भी पढ़ेंः- ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट केस: एक्टिविस्ट दिशा को 5 दिन की पुलिस रिमांड, खालिस्तानी ग्रुप जिंदा करने की थी साजिश

पीएम ने केरल की एक संक्षिप्त यात्रा के दौरान कोचीन बंदरगाह न्यास के अंतरराष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल और कोचीन शिपयार्ड के विज्ञान सागर परिसर का भी उद्घाटन भी किया. यह परिसर मरीन (सागरीय) इंजीनियरिंग प्रशिक्षण संस्थान का परिसर है. उन्होंने यहां एक समारोह में कोचीन बंदरगाह न्यास के साउथ कोल बर्थ की आधारशिला भी रखी.इस बर्थ (घाट) से कोयले की ढुलाई होगी.

विदेशी मुद्रा की होगी बचत
पीएम मोदी ने कोच्चि रिफाइनरी के समीप स्थित प्रोपलीन डेरिवेटिव पेट्रोकेमिकल प्रोजेक्ट (पीडीपीपी) का जिक्र करते हुए कहा कि इससे हर साल काफी विदेशी मुद्रा की बचत होगी. इस संयंत्र में अभी मुख्य रूप से आयात किये जाने वाले ऐक्राइलिक एसिड, ऑक्सो-अल्कोहल और एक्रिलेट्स का उत्पादन होगा. केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, मनसुख एल मंडाविया तथा वी मुरलीधरन ने यहां अंबालामेडु में आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज