G7 सम्मेलन के लिए बहरीन से फ्रांस से रवाना पीएम मोदी

विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया कि यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री (Prime Minister Of India) की पहली बहरीन (Barhrin) यात्रा थी.

News18Hindi
Updated: August 25, 2019, 1:43 PM IST
G7 सम्मेलन के लिए बहरीन से फ्रांस से रवाना पीएम मोदी
विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया कि यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री (Prime Minister Of India) की पहली बहरीन (Barhrin) यात्रा थी.
News18Hindi
Updated: August 25, 2019, 1:43 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस के बिआरित्ज में आयोजित होने वाले जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए रविवार को यहां से रवाना हो गए. सम्मेलन में वह पर्यावरण के वैश्विक ज्वलंत मुद्दों, जलवायु और डिजिटल बदलाव पर बोलने के साथ विश्व नेताओं से मुलाकात करेंगे.

मोदी तीन देशों फ्रांस, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और बहरीन की यात्रा के तीसरे पड़ाव बहरीन के मनामा में थे. उन्होंने 200 साल पुराने श्रीनाथजी मंदिर में पूजा-अर्चना के साथ अपनी मनामा यात्रा संपन्न की.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया कि यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली बहरीन यात्रा थी. फ्रांस के बिआरित्ज जाने के लिए जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विमान पर सवार हो रहे थे तो बहरीन के उप प्रधानमंत्री महामहिम मोहम्मद बिन मुबारक और महामहिम खालिद बिन अब्दुल्ला ने विशेष सद्भाव के साथ उन्हें विदाई दी.

42 लाख डॉलर की परियोजना

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहरीन की राजधानी मनामा में भगवान श्री कृष्ण के 200 साल पुराने मंदिर के पुनर्निर्माण के लिए 42 लाख डॉलर की परियोजना का रविवार को शुभारम्भ किया.

मोदी ने मनामा के श्रीनाथजी मंदिर में प्रार्थना की और ‘प्रसाद’ चढ़ाया जो उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में ‘रुपे’ कार्ड के उद्घाटन के बाद उससे खरीदा था. श्रीनाथजी मंदिर क्षेत्र में सबसे पुराना मंदिर है.

पट्टिका का अनावरण
Loading...

प्रधानमंत्री ने इसके बाद पट्टिका का अनावरण किया और इसके साथ ही मंदिर की पुनर्निर्माण परियोजना का अधिकारिक रूप से उद्घाटन हुआ.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, 'शानदार स्वागत के लिए बहरीन का शुक्रिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मनामा स्थित 200 साल पुराने श्रीनाथजी मंदिर में प्रार्थना की, जो क्षेत्र का सबसे पुराना मंदिर है. यह मंदिर बहरीनी समाज के बहुलवाद को दर्शाता है.'

मनामा में श्रीनाथजी (श्री कृष्ण) मंदिर का पुनर्निर्माण कार्य इस साल आरंभ किया जाएगा.

मनामा स्थित इस 200 साल पुराने मंदिर का 42 लाख डॉलर की लागत से 45 हजार वर्ग फुट क्षेत्र में तीन मंजिला भवन के साथ नवीनीकरण किया जा रहा है. पुनर्निर्माण के दौरान मंदिर की 200 साल पुरानी विरासत को रेखांकित किया जाएगा और नए परिसर में गर्भगृह और प्रार्थनाकक्ष होगा.

इसमें पारम्परिक हिंदू विवाह समारोह और अन्य अनुष्ठानों के आयोजन के लिए विशेष सुविधा होगी, ताकि बहरीन को विवाह आयोजन स्थलों के रूप में प्रोत्साहन मिले और पर्यटन को बढ़ावा मिल सके. मोदी शनिवार को यहां पहुंचे थे. वह बहरीन की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं.

यह भी पढे़ें: Mann Ki Baat में पीएम मोदी बोले, हमारे पास दो मोहन, एक चक्रधारी और दूसरा चरखाधारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 25, 2019, 1:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...