लॉकडाउन को लेकर मुख्यमंत्रियों से बात करते हुए PM मोदी बोले- जान है तो जहान है

PM मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, ‘जब मैंने राष्ट्र के नाम संदेश दिया था, तो प्रारम्भ में बल दिया था कि हर नागरिक की जान बचाने के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है.
PM मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, ‘जब मैंने राष्ट्र के नाम संदेश दिया था, तो प्रारम्भ में बल दिया था कि हर नागरिक की जान बचाने के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है.

PM मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, ‘जब मैंने राष्ट्र के नाम संदेश दिया था, तो प्रारम्भ में बल दिया था कि हर नागरिक की जान बचाने के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2020, 6:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ रणनीति बनाने और लॉकडाउन (Lockdown) पर विचार करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शनिवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की. बैठक में ज्यादातर राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन को बढ़ाए जाने की सहमति दी. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ‘जब मैंने राष्ट्र के नाम संदेश दिया था, तो प्रारम्भ में बल दिया था कि हर नागरिक की जान बचाने के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है. पीएम ने कहा, ‘लॉकडाउन की बात करते हुए मैंने कहा था, जान है तो जहान है.’

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से चर्चा करते हुए कहा, ‘देश के अधिकतर लोगों ने इस बात को समझा और घरों में रहकर अपना दायित्व भी निभाया.  हम सभी ने भी इसी मंत्र पर चलते हुए देशवासियों की जिंदगी बचाने का प्रयास किया. अब भारत के उज्जवल भविष्य के लिए समृद्ध और स्वस्थ भारत के लिए जान भी जहान भी दोनों पहलुओं पर ध्यान आवश्यक है.

लोगों को करना होगा दिशा-निर्देशों का पालन



पीएम मोदी ने कहा, ‘देश का प्रत्येक व्यक्ति जान और जहान दोनों की चिंता करते हुए अपना दायित्व निभाएग और सरकार व प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन करेगा तो कोरोना के खिलाफ हमारी लड़ाई और मजबूत होगी. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र और राज्यों के समन्वित प्रयासों से कोविड-19 का असर घटाने में मदद मिली लेकिन चौकस रहना होगा.
30 अप्रैल तक बढ़ सकता है लॉकडाउन

सरकार के मुख्य प्रवक्ता के एस धतवलिया ने ट्वीट किया, ‘भारत में कोरोना वायरस के मुद्दे पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अधिकांश राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लॉकडाउन को दो सप्ताह और बढ़ाने का आग्रह किया. सरकार इस आग्रह पर विचार कर रही है.’ लॉकडाउन बढ़ाने की संभावना के बारे में और स्पष्ट संकेत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ट्वीट से भी मिला जिसमें उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन का सही फैसला किया है. आज भारत की स्थिति कई विकसित देशों से बेहतर है क्योंकि हमने प्रारंभ में ही लॉकडाउन शुरू कर दिया. अगर अभी यह रोक दिया जाता है तब इसके फायदे बेकार चले जायेंगे. इसलिए इसे मजबूती प्रदान करने के लिये इसे बढ़ाया जाना जरूरी है.’

प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग पर संवाद के दौरान पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरिवंद केजरीवाल ने लॉकडाउन को कम से कम एक पखवाड़े के लिये बढ़ाने का सुझाव दिया. कोविड-19 संकट से निपटने के लिये प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले महीने 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी, जिसकी अवधि 14 अप्रैल तक है.

ये भी पढ़ें-

लॉकडाउन ने बदला लोगों का व्यवहार, जगह-जगह बस देख रहे कोरोना की खबर

CoronaVirus: 30 अप्रैल तक बढ़ सकता है लॉकडा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज