मजदूरों को भरोसा दें राज्‍य...वे जहां हैं वहीं रहें, उनका काम बंद नहीं होगा: PM मोदी

सोमवार रात को दिल्‍ली के आनंद विहार बस स्‍टेशन पर घर जाने वाले लोगों की भीड़ लगी थी. (Pic- ANI)

सोमवार रात को दिल्‍ली के आनंद विहार बस स्‍टेशन पर घर जाने वाले लोगों की भीड़ लगी थी. (Pic- ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को कोरोना हालात (Coronavirus) पर देश को संबोधित किया है. इसमें उन्‍होंने मजदूरों (Migrant Workers) के लिए भी संदेश दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 9:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कारोना वायरस (Coronavirus) से हालात बेहद गंभीर हैं. महाराष्‍ट्र, दिल्‍ली जैसे राज्‍यों में नाइट कर्फ्यू या लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा के बाद प्रवासी मजदूर एक बार फिर अपने घरों की ओर निकल रहे हैं. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को कोरोना हालात पर देश को संबोधित किया है. इसमें उन्‍होंने मजदूरों के लिए भी संदेश दिया है. उन्‍होंने राज्‍यों से आग्रह किया है कि वे मजदूरों को भरोसा दें कि वे जहां हैं, वहीं रहें. उन्‍हें वहीं वैक्‍सीन लगेगी और उनका काम भी बंद नहीं होगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफतौर पर कहा कि देश को लॉकडाउन से बचाना है. राज्‍य इसे अंतिम विकल्‍प के तौर पर इस्‍तेमाल करें. उन्‍होंने कहा है कि देश में आर्थिक गतिविधियां भी जारी रहनी चाहिए. जीवन बचाने के लिए सरकार काम कर रही है. पीएम मोदी ने कहा है कि हमें लॉकडाउन से बचने की कोशिश करनी है. हम अपनी अर्थव्यवस्था की सेहत भी सुधारेंगे और अपने देशवासियों की भी सेहत सुधारेंगे.



पीएम मोदी ने कहा कि पिछली बार जो परिस्थितियां थीं वो अभी से काफी अलग थीं. उस वक्त हमारे पास मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं था. टेस्टिंग के लिए पर्याप्त लैब नहीं. पीपीई किट का प्रोडक्शन नहीं था. बीमारी के ट्रीटमेंट के लिए खास जानकारी नहीं. बहुत ही कम समय में इन चीजों में सुधार किया. आज हमारे डॉक्टरों ने कोरोना के इलाज के लिए बहुत अच्छी विशेषज्ञता हासिल कर ली है. आज बहुत मात्रा में पीपीई किट हैं, लैब हैं, टेस्टिंग बढ़ा ली हैं.
प्रधानमंत्री ने कहा है कि हम सभी का प्रयास जीवन बचाने का है. प्रयास ये भी है कि आर्थिक गतिविधियां और आजीविका कम से कम प्रभावित हों. देशवासियों से अपील करता हूं कि इस संकट की घड़ी में देशवासी आगे आएं और जरूरतमंदों को मदद पहुंचाएं. सेवा के संकल्प से ही हम ये लड़ाई जीत पाएंगे.

बता दें कि मंगलवार को भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,59,170 नए मामले सामने आने के बाद देश में अब तक संक्रमित हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,53,21,089 हो गई, जिनमें से 20 लाख से अधिक लोग उपचाराधीन हैं. 1,761 और लोगों की मौत होने के बाद कुल मृतक संख्या बढ़कर 1,80,530 हो गई.





भारत में अभी 20,31,977 लोगों का उपचार चल रहा है, जो देश में संक्रमण के कुल मामलों का 13.26 प्रतिशत है. पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन लोगों की संख्या में 1,02,648 मामलों की बढ़ोतरी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज