CWC की बैठक के बाद राहुल गांधी बोले- पीएम J&K के हालात के बारे में देश को बताएं

(PTI Photo)
(PTI Photo)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री देश को बताएं कि जम्मू-कश्मीर में हालात क्या है?

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 10, 2019, 11:47 PM IST
  • Share this:
कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से चिंताजनक खबरें आ रही हैं और वहां के हालात के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को देश को पूरी पारदर्शिता के साथ बताना चाहिए.

कांग्रेस कार्य समिति की बैठक से बाहर आकर गांधी ने संवाददाताओं से कहा, 'जम्मू-कश्मीर से जो खबरें आ रही हैं वो चिंताजनक हैं. खबरें आ रही हैं कि जम्मू-कश्मीर में हालात खराब हो गए हैं. प्रधानमंत्री देश को बताएं कि जम्मू-कश्मीर में हालात क्या है? उन्हें पूरी पारदर्शिता के साथ देश को इस बारे में बताना चाहिए. ' गौरतलब है कि सरकार ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कई प्रावधान खत्म करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने का कदम उठाया है.

बता दें शनिवार को पार्टी का नया अध्यक्ष चुनने को लेकर कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक हुई. इससे पहले कांग्रेस वर्किंग कमिटी की मीटिंग शाम 4 बजे तक के लिए कैंसल कर दी गई थी. इसके बाद अब ये बैठक 8 बजे से दोबारा शुरू हुई.



इस बैठक के लिए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, एके एंटोनी और ज्योतिरादित्य सिंधिया पहुंचे. वहीं इस बैठक में सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी भी पहुंचे.  इस बैठक में नए अध्यक्ष का नाम तय होने के साथ-साथ जगह जम्मू-कश्मीर के हालात पर चर्चा हुई.
चयन प्रक्रिया से अलग हुए सोनिया-राहुल
इस बीच सोनिया गांधी ने साफ किया कि वो और राहुल नए अध्यक्ष के चुनाव प्रक्रिया का हिस्सा नहीं हैं. उनका नाम गलती से शामिल किया गया था. इस मीटिंग में नए अध्यक्ष का नाम फाइनल करने के लिए कांग्रेस नेताओं की पांच टीमें बनाई गई हैं. सूत्रों के मुताबिक, सीडब्ल्यूसी के तमाम सदस्य अगले दो-तीन दिन तक बाकी नेताओं से चर्चा करके एक नाम तय करने की प्रक्रिया पूरी करेंगे. नए अध्यक्ष की रेस में महाराष्ट्र के युवा कांग्रेस नेता मुकुल वासनिक का नाम सबसे आगे है.

congress
CWC की मीटिंग में गुलाम नबी आजाद


मुकुल वासनिक एनएसयूआई, यूथ कांग्रेस और संगठन में रहे हैं. वह यूपीए सरकार में मंत्री और करीब 17 साल तक पार्टी के महासचिव पद पर भी रह चुके हैं. उन्हें गांधी परिवार का नज़दीकी माना जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज