• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • आखिर क्यों पीएम मोदी ने 'मन की बात' में छोले-भटूरे वाले की जमकर की प्रशंसा ?, जानें क्या थी वजह

आखिर क्यों पीएम मोदी ने 'मन की बात' में छोले-भटूरे वाले की जमकर की प्रशंसा ?, जानें क्या थी वजह

पीएम मोदी ने संजय भाई कि उनके इस काम से लोगों में भी जागरूकता आएगी.(फोटो: ANI/Twitter)

पीएम मोदी ने संजय भाई कि उनके इस काम से लोगों में भी जागरूकता आएगी.(फोटो: ANI/Twitter)

प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, ''यह बहुत ही खुशमिजाज और खूबसूरत शहर है. यहां रहने वाले लोग भी बड़े दिल वाले हैं. और हां, अगर आप खाने के शौकीन हैं तो आपको यहां और भी ज्यादा आनंद आएगा.'' इस बीच, राणा ने उनके प्रयास को मान्यता देने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया.

  • Share this:
    चंडीगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने टीकाकरण (Vaccination) के सबूत दिखाने वालों को मुफ्त 'छोले-भटूरे' देने वाले चंडीगढ़ (Chandigarh) के विक्रेता की रविवार को रेडियो पर प्रसारित अपने मासिक कार्यक्रम ''मन की बात'' (Mann Ki Baat) में सराहना की. प्रधानमंत्री ने कहा, ''चंडीगढ़ के सेक्टर-29 में संजय राणा जी एक फूड स्टॉल चलाते हैं और साइकिल पर 'छोले भटूरे' बेचते हैं.'' मोदी ने कहा कि राणा की बेटी रिद्धिमा और भतीजी रिया ने उन्हें टीका लगवाने वालों को मुफ्त में 'छोले भटूरे' देने का सुझाव दिया था.

    उन्होंने कहा, ''एक दिन उनकी बेटी रिधिमा और भतीजी रिया उनके पास एक विचार लेकर आईं. दोनों ने उनसे कहा कि जो लोग कोविड का टीका (Covid19 Vaccination) लगवाते हैं, उन्हें मुफ्त 'छोले भटूरे' दें. वह खुशी-खुशी इसके लिए तैयार हो गए.'' मोदी ने कहा, ''संजय राणा जी के 'छोले-भटूरे' का मुफ्त स्वाद लेने के लिए आपको दिखाना होगा कि आपने उसी दिन टीका लगवाया है. जैसे ही आप उन्हें टीकाकरण संदेश दिखाएंगे, वह आपको स्वादिष्ट 'छोले भटूरे' दे देंगे.''



    उन्होंने इस प्रयास की सराहना करते हुए कहा, ''कहा जाता है कि समाज की भलाई के लिए काम करने के वास्ते सेवा और कर्तव्य की भावना की आवश्यकता होती है. हमारे भाई संजय इसे सही साबित कर रहे हैं.'' मोदी ने 1990 के दशक में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लिए संगठन के काम को संभालने के दौरान चंडीगढ़ में बिताए समय को भी याद किया.

    प्रधानमंत्री ने कहा, ''यह बहुत ही खुशमिजाज और खूबसूरत शहर है. यहां रहने वाले लोग भी बड़े दिल वाले हैं. और हां, अगर आप खाने के शौकीन हैं तो आपको यहां और भी ज्यादा आनंद आएगा.'' इस बीच, राणा ने उनके प्रयास को मान्यता देने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया.

    पत्रकारों से बात करते हुए, उन्होंने कहा कि वह प्रतिदिन 25-30 प्लेट मुफ्त में भोजन दे रहे हैं. राणा ने कहा, ''अगर हमें जल्दी से कोविड से छुटकारा पाना है, तो हम सभी को सरकार के साथ सहयोग करना चाहिए और टीके की खुराक लेनी चाहिए. अपनी, अपने परिवार की, अपने देश और पूरी दुनिया की रक्षा करने के लिए ऐसा किया जाना चाहिये.''

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज