ये थे पीएम मोदी के बेस्ट फ्रेंड, जिनसे अपनी सारी बातें बताते थे प्रधानमंत्री

पीएम से जब पूछा गया कि उनका सबसे अच्छा दोस्त कौन है जिससे वह अपनी सारी बातें शेयर करते हैं तो पीएम ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए अपने दोस्तों के बारे में बताया.

News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 11:39 AM IST
ये थे पीएम मोदी के बेस्ट फ्रेंड, जिनसे अपनी सारी बातें बताते थे प्रधानमंत्री
पीएम नरेंद्र मोदी की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 11:39 AM IST
लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार न्यूज़ चैनल्स, अख़बारों को इंटरव्यू दे रहे है. इसी कड़ी में उन्होंने शुक्रवार को इंडिया टुडे और आजतक को इंटरव्यू दिया. इस साक्षात्कार में उन्होंने अपनी निज़ी ज़िंदगी के बारे में कई सारी बातें बताईं. इस इंटरव्यू में पीएम ने अपने राज़दार को लेकर भी बातें बताईं.

पीएम से जब पूछा गया कि उनका सबसे अच्छा दोस्त कौन है जिससे वह अपनी सारी बातें शेयर करते हैं तो पीएम ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए अपने दोस्तों के बारे में बताया. पीएम ने बताया कि जब वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में काम करते थे तब वहां उनके साथ लक्ष्मणराव इनामदार थे. पीएम ने कहा कि वह उनसे अपने मन की सारे बातें साझा करते थे.

यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे सबसे पहले देखने के लिए यहां क्लिक करें.

 इस इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने बताया कि ज़िंदगी में एक ऐसा शख्स ज़रूर होना चाहिए जिससे आप अपने मन के भीतर के हर अच्छे और बुरे विचार साझा कर सकें. जिससे आप अपने साथ घटी हर अच्छी और बुरी घटनाओं के बारे में बता सकें और आप उससे कुछ भी न छिपाएं.

पीएम मोदी से जब सवाल किया गया कि क्या अब भी उनकी ज़िंदगी में कोई ऐसा शख्स है जिससे वह अपनी सारी बातें शेयर करते हैं तो पीएम ने कहा हां. आज भी उनकी लाइफ में एक ऐसा व्यक्ति है जिससे वह अपनी सारी बातें बता देते हैं. हालांकि यह व्यक्ति कौन है पीएम ने बताने से मना कर दिया.

ये भी पढ़ें- PM मोदी बोले- 35 साल तक भिक्षा मांग कर खाया, खिचड़ी-पोहा बनाना है पसंद

इसके आगे पीएम ने कहा कि जिससे आप अपनी सारी बातें बता देते हैं. वो व्यक्ति आपको कभी-कभी कोई ऐसी बात बता देता है जो आपको कोई पंडित भी नहीं बता सकेगा. पीएम ने कहा जिससे आप सारी बातें बताते हैं ज़रूरी नहीं वह बहुत पढ़ा-लिखा या अमीर हो. पीएम ने कि उनके राजदार लक्ष्मणराव इनामदार अब जीवित नहीं रहे इसलिए वह उनका नाम बता देते हैं.
Loading...

कौन हैं लक्ष्मणराव इनामदार

पीएम मोदी ने अपने जिस राजदार लक्ष्मणराव इनामदार के बारे में बताया उनका जन्म 1917 में पुणे से 130 किलोमीटर दूर एक गांव में हुआ था. इनामदार के पिता सरकारी राजस्व अधिकारी थे और उनके दस भाई-बहन थे. 1943 में इनामदार ने पुणे यूनिवर्सिटी से कानून की डिग्री ली. इसके तुरंत बाद ही वह संघ से जुड़ गए. वह गुजरात में आरएसएस के प्रचारक रहे और आजीवन अविवाहित रहकर सादा जीवन जीते रहे.

ये भी पढ़ें- ये पराठा खाने के लिए सेहत की भी परवाह नहीं करते मोदी, मीठे में खाते हैं ये चीज़

मोदी और इनामदार की मुलाकात 1960 में हुई थी. इनामदार वडनगर में संघ की एक सभा को संबोधित कर रहे थे मोदी उन्हें सुनकर मंत्र मुग्ध हो गए. मोदी दो साल बाद वडनगर लौटे. कुछ दिन अपने घर में रहने के बाद मोदी फिर अहमदाबाद चले गए और चाय की दुकान में काम करने लगे.

कुछ समय बाद यहीं वह एक बार फिर इनामदार से मिले जो कि शहर में संघ के मुख्यालय हेडगेवार भवन में रहते थे. इसके बाद पीएम मोदी अपने गुरू और राज़दार लक्ष्मणराव इनामदार की सानिध्य में आरएसएस दफ्तर आ गए.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: April 27, 2019, 11:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...