पीएम मोदी का जिलाधिकारियों को संदेश- गांवों को कोरोना से बचाएं, टीकों की सप्लाई के लिए प्रयास जारी

बैठक के दौरान पीएम मोदी

बैठक के दौरान पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने टीकाकरण को कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक सशक्त माध्यम बताया और कहा कि बड़े पैमाने पर इसकी आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सरकार के प्रयास निरंतर जारी हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली.कोरोना वायरस संक्रमण  (Coronavirus In India) की दूसरी के खिलाफ लड़ाई में राज्य और जिले के अधिकारियों को टफील्ड कमांडरट बताते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को कहा कि स्थानीय नियंत्रण क्षेत्र, आक्रामक परीक्षण और लोगों के साथ सही और पूरी जानकारी साझा करना महामारी को हराने के लिए हथियार हैं.

मोदी ने कहा, ‘आप एक तरह से इस युद्ध के फील्ड कमांडर हैं. हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग-अलग चुनौतियां हैं. आप अपने जिले की चुनौतियों को बहुत बेहतर तरीके से समझते हैं. इसलिए जब आपका जिला जीतता है, तो देश जीतता है. जब आपका जिला कोरोना को हराता है, तो देश कोरोना को हराता है.’

राज्यों और जिलों के अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संवाद के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर में ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों पर बहुत ध्यान देना होगा. उन्होंने कहा कि जब जिला कोरोना को हराएगा तभी देश कोरोना से जंग जीतेगा.

Youtube Video

ग्रामीण सूचना को आत्मसात लेते हैं- प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने कहा- 'पिछली बार हमने कृषि क्षेत्र को बंद नहीं किया था. मैं यह देखकर चकित था कैसे ग्रामीण खेतों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे थे. ग्रामीण सूचना को आत्मसात लेते हैं और अपनी आवश्यकता के अनुसार उसमें संशोधन करते हैं. यह गांवों की ताकत है.'

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिलों में चिकित्सा के साथ ही हर चीज की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करना भी जरूरी है और अपनी जरूरतों को तेजी से रेखांकित करके, उनका प्रबंध भी करना है. उन्होंने कहा, ‘चुनौती जरूर बड़ी है, लेकिन हमारा हौसला उससे भी बड़ा है.’उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कोविड के अलावा उन्हें अपने जिले के हर एक नागरिक की जीवन की सुगमता का भी ध्यान रखना है. उन्होंने कहा, ‘हमें संक्रमण को भी रोकना है और दैनिक जीवन से जुड़ी जरूरी आपूर्ति को भी बेरोकटोक चलाना है.'




उन्होंने कहा, 'टीकाकरण कोविड से लड़ाई का एक सशक्त माध्यम है, इसलिए इससे जुड़े हर भ्रम को हमें मिलकर दूर करना है. कोरोना के टीके की आपूर्ति को बहुत बड़े स्तर पर बढ़ाने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम केयर्स के माध्यम से देश के हर जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन संयंत्र लगाने पर तेजी से काम किया जा रहा है और कई अस्पतालों में इन संयंत्रों ने काम शुरू कर दिया है. पीएम ने टीकाकरण को कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक सशक्त माध्यम बताया और कहा कि बड़े पैमाने पर इसकी आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सरकार के प्रयास निरंतर जारी हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज