स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से PM मोदी के भाषण की 10 खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार सुबह लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया और देश को संबोधित किया. लालकिले से अपने छठे भाषण में पीएम मोदी का फोकस जल संकट, आर्टिकल 370 (Article 370), जनसंख्या विस्फोट और न्यू इंडिया के मिशन पर रहा.

News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 11:23 AM IST
स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से PM मोदी के भाषण की 10 खास बातें
स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से PM मोदी के भाषण की 10 खास बातें
News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 11:23 AM IST
देश आज 73वां स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) मना रहा है. हर तरफ जश्न का माहौल है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार सुबह लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया और देश को संबोधित किया. लाल किले से अपने छठे भाषण में पीएम मोदी का फोकस जल संकट, आर्टिकल 370 (Article 370), जनसंख्या विस्फोट और न्यू इंडिया के मिशन पर रहा. लेकिन इस बीच पीएम मोदी ने तीनों सेना के बीच तालमेल बैठाने के लिए ‘चीफ ऑफ डिफेंस’ के पद का ऐलान किया. सेना के इतिहास में ये पद पहली बार बनेगा. आइए बतातें है पीएम मोदी के भाषण की 10 खास बातें...

>> ये धरती हमारी मां है, मुझे इसे तबाह करने का हक नहीं है, इसे सूखा, बीमार बनाने का हक नहीं है.
ये धरती हमारी मां है, मुझे इसे तबाह करने का हक नहीं है, इसे सूखा, बीमार बनाने का हक नहीं है

>> हमें डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देना होगा. अब डिजिटल पेमेंट को हां, नकद पेमेंट को ना का बोर्ड लगाने का वक्त है.



>> इस बार लोग दीवाली पर भी एक दूसरे को कपड़े का थैला उधार दे सकते हैं. सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद होना चाहिए.

Loading...

>> तीनों सेना के प्रमुखों पर एक चीफ नियुक्त होगा. उसे चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) कहा जाएगा.


>> हमने आर्टिकल 370 और आर्टिकल 35A को खत्म किया. हम न समस्याओं को टालते और न पालते हैं.


>> आज दुनिया के किसी ना किसी हिस्से में कुछ हो रहा है, भारत ऐसे में मूकदर्शक नहीं बना रहेगा. उन्होंने ऐलान किया कि आतंकवाद के खिलाफ भारत अपनी लड़ाई जारी रखेगा.

>> व्यवस्था में बदलाव होना जरूरी है और ये भ्रष्टाचार से मुक्त होनी चाहिए. हमारे इस मिशन में जो रुकावट बन रहे थे, हमने उनकी छुट्टी कर दी.


>> तीन तलाक को लेकर देश की मुस्लिम बेटियां डर से जिंदगी जी रही थीं. भले ही वो तीन तलाक का शिकार नहीं बनी हों, लेकिन हमने भारतीय संविधान की भावना का आदर करते हुए मुस्लिम महिलाओं के सम्मान में यह महत्वपूर्ण फैसला लिया.


>> 130 करोड़ देश वासी यदि छोटी-छोटी चीजों को लेकर चल पड़ें तो 5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी, कइयों को मुश्किल लगता है, लेकिन मुश्किल काम नहीं करेंगे तो देश आगे कैसे बढ़ेगा. हम आने वाले 5 साल में 5 ट्रिलियन डॉलर बन सकते हैं.

ये भी पढ़ें-

PM मोदी का विपक्ष पर वार- आर्टिकल 370 इतना अच्छा था तो स्थाई क्यों नहीं किया, क्योंकि आप में हिम्मत नहीं थी

https://youtu.be/yrwVeUgmLCs
First published: August 15, 2019, 10:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...