Assembly Banner 2021

Bengal Elections 2021: पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, कमल को दिया गया वोट दीदी के पापों की सजा भी होगी

बंगाल के बांकुड़ा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते पीएम नरेंद्र मोदी. (BJPLive
Twitter/21 March 2021)

बंगाल के बांकुड़ा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते पीएम नरेंद्र मोदी. (BJPLive Twitter/21 March 2021)

West Bengal Assembly Election: पश्चिम बंगाल की सभी 294 सीटों पर 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होंगे, जबकि मतों की गिनती दो मई को होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 4:36 PM IST
  • Share this:

कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि आशोल परिवर्तन अब बंगाल में भाजपा लाकर दिखाएगी. इसके साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी निशान साधा. उन्होंने कहा, "दीदी के 10 साल में सामान्य जन बेहाल हुए, लेकिन टीएमसी के नेता मालामाल होते चले गए. बड़ी-बड़ी गाड़ी, बड़ी-बड़ी बाड़ी, ये किसके पैसे से खरीदी गई." वे बंगाल के बांकुड़ा में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे.


पीएम मोदी ने कहा, "बांकुरा की ये तस्वीर साक्षी है कि बंगाल के लोगों ने ठान लिया है- दो मई, दीदी गई. आशोल परिवर्तन - बंगाल के विकास के लिए. आशोल परिवर्तन - बंगाल के गौरव को बढ़ाने के लिए. आशोल परिवर्तन - बंगाल में एक ऐसी सरकार लाने के लिए जो गरीबों की सेवा करे, उनकी तकलीफें दूर करें." उन्होंने कहा, "मैं आज बांकुड़ा से दीदी को दो बातें कहना चाहता हूं. पहली ये कि मैं तो अपना सिर हमेशा देश के हर नागरिक की सेवा में झुकाकर रखता हूं. मुझे और मेरी पार्टी को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी से यही संस्कार मिले हैं."


रैली में जुटी भारी भीड़ को संबोधित करते हुए हुए पीएम मोदी ने कहा, "यहां के लोगों को डराने के लिए दीदी ने क्या कुछ नहीं किया. लेकिन मैं बंगाल और बांकुड़ा के लोगों की प्रशंसा करूंगा कि दीदी के सारे हथकंडों के बाद भी चुनाव के दिन आप चुपचाप कमल के निशान पर वोट देकर आये थे. मुझे याद है, जब मैं लोकसभा चुनाव के समय आपका आशीर्वाद मांगने आया था, तो यहां दीदी ने क्या क्या किया था. रैली ग्राउंड तक आने वाले सारे रास्ते बंद करवा दिए थे, टेंट हाउस से कुर्सियां तक न मिलें इसके लिए पुलिस को लगाया था. बहुत मुश्किल से वो रैली हम कर पाए थे."


प्रधानमंत्री ने कहा, "आज कल बंगाल में दीदी के लोग दीवार पर तस्वीरें बना रहे हैं. तस्वीरों में दीदी मेरे सिर पर अपना पैर मार रही हैं. मेरे सिर के साथ फुटबॉल खेल रही हैं. आप बंगाल के संस्कार और यहां की महान परंपरा का अपमान क्यों कर रही हो दीदी? ये बंगाल तो देश को दिशा देने वाला है." उन्होंने कहा, "दी अगर आप चाहती हैं तो आप अपना पैर मेरे सर पर रख सकती हैं, मुझे लात मार सकती हैं, लेकिन दीदी मेरी दूसरी बात भी कान खोलकर सुन लीजिए. मैं आपको अब बंगाल के विकास को लात नहीं मारने दूंगा. मैं आपको बंगाल के सपनों को लात नहीं मारने दूंगा."


रैली में पीएम मोदी ने कहा, "मैं जितना दीदी से आपके सवाल पूछता हूं, उतना वो मुझ पर गुस्सा करती हैं. अब तो कह रही हैं कि उनको मेरा चेहरा भी पसंद नहीं है. अरे दीदी, लोकतंत्र में चेहरा नहीं, जनता की सेवा, जनता के लिए किया गया काम कसौटी पर होता है." उन्होंने कहा, "मेरा चेहरा आप देखें न देखें, लेकिन बांकुड़ा की बेटी हमारी चंदना जी और ऐसे अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं का चेहरा आपको हमेशा याद रहेगा. बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में अनुभवी उम्मीदवार भी दिए हैं और नए उम्मीदवारों को भी अवसर दिए हैं. युवा ऊर्जा और अनुभव मिलकर, सोनार बांग्ला की तरफ आगे बढ़ेंगे, डबल इंजन की सरकार बनाएंगे. मेरा आप सभी से आग्रह है कि हमारे उम्मीदवारों को भारी समर्थन देकर विधानसभा भेजें, ताकि उनका उत्साह बढ़े और वो आपकी सेवा के लिए दिनरात जुटे रहें."


जनता से भाजपा को वोट देने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकार बनते ही बंगाल में आयुष्मान भारत योजना लागू की जाएगी और इसके तहर पूरे देश के अस्पतालों में मुफ्त इलाज तो मिलेगा ही साथ ही गांव-गांव में आधुनिक हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बनाने का काम भी तेजी से किया जाएगा. उन्होंने कहा, "बंगाल में आपको भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्थाएं मिलें, इसके लिए बीजेपी सरकार जरूरी है. बंगाल में विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता देने के लिए बीजेपी सरकार जरूरी है. आपके कॉलेज, यूनिवर्सिटिज की आधुनिकता बढ़े, इसके लिए बीजेपी सरकार जरूरी है."


पीएम मोदी ने जनता से कहा, "आपको डबल इंजन की सरकार के रास्ते पर आने वाली हर रुकावट को दूर करते चलना है. भाजपा- स्कीम पर चलती है. TMC- स्कैम पर चलती है. मेरे बंगाल के लोगों को बिना डरे, बिना हिचके वोट देने के अपने अधिकार का प्रयोग करना है. कमल को दिया हुआ आपका एक-एक वोट दीदी को उनके किये की सजा भी हो जाएगी, उनके पापों की सजा भी हो जाएगी."






गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की सभी 294 सीटों पर 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होंगे. पश्चिम बंगाल की सभी 294 सीटों पर 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होना है. पश्चिम बंगाल में चुनाव 27 मार्च, एक अप्रैल, छह अप्रैल, दस अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को होंगे, जबकि मतों की गिनती दो मई को होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज