PM मोदी आज 3 राज्यों में कोविड-19 जांच केंद्रों की करेंगे शुरुआत, मुख्यमंत्रियों से करेंगे हालातों पर चर्चा

PM मोदी आज 3 राज्यों में कोविड-19 जांच केंद्रों की करेंगे शुरुआत, मुख्यमंत्रियों से करेंगे हालातों पर चर्चा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नोएडा, मुम्बई, कोलकाता में कोविड-19 जांच केंद्रों का शुभारंभ करेंगे

वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होने वाले इस कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Health Minister Dr Harshvardhan) के अलावा उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath), महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra's CM Uddhav Thackeray) और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal's CM Mamata Banerjee) भी शामिल रहेंगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सोमवार को नोएडा (Noida), मुम्बई (Mumbai) और कोलकाता (Kolkata) में उच्च क्षमता वाली कोविड-19 परीक्षण सुविधाओं (Covid-19 Testing Labs) का शुभारंभ करेंगे जिससे देश में परीक्षण करने की क्षमता बढ़ेगी, बीमारी की शुरुआती पहचान हो सकेगी और समय रहते उपचार करने में तेजी आएगी. प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होने वाले इस कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Health Minister Dr Harshvardhan) के अलावा उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath), महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra's CM Uddhav Thackeray) और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal's CM Mamata Banerjee) भी शामिल रहेंगी.

पीएमओ की ओर से जारी इस बयान में कहा गया, ‘‘इन सुविधाओं से देश में परीक्षण करने की क्षमता बढ़ेगी और इनसे बीमारी की शुरुआती पहचान और समय रहते उपचार करने में तेजी आएगी. इस प्रकार इन सुविधाओं से कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के प्रसार को नियंत्रित करने में सहायता मिलेगी.’’ इन तीन उच्च क्षमता वाली परीक्षण सुविधाओं को रणनीतिक तौर पर आईसीएमआर- राष्ट्रीय कैंसर निवारण एवं अनुसंधान संस्थान, नोएडा, आईसीएमआर- राष्ट्रीय प्रजननीय स्वास्थ्य अनुसंधान संस्थान, मुंबई और आईसीएमआर- राष्ट्रीय हैजा एवं आंत्र बीमारी संस्थान, कोलकाता में स्थापित किया गया है जो हर रोज 10,000 से अधिक नमूनों का परीक्षण करने में सक्षम हैं.

ये भी पढ़ें- कोरोना मामलों से जुड़ी जानकारी देने में देश भर में यूपी-बिहार सबसे खराब: स्टडी



इन सुविधाओं से युक्त प्रयोगशालाओं से संक्रामक नैदानिक ​सामग्री से स्वास्थ्यकर्मियों को बचाने और उनके प्रतिवर्तन काल (टर्नअराउंड टाइम) को कम करने में मदद मिलेगी.
कोरोना के बाद भी काम आएंगी ये लैब्स
इन प्रयोगशालाओं में कोविड के अलावा अन्य बीमारियों का भी परीक्षण हो सकेगा और महामारी खत्म होने के बाद हेपेटाइटिस बी एवं सी, एचआईवी, माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस, साइटोमेगालोवायरस, क्लैमाइडिया,नीसेरिया,डेंगू इत्यादि बीमारियों के लिए भी परीक्षण कार्य होगा.

देश में संक्रमितों का आंकड़ा 13 लाख 85 हजार के पार
आपको बता दें भारत में कोविड-19 के एक दिन में 48,661 नए मामले सामने आने से रविवार को संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 13,85,522 हो गए जबकि अब तक 8,85,576 मरीज स्वस्थ हुए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार देश में कोविड-19 से 705 और लोगों की मौत होने से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 32,063 हो गई.

देश में कोरोना वायरस से अब भी 4,67,882 लोग संक्रमित हैं. वहीं 63.92 प्रतिशत लोग इस वैश्विक महामारी से उबर चुके हैं. संक्रमितों की कुल संख्या में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं. यह लगातार चौथा दिन है जब कोविड-19 के एक दिन में 45,000 से अधिक मामले सामने आए हैं.



देश में कोविड-19 के लिए नमूनों की जांच की संख्या एक करोड़ 60 लाख के पार चली गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading