टाउते से गुजरात में 13 की मौत, 16 हजार घर तबाह, PM मोदी का दौरा आज

टाउते तूफान ने गुजरात में मचाई है भारी तबाही. (File pic)

टाउते तूफान ने गुजरात में मचाई है भारी तबाही. (File pic)

Cyclone Tauktae: मौसम विभाग का कहना है कि तूफान कमजोर पड़ चुका है. तूफान की वजह से गुजरात के राजकोट, भावनगर, पाटन, अमरेली और वलसाड में लोगों की मौत हुई है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. चक्रवाती तूफान टाउते (Cyclone Tauktae) सोमवार रात को गुजरात (Gujarat) के तट से टकराने के बाद मंगलवार रात को कमजोर पड़ा है. लेकिन इस दौरान चक्रवात टाउते (Tauktae) ने गुजरात (Gujarat) में जबरदस्त तबाही मचाई है. राज्य के कई जिलों में करीब 16 हजार घर तबाह हुए हैं तो वहीं 13 लोगों की मौत भी इस तूफान के कारण हुई है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) बुधवार को तूफान प्रभावित इलाकों का दौरा करने गुजरात और दीव जाएंगे.

सोमवार रात तूफान गुजरात के तट से 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से टकराया था. तूफान की वजह से राज्य के सौराष्ट्र और उत्तर गुजरात के कई इलाकों में 100MM तक की बारिश हुई. 12 तालुकों में 150 MM तक बारिश हुई. अब मौसम विभाग ने कहा है कि तूफान कमजोर पड़ चुका है लेकिन इसके पहले ही ये काफी तबाही मचा चुका है. तूफान की वजह से गुजरात के राजकोट, भावनगर, पाटन, अमरेली और वलसाड में लोगों की मौत हुई है.

पीएम मोदी बुधवार को सुबह 11 बजकर 30 मिनट तक भावनगर के एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे. यहां से वह भावनगर, अमरेली, गिर, सोमनाथ और दीव का हवाई सर्वेक्षण करेंगे. ये वही इलाके हैं, जहां चक्रवाती तूफान टाउते ने सबसे ज्यादा नुकसान किया है. हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम अहमदाबाद पहुंचेंगे और यहां गुजरात के सीएम और आला अधिकारियों के साथ बैठक में हिस्सा लेंगे.

मौसम विभाग ने बताया कि टाउते गुजरात के तट से 'बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान' के तौर पर आधी रात के करीब गुजरा और धीरे-धीरे कमजोर होकर 'गंभीर चक्रवाती तूफान' व बाद में और कमजोर होकर अब 'चक्रवाती तूफान' में बदल गया.


प्रदेश के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि 16000 से ज्यादा घरों को नुकसान पहुंचा, 40 हजार से ज्यादा पेड़ और 70 हजार से ज्यादा बिजली के खंभे उखड़ गए जबकि 5951 गांवों में बिजली चली गई.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज